25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Vastu Tips: स्वस्थ, सुखी जीवन के लिए अपनाएं वास्तु के ये 10 टिप्स

इस भागदौड़ वाली जींदगी के बाद हम मानसिक शांति और आराम पाने के लिए घर पर रहना ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन घर की वास्तु स्थित सही हो तो किसी तरह की परेशानी नहीं होती है. इसके लिए आज आपको अपने घर से जुड़े वास्तु टिप्स को जानना बेहद जरूरी है.

वास्तु के ये 10 टिप्स

दुनिया भर में सबसे ज्यादा चर्चा का विषय स्वास्थ्य है. हर कोई स्वस्थ और सुरक्षित रहने के लिए अलग-अलग तरीकों की तलाश में है. ऐसे में मानसिक शांति और आराम पाने के लिए घर पर रहना ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन घर की वास्तु स्थित सही हो तो किसी तरह की परेशानी नहीं होती है. इसके लिए आज आपको अपने घर से जुड़े वास्तु टिप्स को जानना बेहद जरूरी है. वास्तु आपके और आपके प्रियजनों के लिए एक उपयोगी उपकरण साबित हो सकता है.

घर में पौधों से बेहतर कुछ नहीं

घर के अंदर के वातावरण को शुद्ध करने और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए घर में पौधों से बेहतर कुछ नहीं है – वे आपके परिवेश को जीवंत बनाने में मदद करते हैं. वास्तु-सत्यापित किस्मों में से कुछ तुलसी या तुलसी, एलोवेरा, पोथोस या मनी प्लांट और एरेका पाम हैं.

गुलाबी सेंधा नमक

गुलाबी सेंधा नमक घर के अंदर के वातावरण को प्रभावी ढंग से बेहतर बना सकता है. इन क्रिस्टलों में मौजूद शक्तिशाली वायु तत्व नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करता है. अपने कमरे के चारों कोनों में सेंधा नमक की एक कटोरी रखें. नमक का उपयोग सप्ताह में एक बार फर्श को साफ करने के लिए भी किया जा सकता है. यह किसी भी वायुजनित वायरस और बैक्टीरिया को साफ करने में मदद करता है.

Also Read: World Human Rights Day 2023 Wishes: विश्व मानवाधिकार दिवस पर यहां से भेजें कोट्स, संदेश और शुभकामनाएं
पानी की बचत

वास्तु के अनुसार, पानी स्वास्थ्य और धन का एक बड़ा स्रोत है और इसकी बर्बादी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती है. पक्षियों और आवारा जानवरों के लिए पानी से भरा कटोरा रखना एक बेहतरीन वास्तु उपाय है, और यह आपकी सेहत पर सकारात्मक प्रभाव डालेगा.

भोजन को सही दिशा में रखें

अनाज और अन्य भोजन को रसोई की दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखना चाहिए क्योंकि यह सौभाग्य और समृद्धि को आमंत्रित करता है और परिणामस्वरूप स्वस्थ भोजन की आदतों को बढ़ावा देता है जो समय की आवश्यकता है.

घर में कपूर जलाएं

सप्ताह में कम से कम एक बार घर में कपूर जलाने से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है. नीम या लेमनग्रास का मिश्रण प्रभावी ढंग से हवा को शुद्ध कर सकता है.

Also Read: Vastu Tips: वास्तु के अनुसार अपने बाथरूम में नहीं छोड़ना चाहिए गंदा पानी, जानिए कारण
रोशनी वाला प्रवेश द्वार

रोशनी वाला प्रवेश द्वार, चाहे प्राकृतिक या कृत्रिम रूप से, घर के भीतर सकारात्मकता की भावना सुनिश्चित करता है. प्रवेश द्वार के बगल में एक खिड़की के संरचनात्मक समावेशन से, या प्रवेश द्वार के बाहर लैंप या दीया रखकर पर्याप्त रोशनी प्राप्त की जा सकती है.

Also Read: Vastu Tips: अगर बना रहे हैं नया घर, तो इस दिशा में बनवाएं बालकनी; खुशियों की होगी बरसात

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

Vastu Tips: स्वस्थ, सुखी जीवन के लिए अपनाएं वास्तु के ये 10 टिप्स

इस भागदौड़ वाली जींदगी के बाद हम मानसिक शांति और आराम पाने के लिए घर पर रहना ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन घर की वास्तु स्थित सही हो तो किसी तरह की परेशानी नहीं होती है. इसके लिए आज आपको अपने घर से जुड़े वास्तु टिप्स को जानना बेहद जरूरी है.

वास्तु के ये 10 टिप्स

दुनिया भर में सबसे ज्यादा चर्चा का विषय स्वास्थ्य है. हर कोई स्वस्थ और सुरक्षित रहने के लिए अलग-अलग तरीकों की तलाश में है. ऐसे में मानसिक शांति और आराम पाने के लिए घर पर रहना ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन घर की वास्तु स्थित सही हो तो किसी तरह की परेशानी नहीं होती है. इसके लिए आज आपको अपने घर से जुड़े वास्तु टिप्स को जानना बेहद जरूरी है. वास्तु आपके और आपके प्रियजनों के लिए एक उपयोगी उपकरण साबित हो सकता है.

घर में पौधों से बेहतर कुछ नहीं

घर के अंदर के वातावरण को शुद्ध करने और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए घर में पौधों से बेहतर कुछ नहीं है – वे आपके परिवेश को जीवंत बनाने में मदद करते हैं. वास्तु-सत्यापित किस्मों में से कुछ तुलसी या तुलसी, एलोवेरा, पोथोस या मनी प्लांट और एरेका पाम हैं.

गुलाबी सेंधा नमक

गुलाबी सेंधा नमक घर के अंदर के वातावरण को प्रभावी ढंग से बेहतर बना सकता है. इन क्रिस्टलों में मौजूद शक्तिशाली वायु तत्व नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करता है. अपने कमरे के चारों कोनों में सेंधा नमक की एक कटोरी रखें. नमक का उपयोग सप्ताह में एक बार फर्श को साफ करने के लिए भी किया जा सकता है. यह किसी भी वायुजनित वायरस और बैक्टीरिया को साफ करने में मदद करता है.

Also Read: World Human Rights Day 2023 Wishes: विश्व मानवाधिकार दिवस पर यहां से भेजें कोट्स, संदेश और शुभकामनाएं
पानी की बचत

वास्तु के अनुसार, पानी स्वास्थ्य और धन का एक बड़ा स्रोत है और इसकी बर्बादी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती है. पक्षियों और आवारा जानवरों के लिए पानी से भरा कटोरा रखना एक बेहतरीन वास्तु उपाय है, और यह आपकी सेहत पर सकारात्मक प्रभाव डालेगा.

भोजन को सही दिशा में रखें

अनाज और अन्य भोजन को रसोई की दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखना चाहिए क्योंकि यह सौभाग्य और समृद्धि को आमंत्रित करता है और परिणामस्वरूप स्वस्थ भोजन की आदतों को बढ़ावा देता है जो समय की आवश्यकता है.

घर में कपूर जलाएं

सप्ताह में कम से कम एक बार घर में कपूर जलाने से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है. नीम या लेमनग्रास का मिश्रण प्रभावी ढंग से हवा को शुद्ध कर सकता है.

Also Read: Vastu Tips: वास्तु के अनुसार अपने बाथरूम में नहीं छोड़ना चाहिए गंदा पानी, जानिए कारण
रोशनी वाला प्रवेश द्वार

रोशनी वाला प्रवेश द्वार, चाहे प्राकृतिक या कृत्रिम रूप से, घर के भीतर सकारात्मकता की भावना सुनिश्चित करता है. प्रवेश द्वार के बगल में एक खिड़की के संरचनात्मक समावेशन से, या प्रवेश द्वार के बाहर लैंप या दीया रखकर पर्याप्त रोशनी प्राप्त की जा सकती है.

Also Read: Vastu Tips: अगर बना रहे हैं नया घर, तो इस दिशा में बनवाएं बालकनी; खुशियों की होगी बरसात

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें