1. home Hindi News
  2. business
  3. gst collection gst collection crosses 1 lakh crore for the second consecutive month in november indian economy is back on track vwt

GST Collection : नवंबर में जीएसटी कलेक्शन लगातार दूसरे महीने 1 लाख करोड़ के पार, पटरी पर लौट रही अर्थव्यवस्था

By Agency
Updated Date
जीएसटी संग्रह में लगातार दूसरे महीने बढ़ोतरी दर्ज.
जीएसटी संग्रह में लगातार दूसरे महीने बढ़ोतरी दर्ज.
प्रतीकात्मक फोटो.

GST Collection : कोरोना काल के दौरान भारत की अर्थव्यवस्था में लगातार सुधार दिखाई दे रहा है. देश में उपभोक्ता सामानों की आपूर्ति में सुधार होने की वजह से नवंबर महीने में जीएसटी संग्रह 1 लाख करोड़ रुपये के पार रहा. वित्त मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, यह लगातार तीसरा महीना है, जब जीएसटी संग्रह पिछले वित्त वर्ष के नवंबर महीने की तुलना में बढ़ा है. हालांकि, अगर अक्टूबर महीने के जीएसटी संग्रह से तुलना की जाए, तो इसमें थोड़ी सी गिरावट दर्ज की गई है. अक्टूबर में कुल जीएसटी संग्रह करीब 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था.

वित्त मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, चालू वित्त वर्ष में यह लगातार दूसरा महीना है, जब जीएसटी संग्रह का आंकड़ा 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा है. नवंबर के महीने में जीएसटी संग्रह पिछले साल के इसी महीने से करीब 1.4 फीसदी अधिक है. नवंबर 2019 में जीएसटी संग्रह 1,03,491 करोड़ रुपये रहा था.

जीएसटी संग्रह का यह आंकड़ा आर्थिक गतिविधियों की मजबूती को दर्शाता है. कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से अप्रैल में जीएसटी संग्रह 32,172 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया था. लॉकडाउन में ढील के बाद जीएसटी संग्रह में बढ़ोतरी हो रही है. चालू वित्त वर्ष में सितंबर में पहली बार सालाना आधार पर जीएसटी संग्रह बढ़ा था. अक्टूबर में जीएसटी संग्रह ने एक लाख करोड़ रुपये के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार किया था.

वित्त मंत्रालय ने कहा कि जीएसटी राजस्व में सुधार के हालिया रुख के अनुरूप नवंबर में संग्रह का आंकड़ा पिछले साल के समान महीने से 1.4 फीसदी अधिक रहा है. बयान में कहा गया है कि समीक्षाधीन महीने में वस्तुओं के आयात से राजस्व पिछले साल के समान महीने की तुलना में 4.9 फीसदी अधिक रहा. वहीं, घरेलू लेनदेन से राजस्व पिछले साल के समान महीने से 0.5 फीसदी अधिक रहा है.

नवंबर 2020 में कुल जीएसटी राजस्व 1,04,963 करोड़ रुपये रहा है. इसमें केंद्रीय जीएसटी 19,189 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी 25,540 करोड़ रुपये और एकीकृत जीएसटी 51,992 करोड़ रुपये है (इसमें से 22,078 करोड़ रुपये वस्तुओं के आयात पर जुटाए गए हैं). इसमें उपकर का योगदान 8,242 करोड़ रुपये (809 करोड़ रुपये वस्तुओं के आयात पर जोड़े गए हैं) का रहा है.

वित्त मंत्रालय के सूत्रों ने पिछले सप्ताह कहा था कि जीएसटी अधिकारियों ने 25,000 ऐसे करदाताओं की पहचान की है, जिन्होंने अक्टूबर में जीएसटी रिटर्न दाखिल किया था, लेकिन उन्होंने नवंबर में रिटर्न दाखिल नहीं किया है. 28 नवंबर तक कुल 80 लाख जीएसटी रिटर्न दाखिल किए गए थे.

जीएसटी नियमों के अनुसार, अक्टूबर में की गई आपूर्ति के लिए जीएसटीआर-3बी रिटर्न नवंबर की 20, 22 और 24 तारीख तक जमा करने की जरूरत होती है. पांच करोड़ रुपये सालाना से अधिक के कारोबार वाली इकाइयों को जीएसटीआर-3बी रिटर्न महीने की 20 तारीख तक जमा कराना होता है. बीते वित्त वर्ष 2019-20 में 12 में से आठ महीनों में जीएसटी राजस्व एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा था.

हालांकि, चालू वित्त वर्ष में कोरोना वायरस महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन से जीएसटी राजस्व प्रभावित हुआ है. चालू वित्त वर्ष में अप्रैल में जीएसटी संग्रह सिर्फ 32,172 करोड़ रुपये रहा था. मई में जीएसटी संग्रह 62,151 करोड़ रुपये, जून में 90,917 करोड़ रुपये, जुलाई में 87,422 करोड़ रुपये, अगस्त में 86,449 करोड़ रुपये, सितंबर में 95,480 करोड़ रुपये और अक्टूबर में 1,05,155 करोड़ रुपये रहा था.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें