UPSC की मुख्य परीक्षा कल से शुरू, परीक्षार्थी इन महत्वपूर्ण बातों का रखें ध्यान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली: यूपीएससी की सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा 20 सितंबर को निर्मला कॉलेज में आयोजित होगी. 20 से 22 सितंबर और 28 से 29 सितंबर तक आयोजित होनेवाली इस परीक्षा के लिए कॉलेज में ही दो केंद्र बनाये गये हैं.

परीक्षा को कदाचार मुक्त करने के लिए जिला प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है. इसके तहत परीक्षा केंद्रों में चार जोनल मजिस्ट्रेट और एक स्ट्रैटिक मजिस्ट्रेट मौजूद रहेंगे. वहीं पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की भी तैनाती की जाएगी. किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी ना हो इसके लिए पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की गयी है.

परीक्षा दो पालियों में होगी. पहली पाली सुबह 9.00 बजे से 12.00 बजे और दूसरी पाली 2.00 बजे से 5.00 बजे तक होगी. इसके तहत एसडीओ सदर को विधि व्यवस्था का संपूर्ण प्रभार दिया गया है. वे परीक्षा केंद्र में औचक निरीक्षण भी करेंगे. शेड्यूल के अनुसार प्रत्येक दिन दो पेपर की परीक्षा होगी.

धैर्य बनाए रखें परीक्षार्थी: चाणक्य आइएएस एकेडमी के वाइस प्रेसिडेंड विनय मिश्रा ने अभ्यर्थियों को परीक्षा से पहले धैर्य बनाये रखने की बात कही है. उन्होंने कहा कि अभ्यर्थियों को रचनात्मक गुण से प्रश्नों काे समझने की जरूरत है. ऐसे में सिलेबस का गहन अध्ययन काम आयेगा. सिलेबस के साथ-साथ पूर्व में पूछे गये प्रश्नों की जानकारी होनी जरूरी है. इसके अलावा समय प्रबंधन पर विशेष रूप से ध्यान देने की जरूरत है, ताकि कम समय में विद्यार्थी ज्यादा से ज्यादा और सटीक प्रश्नों को हल कर सकें.

वैकल्पिक विषय का महत्व समझें: विनय मिश्रा ने विद्यार्थियों से परीक्षा के दौरान भी नियमित न्यूज पेपर पढ़ने और समसामायिक घटनाओं पर नजर रखने की बात कही है. जिससे अभ्यर्थी उलझाने वाले प्रश्नों को भी आसानी से हल कर सकेंगे.

विनय मिश्रा ने यूपीएससी परीक्षा में शामिल हो रहे अभ्यर्थियों को वैकल्पिक विषय को गंभीरता से लेने की बात कही. ऐसे में चयनित विषय की तैयारी के लिए एनसीइआरटी किताबों की मदद लेने की जरूरत है. इससे बेसिक नाॅलेज मजबूत होने के साथ-साथ अतिरिक्त अध्ययन के लिए जरूरत टॉपिक की भी जानकारी मिलेगी.

खुद के नोट्स पर रखें भरोसा: यूपीएससी की तैयारी के लिए अभ्यर्थी खुद के बनाये नोट्स पर भरोसा रखें. विषयवार नोट्स तैयार रखने से परीक्षा में शॉर्ट नोट्स स्टडी में मदद मिलती है. इससे रिवीजन भी करना आसान होता है. परीक्षा के दौरान भाषा पर नियंत्रण रखना जरूरी है. साथ ही प्रश्न के उत्तर में उदाहरण और व्यावहारिक पक्ष रखना जरूरी है. फैक्ट और फिगर की सटीकता जरूरी है.

896 पदों के लिए होगी परीक्षा

मेंस की परीक्षा 1750 अंकों की होती है, जिसमें विषय आधारित प्रश्न पूछे जायेंगे. मेंस में पास होनेवालों को ही इंटरव्यू के लिए बुलाया जायेगा. 896 पद के लिए 11,845 विद्यार्थी परीक्षा देंगे. आधिकारिक नोटिफिकेशन के अनुसार यूपीएससी ने इस बार 896 पदों पर नियुक्ति निकाली है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें