1. home Hindi News
  2. life and style
  3. national civil service day 2022 history and importance and prime ministers award of national public service day sry

National Civil Service Day 2022: आज है राष्ट्रीय लोक सेवा दिवस, जानें इसका इतिहास अन्य महत्वपूर्ण जानकारी

21 अप्रैल को नागरिक सेवा दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस दिन सरदार वल्लभ भाई पटेल ने अखिल भारतीय सेवाओं का उद्घाटन किया था. दिल्ली के मेटकाफ हाउस में उन्होंने सिविल सेवकों को अतीत के अनुभव पीछे छोड़ राष्ट्रीय सेवा को अच्छे से करने की भावना पर भाषण दिया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
National Civil Service Day 2022
National Civil Service Day 2022
Prabhat Khabar Graphics

National Civil Service Day 2022: साल 2006 से 21 अप्रैल को नागरिक सेवा दिवस (Civil Services Day) के रूप में मनाया जाता है. यह दिन उन लोक सेवकों को समर्पित है जो कि देश की प्रगति के लिए कार्य करते हैं, साथ ही नीति निर्माण में भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं. इस दिन लोक प्रशासन में विशिष्टता के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार भी दिए जाते हैं.

राष्ट्रीय नागरिक सेवा दिवस का इतिहास

21 अप्रैल को सरदार वल्लभ भाई पटेल ने अखिल भारतीय सेवाओं का उद्घाटन किया था. दिल्ली के मेटकाफ हाउस में उन्होंने सिविल सेवकों को अतीत के अनुभव पीछे छोड़ राष्ट्रीय सेवा को अच्छे से करने की भावना पर भाषण दिया. इस दिन उन्होंने सिविल सर्वेंटों को देश की स्टील फ्रेम कहकर संबोधित किया था. 2006 में इसी दिन एक विशाल समारोह सिविल सर्वेंटों के लिए आयोजित किया गया था. इसके बाद से प्रतिवर्ष 21 अप्रैल को राष्ट्रीय लोक सेवा दिवस के रूप में मनाया जाने लगा.

सिविल सेवा अधिकारी कौन होते है?

भारतीय प्रशासनिक सेवा, (आईएएस IAS), भारतीय पुलिस सर्विस (IPS आईपीएस), भारतीय विदेश सेवा, (IFS आईएफएस) और अखिल भारतीय सेवाओं और केंद्रीय सेवा समूह अ और ब के अधिकारी सिविल सेवा अधिकारी कहलाते है. इनमें नियुक्ति के लिए भारत में लाखों विद्यार्थी परीक्षा देते हैं. यह सभी परीक्षाएं भारतीय लोक सेवा आयोग (UPSC) के द्वारा आयोजित कराई जाती हैं. जिनमें चयन होने के बाद आगे विद्यार्थियों को ट्रेनिंग दी जाती है.

इस दिन अधिकारियों को किया जाता है सम्मानित

राष्ट्रीय लोक सेवा दिवस के अवसर पर केंद्र और राज्य सरकार के अधिकारियों को उनके द्वारा वर्षभर में किए गए असाधारण कार्यों के लिए सम्मानित किया जाता है. इस दिन अधिकारी मिलकर आने वाले सालों की योजना पर भी विचार करते हैं एवं उनपर विभिन्न मतों को प्रकट करते हैं.

राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाने का उद्देश्य

  • सिविल सेवा अधिकारियों के कार्य और प्रयासों को प्रेरित करना और उनकी सराहना करना.

  • केंद्र सरकार सबसे अच्छा काम करने वाले व्यक्तियों और समूहों को पुरस्कार देती है.

  • केंद्र सरकार इस अवसर का उपयोग सिविल सेवाओं के तहत विभिन्न विभागों के काम का मूल्यांकन करने के लिए करती है.

  • इस दिन ज्यादातर केंद्र और राज्य सरकारों के अधिकारियों को भारत के प्रधानमंत्री द्वारा लोक प्रशासन के क्षेत्र में उनकी असाधारण सेवाओं के लिए सम्मानित किया जाता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें