1. home Hindi News
  2. business
  3. up mahila samarthya yojana special scheme yogi government know how to take benefits up budget employment mahilao ko rojgar prt

अब महिलाओं के पास होगा अपना रोजगार, योगी सरकार जल्द शुरू कर रही है यह खास योजना, जानें कैसे लेना है लाभ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
UP Mahila Samarthya Yojana 2021: सरकार जल्द शुरू कर रही है यह खास योजना
UP Mahila Samarthya Yojana 2021: सरकार जल्द शुरू कर रही है यह खास योजना
Social Media

UP Mahila Samarthya Yojana 2021: उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government of UP) वित्‍तीय वर्ष 2021-22 के लिए पेश किए गये बजट में महिलाओं के लिए महिला सामर्थ्‍य योजना की शुरूआत की है. योजना के संचालन के लिए बजट में 200 करोड़ रुपये का भी सरकार ने प्रावधान किया है. इसके अलावा मुख्‍यमंत्री कन्‍या सुमंगला योजना में और बदलाव कर उसे नये सिरे से पेश करने की भी बात कही है.

उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि, "वित्‍तीय वर्ष 2021-2022 से महिला सामर्थ्‍य योजना के नाम से नई योजना शुरू की जाएगी और इसके लिए बजट में 200 करोड़ रुपये की व्‍यवस्‍था की गई है.'' बता दें, इस योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के लिए जागरुक किया जाएगा. साथ ही स्थानीय संसाधनों के इस्तेमाल के साथ उनके जीवन स्तर मैं सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा. इसके साथ ही बाजार भी उपलब्ध कराया जाएगा.

यूपी महिला सामर्थ्य योजना का उद्देश्य: यूपी महिला सामर्थ्य योजना का मुख्य मकसद महिलाओं का कल्याण और उनका सशक्तिकरण है. इस योजना के तहत महिलाओं को रोजगार से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है. जिसके लिए महिलाओं को विभिन्न प्रकार का प्रशिक्षण दिए जाएंगे. योजना का मकसद है प्रदेश की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना और प्रदेश में औद्योगिक क्षेत्र विकास करना.

यूपी महिला सामर्थ्य योजना के लिए कैसे करें आवेदन: यूपी महिला सामर्थ्य योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया अभी शुरू नहीं हुई है. आदेलन के लिए अभी लोगों को कुछ दिन इंतजार करना पड़ेगा. क्योंकि सरकार ने अभी सिर्फ योजना की घोषणा की है. ऐसे में उम्मीजद की जा रही है कि जल्द ही सरकार आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर देगी.

वहीं, यूपी में महिलाओं एवं बच्‍चों में कुपोषण की समस्‍या को देखते हुए मुख्‍यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना भी शुरू कर रही है. इस योजना को वित्‍तीय वर्ष 2021-22 में शुरू की जाएगी. उन्होंने बताया कि इसके लिए 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. साथ ही पुष्‍टाहार कार्यक्रम के लिए 4,094 करोड़ रुपये औऱ राष्‍ट्रीय पोषण अभियान के लिए 415 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें