21.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

जीईएम पोर्टल से चालू वित्त वर्ष में चार लाख करोड़ रुपये की खरीद की उम्मीद- सीईओ

जीईएम के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) पी के सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘चालू वित्त वर्ष में आज तक पोर्टल से खरीद का आंकड़ा तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक हो चुका है. रुझानों को देखते हुए इस वित्त वर्ष में खरीद चार लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगी.

सरकारी खरीद पोर्टल गवर्नमेंट ई-मार्केट (जीईएम) से वस्तुओं और सेवाओं की खरीद के चालू वित्त वर्ष के अंत तक चार लाख करोड़ रुपये को पार कर जाने की उम्मीद है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को यह संभावना जताई. विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की तरफ से खरीदारी बढ़ने से जीईएम का कारोबार आकार बढ़ने वाला है. केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों और विभागों के स्तर पर वस्तुओं और सेवाओं की ऑनलाइन खरीद के लिए सरकारी ई-बाजार जीईएम की नौ अगस्त, 2016 को शुरुआत हुई थी.

Also Read: एआई पर भारत, अमेरिका को सहयोग बढ़ाने की जरूरत : सत्या नडेला

जीईएम के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) पी के सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘चालू वित्त वर्ष में आज तक पोर्टल से खरीद का आंकड़ा तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक हो चुका है. रुझानों को देखते हुए इस वित्त वर्ष में खरीद चार लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगी.’’ वित्त वर्ष 2021-22 में जीईएम से 1.06 लाख करोड़ रुपये की खरीद हुई थी जबकि 2022-23 में यह आंकड़ा दो लाख करोड़ रुपये को पार कर गया था.

Also Read: PayTm ने संकट के बीच अपने E-Commerce प्लैटफॉर्म का बदल डाला नाम, जानें डीटेल

सिंह ने कहा कि वस्तुओं और सेवाओं की कुल खरीद में कोल इंडिया जैसे केंद्रीय सार्वजनिक उद्यमों (सीपीएसई) की हिस्सेदारी बढ़ रही है. कोल इंडिया, सेल, एनटीपीसी और एसबीआई सहित 245 से अधिक सीपीएसई इस प्रक्रिया का हिस्सा हैं. जीईएम के मंच से 63,000 से अधिक सरकारी खरीदार संगठनों के अलावा 62 लाख से अधिक विक्रेता और सेवा प्रदाता जुड़े हुए हैं. सरकारी विभागों, मंत्रालयों, सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों, राज्य सरकारों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों को भी इस पोर्टल के जरिये लेनदेन करने की अनुमति है. पीटीआई भाषा की रिपोर्ट.

Also Read: एयरटेल पेमेंट्स बैंक के नए ग्राहकों की संख्या में उछाल- सीईओ

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें