34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पाकिस्तान के हो सकते हैं कई टुकड़े, भारत चाहे तो ले ले POK, अमेरिकी प्रोफेसर मुक्तदर ने ऐसा क्यों कहा

प्रोफेसर मुक्तदर खान ने कहा, पाकिस्तान के ऊपर फिलहाल छह संकट मंडरा रहे हैं. जिससे वह कई टुकड़ों में बंट सकता है. उन्होंने आगे कहा, पाकिस्तान इस समय राजनीतिक, आर्थिक, सुरक्षा, सिस्टम, पहचान और पर्यावरण संकट से घिरा है. मुक्तदर ने कहा, इन्हीं संकटों के कारण पाकिस्तान के टुकड़े-टुकड़े हो सकते हैं.

पाकिस्तान इस समय कंगाली के दौर से गुजर रहा है. वहां के लोगों को खाने के लिए आटा नसीब नहीं हो रहा है. रिपोर्ट के अनुसार लोग 150 रुपये प्रति किलो आटा खरीदने के लिए मजबूर हो रहे हैं. वहां के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने इस बात को मान लिया है कि भारत के खिलाफ तीन युद्ध में पाकिस्तान पूरी तरह से बरबाद हो चुका है. आतंकवादियों को पनाह देने के मामले में पहले की दुनिया के सामने बेनकाब हो चुका पाकिस्तान अब अपनी कंगाली को दुरुस्त करने के लिए कई देशों के सामने कटोरा फैला रहा है. इधर अमेरिकी प्रोफेसर ने बयान देकर पाक की चिंता और भी बढ़ा दी है. प्रोफेसर मुक्तदर ने भविष्यवाणी कर दी है कि 2023 में पाकिस्तान कई टुकड़ों में बंट सकता है.

पाकिस्तान के ऊपर मंडरा रहे छह संकट: प्रोफेसर मुक्तदर

डेलावेयर यूनिवर्सिटी में इस्लामिक स्टडीज प्रोग्राम के फाउंडिंग डायरेक्टर प्रोफेसर मुक्तदर खान ने कहा, पाकिस्तान के ऊपर फिलहाल छह संकट मंडरा रहे हैं. जिससे वह कई टुकड़ों में बंट सकता है. उन्होंने आगे कहा, पाकिस्तान इस समय राजनीतिक, आर्थिक, सुरक्षा, सिस्टम, पहचान और पर्यावरण संकट से घिरा है. मुक्तदर ने कहा, इन्हीं संकटों के कारण पाकिस्तान के टुकड़े-टुकड़े हो सकते हैं.

भारत चाहे तो पाकिस्तान पर चढ़ाई कर वापस ले सकता है पीओके

अमेरिकी प्रोफेसर ने कहा, पाकिस्तान इस समय पूरी तरह से कंगाल हो चुका है. उसकी सारी संस्थाएं फेल हो चुकी हैं. वैसे में भारत चाहे तो मौके को देखते पाकिस्तान पर चढ़ाई कर पीओके को वापस अपने कब्जे में ले सकता है.

Also Read: पाकिस्तान के लिए आयी एक और बुरी खबर, अमेरिकी संसद में पेश हुआ इस अहम दर्जे को समाप्त करने वाला विधेयक

प्रोफेसर ने विस्तार से बताया, क्यों पाकिस्तान के हो सकते हैं कई टुकड़े

अमेरिकी प्रोफेसर मुक्तदर ने विस्तार से बताया, आखिर पाकिस्तान के कई टुकड़े कैसे हो सकते हैं. उन्होंने कहा, पाकिस्तान इस समय गंभीर राजनीति संकट से गुजर रहा है. इमरान खान के सत्ता से हटने के बाद कभी भाषण दे रहे हैं, तो कभी मार्च कर रहे हैं. जिससे शाहबाज सरकार ठीक से चल नहीं पा रही है. उनका पूरा ध्यान इमरान पर है. उसी तरह आर्थिक मोर्चे पर भी पाकिस्तान पूरी तरह से फेल हो चुका है. विकास दर काफी कम है. विदेशी मुद्रा भंडार की कमी हो गयी है. निर्यात काफी कम है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें