गोडसे को देशभक्त बताना पूरे देश का अपमान, माफी मांगें प्रधानमंत्री : कांग्रेस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त करार दिये जाने से जुड़े कथित बयान को लेकर कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को भगवा दल पर तीखा हमला बोला और दावा किया इससे सत्तारूढ़ दल का हिंसक चेहरा सामने आ गया है.

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि प्रज्ञा का बयान पूरे देश का अपमान है और इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को माफी मांगनी चाहिए. सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, एक बात तो साफ हो गयी कि भाजपाई गोडसे के सच्चे वंशज हैं. हिंसा की संस्कृति और शहीदों का अपमान..., यह है भाजपाई डीएनए. उन्होंने दावा किया, भाजपा का हिंसक चेहरा बेनकाब हो गया. आज फिर बापू की विचारधारा पर भाजपाई प्रहार हुआ. प्रज्ञा ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त बताकर पूरे देश का अपमान किया है. यह एक ऐसा अक्षम्य अपराध है जिसे देश कभी माफ नहीं कर सकता. सुरजेवाला ने कहा, हाल ही में प्रज्ञा ने शहीद हेमंत करकरे को देशद्रोही बताया था और उन्हें श्राप देने की बात की थी. प्रधानमंत्री मोदी ने कोई कार्रवाई करने की बजाय उसकी पीठ थपथपाई.

उन्होंने कहा, यही नहीं, कुछ महीने पहले बापू के बलिदान दिवस पर संघ परिवार से जुड़े एक संगठन ने गांधी की हत्या का एयरगन से फिर से चित्रण करने का प्रयास किया. लेकिन, उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने इस पर मूक सहमति जतायी. उन्होंने कहा, मोदी जी और अमित शाह जी, प्रज्ञा को दंडित करिये और देश से माफी मांगिये. खबरों के मुताबिक, अभिनेता कमल हासन के 'हिन्दू आतंकवादी वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रज्ञा ने कथित तौर पर कहा कि 'नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त ही रहेंगे.'

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें