1. home Home
  2. health
  3. coronavirus updates today covid19 case india third wave latest news corona new variant mu amh

Coronavirus Updates : तीसरी लहर लाएगा कोरोना का नया वैरिएंट ‘म्यू’ ? वैक्सीन भी इसपर है बेअसर

डब्ल्यूएचओ ने महामारी पर अपने साप्ताहिक बुलेटिन में कहा कि ‘म्यू’ को ‘वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट’ के रूप में वर्गीकृत करने का काम किया गया है. यह वैरिएंट कई म्यूटेशन का जोड़ है, जो वैक्सीन से बनी प्रतिरक्षा से बचने में कारगर है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus Updates
Coronavirus Updates
pti

Coronavirus Updates : कोरोना संक्रमण का खतरा भारत में एक बार फिर बढ़ता नजर आ रहा है. पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के मामले 40 हजार के पार आ रहे हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ‘म्यू’ पर चिंता जताई है. संगठन का कहना है कि यह कई म्यूटेशन का जोड़ है. वैक्सीन लेने के बाद भी आप इसकी चपेट में आ सकते हैं. इस वैरिएंट की बात करें तो यह जनवरी, 2021 में पहली बार कोलंबिया में मिला था जिसका वैज्ञानिक नाम बी.1621 है.

डब्ल्यूएचओ ने महामारी पर अपने साप्ताहिक बुलेटिन में कहा कि ‘म्यू’ को ‘वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट’ के रूप में वर्गीकृत करने का काम किया गया है. यह वैरिएंट कई म्यूटेशन का जोड़ है, जो वैक्सीन से बनी प्रतिरक्षा से बचने में कारगर है. यानी इसके म्यूटेशन कोरोना के खिलाफ वैक्सीन लगवाने के बाद भी शरीर को संक्रमित कर सकते हैं. यह वैरिएंट अपना रूप बदल रहा है. इसे बेहतर ढंग से समझने के लिए रिसर्च करने की जरूरत है.

यहां राहत की बात यह है कि चिंताजनक बताया जा रहा कोरोना का म्यू वैरिएंट अब तक भारत में नहीं पाया गया है. इसके अलावा एक और म्यूटेशन सी.1.2 का कोई केस भी भारत में देखने को नहीं मिला है.

तीसरी लहर का खतरा : इधर कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने लोगों से वैक्सीन लगवाने और घर पर ही त्योहारों को मनाने की अपील की है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि हमें बड़े पैमाने पर लोगों को जुटने से बचना चाहिए. यदि ऐसा करना जरूरी हो, तो ध्यान रखें कि त्योहार में शामिल होने वाले सभी लोगों का टीकाकरण हो चुका हो. मंत्रालय ने टीकाकरण कराने और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने की बात कही है. सरकार ने कहा कि टीका लगवाने के बाद भी लोगों को भीड़भाड़ से बचना चाहिए. केंद्र ने कहा कि यह सही है कि साप्ताहिक संक्रमण दर में कमी देखने को मिल रही है, लेकिन अब भी कोरोना की दूसरी लहर हमारे बीच से गयी नहीं है.

ब्रिटेन समेत 10 देशों से आनेवालों का आरटी-पीसीआर टेस्ट जरूरी : कोरोना के नये वैरिएंट सी.1.2 के सामने आने के बाद महाराष्ट्र और कर्नाटक की सरकारें अलर्ट हो गयी हैं. दोनों सरकारों ने राज्य के हवाई अड्डों पर आने वाले विदेशी यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया है, भले ही उनके पास कोविड-19 की निगेटिव रिपोर्ट हो. बीएमसी ने कहा है कि तीन सितंबर से आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य होगा.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें