1. home Home
  2. business
  3. gold is 9752 rupees cheaper before makar sankranti know the 10 gram gold price today mtj

Gold Price Today: मकर संक्रांति से पहले 9,752 रुपये सस्ता मिल रहा सोना, अब इतनी है 10 ग्राम Gold की कीमत

सोना खरीदने का मन बना रहे हैं या सोना में निवेश करना चाहते हैं, तो यह बेहतरीन मौका है. सोना अभी ऑलटाइम हाई से 9752 रुपये सस्ता मिल रहा है. आने वाले दिनों में कीमतों में आयेगी तेजी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Gold Price Today: ऑलटाइम हाई से 7,752 रुपये सस्ता हुआ सोना
Gold Price Today: ऑलटाइम हाई से 7,752 रुपये सस्ता हुआ सोना
Prabhat Khabar

Gold Price Today: सोना-चांदी सस्ता हो गया है. पीली धातु की कीमत में अच्छी-खासी गिरावट दर्ज की गयी है. पहली बार सोना 9,752 रुपये तक सस्ता हुआ है. 6 साल में इसे सोना में सबसे बड़ी गिरावट बताया जा रहा है. नये साल में सोना (Gold Rate Today) 47 हजार रुपये के स्तर से नीचे आ गया है. सोमवार (10 जनवरी 2022) को भी सोने की कीमतों में 54 रुपये की गिरावट देखी गयी. दिल्ली के सर्राफा बाजार में आज 10 ग्राम सोने का भाव (Gold Price Today) 46,448 रुपये रहा.

दूसरी तरफ, चांदी की कीमतों में भी मंदी देखी गयी. चांदी भी 60 हजार के स्तर से नीचे आ चुकी है. चांदी की कीमत में 178 रुपये की गिरावट आयी, जिसके बाद प्रति किलो चांदी 59,395 रुपये रह गयी. पिछले सप्ताह कारोबारी सत्र के आखिरी दिन यानी शुक्रवार को सोना 46,502 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था.

इंटरनेशनल मार्केट में सोने की कीमतों में गिरावट के बाद गोल्ड का भाव 1,794 डॉलर प्रति औंस हो गया. वहीं, चांदी की कीमतों में कोई बदलाव नहीं आया. चांदी 22.28 डॉलर पर स्थिर रही. बाजार के विशेषज्ञ बताते हैं कि अमेरिकी बांड के यील्ड में बढ़ोतरी और डॉलर के मजबूत होने की वजह से गोल्ड दबाव में आ गया और उसकी कीमतों में गिरावट दर्ज की गयी.

सोना का रिकॉर्ड आयात

खबर है कि सोना के प्रति भारतीयों का प्रेम कम होने का नाम नहीं ले रहा है. यही वजह है कि गोल्ड का इम्पोर्ट लगातार बढ़ रहा है. वर्ष 2021 में सोना का रिकॉर्ड आयात हुआ है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ने जो ताजा रिपोर्ट जारी की है, उसमें यह जानकारी दी गयी है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ने गोल्ड इम्पोर्ट पर जारी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि वर्ष 2021 में भारत का गोल्ड इंपोर्ट दो गुना हो गया है. पिछले साल भारत ने 5,570 करोड़ डॉलर मूल्य के गोल्ड का आयात किया. वर्ष 2020 में भारत ने सिर्फ 2,300 करोड़ डॉलर के सोना का आयात किया था.

रिपोर्ट में कहा गया है कि वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से वर्ष 2020 में सोना का आयात कम हुआ था. दरअसल, कोरोना की वजह से शादी-विवाह समेत तमाम शुभ कार्य लगभग टल गये थे. इसलिए सोने की बिक्री भी घट गयी. वर्ष 2021 में कोरोना की रफ्तार कम हुई, तो अक्टूबर-नवंबर में सोना-चांदी की मांग बढ़ गयी. त्योहारी सीजन में भी गोल्ड की मांग में तेजी आयी. मांग बढ़ी, तो गोल्ड का इम्पोर्ट भी बढ़ गया.

...तब बढ़ जाती है सोने की खरीदारी

बाजार की चला बताती है कि जब-जब सोना 1800 डॉलर प्रति औंस के नीचे जाता है, पीली धातु की खरीदारी बढ़ जाती है. पिछले पखवाड़े के उतार-चढ़ाव भरे कारोबार के दौर में भी 1820-1835 डॉलर के बीच रही, जिसकी वजह से सोना के भाव में उछाल आया था. अनुमान जताया जा रहा है कि आने वाले 3 से 6 माह में सोना 1900 डॉलर के स्तर को छू सकता है.

सोना में निवेश का बेहतर मौका

मकर संक्रांति (14 जनवरी 2022) के बाद फिर से शादियों का सीजन शुरू होने वाला है. इसलिए उम्मीद की जा रही थी कि सोने के भाव बढ़ेंगे. लेकिन, साल की शुरुआत में सोने के भाव में गिरावट दर्ज की गयी है. वर्ष 2021 में सोना के दाम में 4 फीसदी से ज्यादा गिरावट आयी है. सोना अपने ऑलटाइम हाई 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम से करीब 9,752 रुपये सस्ता है. इसलिए सोना में निवेश का यह सबसे बेहतर समय है. यदि गोल्ड में निवेश करना चाहते हैं, तो जल्दी करें, क्योंकि आने वाले समय में सोना 49,300 से 49,500 रुपये प्रति ग्राम के स्तर को छू सकता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें