1. home Home
  2. health
  3. heart attack in bathroom due what reason expert reveals cardiac arrest symptoms causes prevention in washroom see you also doing these mistakes smt

Heart Attack In Bathroom: तो इसलिए बाथरूम में ही होता है हार्ट अटैक, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती, जानें

आजकल हार्ट अटैक के मामलों में बढ़ोत्तरी हुई है. ताजुब वाली बात यह है कि ज्यादातर हार्ट अटैक बाथरूम में हो रही है. कुछ लोग इसे कोरोना का पोस्ट इफेक्ट बता रहे हैं. लेकिन, विशेषज्ञों ने बताया बाथरूम में हार्ट अटैक आने का सही कारण. आइये जानते हैं....

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Heart Attack In Bathroom, Reason
Heart Attack In Bathroom, Reason
Prabhat Khabar Graphics

Heart Attack In Bathroom, Reason, Symptoms: आजकल हार्ट अटैक के मामलों में बढ़ोत्तरी हुई है. ताजुब वाली बात यह है कि ज्यादातर हार्ट अटैक बाथरूम में हो रही है. कुछ लोग इसे कोरोना का पोस्ट इफेक्ट बता रहे हैं. लेकिन, विशेषज्ञों ने बताया बाथरूम में हार्ट अटैक आने का सही कारण. आइये जानते हैं....

बाथरूम में हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा

दरअसल, विशेषज्ञों की मानें तो हार्ट अटैक के ज्यादा मामले उन्हीं में सामने आ रहे है जिन्हें पहले से दिल संबंधी बीमारी है. आपको बता दें कि अमेरिकी संस्था NCBI की रिपोर्ट की मानें तो 11 प्रतिशत से ज्यादा हार्ट अटैक के केस बाथरूम से पाए जा रहे है. जिसमें मरीजों की मौत भी हो जा रही है. उनके रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ है कि बाथरूम में हार्ट अटैक का खतरा अन्य स्थानों से अधिक भी होता है.

क्या है बाथरूम में हार्ट अटैक का मुख्य कारण

  • विशेषज्ञों के मुताबिक इसका सबसे बड़ा कारण है बॉडी के अनुसार स्नान नहीं करना.

  • कई लोग ठंड के मौसम में भी ज्यादा ठंडे पानी से नहाना अपनी बाहुदरी समझते है.

  • इसके अलावा कुछ लोग नहाते समय ज्यादा तेज एक्टिविटी करते हैं या चलते हैं. ऐसा करने से भी हार्ट पर स्ट्रेस बढ़ता है और हार्ट अटैक का कारण बनता है.

  • विशेषज्ञों की मानें तो आराम से नहाना चाहिए. साथ ही साथ बॉडी तापमान के हिसाब से ही ठंडा या गर्म पानी का चुनाव करना चाहिए.

  • जिन्हें पहले से ही कब्ज (Constipation) की शिकायत भी हो उन्हें पेट साफ करते समय भी ज्यादा जोर लगाना पड़ रहा है तो यह उनपर भारी पड़ सकता है. हार्ट अटैक का कारण बन सकता है.

  • अंग्रेजी वेबसाइट हेल्थलाइन डॉट कॉम में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक धड़कन की अनियमितता, फ्रेश होने की समस्या या पेट की खराबी अथवा ठंडे पानी से नहाना और सबसे अहम है तनाव लेने से भी कार्डिएक अरेस्ट का खतरा बढ़ जाता है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें