1. home Hindi News
  2. business
  3. new piped natural gas stove to cut monthly bill by 25 per cent know how to save money vwt

PNG News : पीएनजी कंज्यूमर्स को हर महीने 25 फीसदी रकम की हो सकती बचत, जानिए कैसे?

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पीसीआरए ने बाजार में उतारा नया पीएनजी स्टोव.
पीसीआरए ने बाजार में उतारा नया पीएनजी स्टोव.
फाइल फोटो.

PNG News : पाइप के द्वारा प्राकृतिक गैस (पीएनजी) उपभोक्ताओं के लिए एक महत्वपूर्ण खबर है और वह यह कि अगर आप रसोई गैस की मासिक खपत से परेशान हैं, तो आपको उससे निजात मिलने के साथ ही हर महीने 25 फीसदी रकम की भी बचत होगी. पीएनजी उपभोक्ताओं के बजट के मद्देनजर पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अधीन कार्यरत सरकारी सलाहकार निकाय पेट्रोलियम संरक्षण अनुसंधान संघ (पीसीआरए) ने घरेलू पीएनजी उपभोक्ताओं के लिए एक नया गैस स्टोव विकसित किया है. नया गैस स्टोव घरेलू पाइप गैस की खपत को कम करेगा और मासिक बिलों में करीब 25 फीसदी तक कमी लाएगा.

ईईएसएल 10 लाख स्टोव करेगा वितरित

न्यू इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के अनुसार पीसीआरए ने एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं, जो बिजली मंत्रालय के तहत सार्वजनिक क्षेत्र का एक संयुक्त उद्यम है और ऊर्जा कुशल पीएनजी के तहत उपभोक्ताओं को ऊर्जा कुशल पीएनजी-आधारित खाना पकाने के स्टोव वितरित करता है. खबर यह भी है कि कुक स्टोव (ईईपीएस) कार्यक्रम के पहले चरण में ईईएसएल पूरे देश में 10 लाख गैस स्टोव वितरित करेगा.

पीएनजी गैस स्टोव से बढ़ेगी कुकिंग क्षमता

एमओयू के अनुसार, ईईएसएल पीएनजी ग्राहकों को यह स्टोव किफायती कीमत पर पीएनजी गैस स्टोव उपलब्ध कराएगी. अधिकारियों का कहना है कि पीएनजी-विशिष्ट गैस स्टोव की कमी की वजह से उपभोक्ता ने एलपीजी सिलेंडर के लिए बने गैस स्टोव का उपयोग करना शुरू कर दिया. एलपीजी सिलेंडर के लिए बने गैस स्टोव से पीएनजी की तापीय क्षमता करीब 40 फीसदी तक कम हो जाती है. एक अधिकारी ने कहा कि इससे गैस की खपत अधिक होती है. आईएसआई मानक स्टोव के साथ छेड़छाड़ भी इसकी सुरक्षा से समझौता करती है.

100 से 150 रुपये तक होगी बचत

पीसीआरए ने अनुमान जताया है कि अगर सभी मौजूदा पीएनजी उपभोक्ता नए गैस स्टोव में शिफ्ट हो जाते हैं, तो इससे सालाना 3901 करोड़ रुपये की प्राकृतिक गैस की बचत होगी. एक आम ग्राहक को लगभग 100-150 रुपये की बचत होगी. इससे CO2 उत्सर्जन में भी 11 मिलियन टन की कटौती होने की संभावना है.

भारतीय पेट्रोलियम संस्थान ने किया डेवलप

पीसीआरए के कार्यकारी निदेशक डॉ निरंजन कुमार सिंह ने कहा कि यह हमने न केवल ऊर्जा के एक हरे और स्वच्छ स्रोत पर काम किया है बल्कि इसे सुरक्षित और कुशलता से उपयोग भी किया है. देहरादून स्थित भारतीय पेट्रोलियम संस्थान द्वारा विकसित पीएनजी गैस स्टोव अधिक तापीय रूप से उपयोगी और सुरक्षित है.

ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म और लोकल मार्केट में भी उपलब्ध

उन्होंने कहा कि यह अब ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म और स्थानीय बाजारों में भी उपलब्ध है. हमने विभिन्न योजनाओं और प्रस्तावों के माध्यम से पाइप गैस उपभोक्ताओं को नया पीएनजी गैस स्टोव उपलब्ध कराने के लिए ईईएसएल के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. उन्होंने कहा कि इस समय देश में करीब 74 लाख पीएनजी उपभोक्ता हैं और हर महीने करीब 80 हजार नए उपभोक्ता बन रहे हैं.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें