1. home Hindi News
  2. business
  3. sensex hits 50k today get latest news on bombay stock exchange and share market and what is updated share price rjn

Share Bazar का यूं छलांग मारना किसी खतरे की आहट तो नहीं, जानिए क्या कह रहे एक्सपर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
BSE
BSE
Prabhat Khabar

Bombay Stock Exchange सेंसेक्स ने पहली बार 50,000 का आंकड़ा पार करते हुए इतिहास रच दिया है. इस दौरान बीएसई लिस्‍टेड कंपनियों का मार्केट कैप (Market capitalization)भी 199 लाख करोड़ पहुंच गया है. 1.5 महीने में ही सेंसेक्‍स में करीब 5 हजार अंकों की तेजी आ चुकी है.

एक्‍सपर्ट मान रहे हैं कि बाजार का यह वैल्‍यूएशन बहुत अधिक हो गया है. बाजार में जैसी तेजी है, वैसी रिकवरी अर्थव्यवस्था में नहीं है .निवेशकों को ऐसे में अब एक मजबूत ट्रिगर का इंतजार करना चाहिए. एक भी निगेटिव ट्रिगर बाजार में गिरावट ला सकता है. आने वाले दिनों में कॉरपोरेट अर्निंग और अहम रोल प्‍ले कर सकते हैं.

BSE सेंसेक्स 50 हजार का आकड़ा पार करने का जश्न मना रहा है, साथ ही सावधानी भी दिख रही है. आइए जानते हैं इस तेजी के बारे में बाजार से जुड़े लोग और एक्सपर्ट्स का क्या कहना है.

मार्च के लो से Investors की 95 लाख करोड़ बढ़ी दौलत

Financial Express ने बताया कि कारोना वायरस महामारी के चलते पिछले साल शेयर बाजार अपने निचले स्तर पर आ गया था. सेंसेक्स ने 24 मार्च को 25, 639 का स्तर को टच किया था. वहीं, 21 जनवरी 2021 को यह 50,100 को पार कर गया. इस दौरान बीएसई लिस्टेाड कंपनियों का मार्केट कैप (Market capitalization) करीब 95 लाख करोड़ बढ़ गई. 24 मार्च 2020 को मार्केट कैप (Market capitalization) 1,03,69,706 करोड़ था, जो 21 जनवरी 2021 को बढ़कर 1,98,82,400 करोड़ के आस पास पहुंच गया.

एमके ग्‍लोबल मैनेजमेंट के रिसर्च हेड, डॉ जोसेफ थॉमस का कहना है कि शेयर बाजार में जोरदार तेजी के पीछे कई बड़ी वजह रही हैं. 50 हजार के स्‍तर पर वैल्‍यूएशन अब ज्‍यादा दिख रहा है. अगर कंपनियों की अर्निंग बेहतर नहीं रहती है तो यह वैल्‍यूएशन बाजार के लिए रिस्‍क बन सकता है.

  • सेंट्रल बैंक ने बढ़ाई लिक्विडिटी

  • विदेशी निवेशक बाजार में लगातार डाल रहे पैसे

  • कोरोना वैक्‍सीन आने से बाजार की वी शेप में रिकवरी

  • यूएस में हुए सत्ता परिवर्तन से बाजार को मिला नया ट्रिगर

  • हाई वैल्यूएशन बन सकता है रिस्‍क

एंजेल ब्रोकिंग के चीफ एनालिस्‍ट का कहना है कि यहां से निवेशकों को स्‍टॉक स्‍पेसिफिक रहने की सलाह है. निवेशकों को पैसा लगाने के पहले उन सेक्‍टर्स की पहचान करना चाहिए, जिनमें आगे तेजी बने रहने का अनुमान है. ट्रेडर्स को समयानुसार एग्जिट पर ध्‍यान रखना चाहिए.

Economic Times के अनुसार, कोटक एएमसी के ग्रुप प्रेसिडेंट एंड एमडी नीलेश शाह ने बोले- यह एक सफर है. मैंने सेंसेक्स को तीन से चार हजार और फिर 10 हजार तक जाते देखा है. अब यह 50 हजार अंक पर पहुंच गया है. यह हमेशा जारी रहने वाले सफर में सिर्फ एक मील का पत्थर है. उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि बाजार बहुत ज्यादा महंगा (Overvalued) है.

बाजार के लिए खतरे की घंटी ?

ब्‍लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह कहा गया था. आर्थिक सुस्‍ती के बाद भी शेयर बाजार का हाई वैल्‍यूएशन खतरे ‍की घंटी है. कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट के मैनेजिंग डायरेक्‍टर निलेश शाह का कहना है कि इंटरेस्‍ट रेट कम होने और लिक्विडिटी (Market liquidity )बढ़ने से इक्विटी मार्केट को सपोर्ट मिला है. लेकिन आगे रिवर्स डायरेक्‍शन भी दिख सकता है. वहीं, एक्‍सपर्ट यह भी मान रहे हैं कि बजट में एक भी निगेटिव ट्रिगर बाजार सेंटीमेंट को कमजोर कर सकता है.

शेयर बाजार में तेजी के कारण

शेयर बाजार में गुरुवार को कारोबार की शुरुआत मजबूती के साथ हुई. इसमें अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंजों में तेजी का भी हाथ रहा है. बुधवार को अमेरिकी शेयर बाजारों में शानदार तेजी आई थी. जो बाइडेन के शपथ ग्रहण के चलते अमेरिकी शेयर बाजारों में अच्छी तेजी दिखी.

शुरुआती कारोबार में बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, टाटा मोटर्स, यूपीएल, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचसीएल टेक के शेयरों में अच्छी मजबूती नजर आई. इससे 9.38 बजे सेंसेक्स 311 अंक चढ़कर 50,102 अंक पर पहुंच गया. हालांकि, दोपहर बाद तेजी थोड़ी कम हो गई.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें