25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Rajasthan Assembly Election 2023 Result: लाल डायरी से भगवा रंग में रंगा राजस्थान! BJP को स्पष्ट बहुमत

Rajasthan Assembly Election 2023 Result - विधानसभा के लिए हुए चुनावों में कांग्रेस की हार और भाजपा की जीत में 'लाल डायरी' से का भी बड़ा योगदान है. यह वही लाल डायरी है, जिसने कुछ पन्नों को सार्वजनिक करके कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने गहलोत सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया...

Rajasthan Assembly Election Result 2023 : राजस्थान चुनाव में भाजपा को बंपर बढ़त मिलती दिख रही है. राज्य की विधानसभा के लिए हुए चुनावों में कांग्रेस की हार और भाजपा की जीत में ‘लाल डायरी’ से का भी बड़ा योगदान है. यह वही लाल डायरी है, जिसने कुछ पन्नों को सार्वजनिक करके कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने गहलोत सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया था.

लाल डायरी की वजह से कमजोर पड़ गई कांग्रेस?

राजस्थान में 25 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती चल रही है. रुझानों की मानें, तो भाजपा राज्य में स्पष्ट बहुमत के साथ जीत की ओर बढ़ रही है. जहां कांग्रेस पार्टी और राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस बार सत्ता बरकरार रखने की बात कह रहे थे, वहीं ये परिणाम उनके लिए झटका साबित हो रहे हैं. बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि क्या कांग्रेस इस विधानसभा चुनाव में लाल डायरी की वजह से कमजोर पड़ गई?

Also Read: Assembly Election 2023 LIVE Results: विधानसभा चुनाव के नतीजे देखें ऑनलाइन, काम आयेंगे ये प्लैटफॉर्म्स

लाल डायरी के अलावा इन मुद्दों ने भी डुबोयी कांग्रेस की लुटिया

पूरे चुनाव में लाल डायरी का मुद्दा बार-बार सामने आता रहा. गहलोत के मंत्री रहे राजेंद्र गुढ़ा ने लाल डायरी में सरकार के अवैध हिसाब होने की बात कही थी. भाजपा ने इस लाल डायरी के मुद्दे को पूरे चुनाव में जोर-शोर से उठाया. इसके अलावा, राजस्थान कांग्रेस पर 5 साल के कार्यकाल में गुटबाजी हावी रही. सचिन पायलट और अशोक गहलोत के समर्थक लगातार एक दूसरे पर हमलावर रहे. टिकट बंटवारे से भी कई पार्टी नेता नाखुश रहे. यही नहीं, राजस्थान में लंबे समय से सरकार भर्ती के पेपर लीक का मुद्दा गरम रहा है. वहीं, उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या के बाद कांग्रेस पर राज्य में तुष्टिकरण की राजनीति करने के भी आरोप लगे. इन मुद्दों को भाजपा ने खूब भुनाया और कांग्रेस सरकार को पूरे कार्यकाल के दौरान घेरे रखा.

Also Read: Assembly Election 2023: EVM से कैसे होती है मतगणना? जानिए इससे जुड़े हर सवाल का जवाब

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

Rajasthan Assembly Election 2023 Result: लाल डायरी से भगवा रंग में रंगा राजस्थान! BJP को स्पष्ट बहुमत

Rajasthan Assembly Election 2023 Result - विधानसभा के लिए हुए चुनावों में कांग्रेस की हार और भाजपा की जीत में 'लाल डायरी' से का भी बड़ा योगदान है. यह वही लाल डायरी है, जिसने कुछ पन्नों को सार्वजनिक करके कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने गहलोत सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया...

Rajasthan Assembly Election Result 2023 : राजस्थान चुनाव में भाजपा को बंपर बढ़त मिलती दिख रही है. राज्य की विधानसभा के लिए हुए चुनावों में कांग्रेस की हार और भाजपा की जीत में ‘लाल डायरी’ से का भी बड़ा योगदान है. यह वही लाल डायरी है, जिसने कुछ पन्नों को सार्वजनिक करके कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने गहलोत सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया था.

लाल डायरी की वजह से कमजोर पड़ गई कांग्रेस?

राजस्थान में 25 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती चल रही है. रुझानों की मानें, तो भाजपा राज्य में स्पष्ट बहुमत के साथ जीत की ओर बढ़ रही है. जहां कांग्रेस पार्टी और राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस बार सत्ता बरकरार रखने की बात कह रहे थे, वहीं ये परिणाम उनके लिए झटका साबित हो रहे हैं. बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि क्या कांग्रेस इस विधानसभा चुनाव में लाल डायरी की वजह से कमजोर पड़ गई?

Also Read: Assembly Election 2023 LIVE Results: विधानसभा चुनाव के नतीजे देखें ऑनलाइन, काम आयेंगे ये प्लैटफॉर्म्स

लाल डायरी के अलावा इन मुद्दों ने भी डुबोयी कांग्रेस की लुटिया

पूरे चुनाव में लाल डायरी का मुद्दा बार-बार सामने आता रहा. गहलोत के मंत्री रहे राजेंद्र गुढ़ा ने लाल डायरी में सरकार के अवैध हिसाब होने की बात कही थी. भाजपा ने इस लाल डायरी के मुद्दे को पूरे चुनाव में जोर-शोर से उठाया. इसके अलावा, राजस्थान कांग्रेस पर 5 साल के कार्यकाल में गुटबाजी हावी रही. सचिन पायलट और अशोक गहलोत के समर्थक लगातार एक दूसरे पर हमलावर रहे. टिकट बंटवारे से भी कई पार्टी नेता नाखुश रहे. यही नहीं, राजस्थान में लंबे समय से सरकार भर्ती के पेपर लीक का मुद्दा गरम रहा है. वहीं, उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या के बाद कांग्रेस पर राज्य में तुष्टिकरण की राजनीति करने के भी आरोप लगे. इन मुद्दों को भाजपा ने खूब भुनाया और कांग्रेस सरकार को पूरे कार्यकाल के दौरान घेरे रखा.

Also Read: Assembly Election 2023: EVM से कैसे होती है मतगणना? जानिए इससे जुड़े हर सवाल का जवाब

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें