1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. siliguri
  5. toy train service of darjeeling restored after 10 months toursits overwhelmed west bengal news mtj

दार्जीलिंग की ट्वाय ट्रेन की छुक-छुक सुन निहाल हुए सैलानी, 10 महीने बाद शुरू हुई सेवा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
दार्जीलिंग की ट्वाय ट्रेन की छुक-छुक सुन निहाल हुए सैलानी, 10 महीने बाद शुरू हुई सेवा.
दार्जीलिंग की ट्वाय ट्रेन की छुक-छुक सुन निहाल हुए सैलानी, 10 महीने बाद शुरू हुई सेवा.
PTI

दार्जीलिंग : आखिरकार लंबे समय बाद ट्वाय ट्रेन की छुक-छुक सुनकर सैलानी खुश हो गये. शुक्रवार को क्रिसमस के अवसर पर ट्वाय ट्रेन परिसेवा को फिर से शुरू कर दिया गया. कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मार्च, 2020 से सैलानियों की प्रिय यह ट्रेन बंद थी. दार्जीलिंग में देश-विदेश से सैलानी आते हैं.

सैलानी यहां की हरियाली के साथ-साथ प्रसिद्ध ट्वाय ट्रेन की सवारी का भी आनंद लेने को उत्सुक रहते हैं. सरकार द्वारा ट्वाय ट्रेन चलाने की अनुमति नहीं देने के कारण यह परिसेवा बंद रही. फलस्वरूप देश-विदेश से आये सैलानी ट्वाय ट्रेन की सवारी कर नहीं पा रहे थे.

सुबह से दार्जीलिंग में ट्वाय ट्रेन परिसेवा शुरू हो गयी. इस संदर्भ में दार्जीलिंग रेलवे स्टेशन के प्रबंधक सुमन प्रधान ने कहा कि सरकार ने ट्वाय ट्रेन चालू करने की अनुमति पत्र जारी की थी. इसके तहत सुबह से ट्वाय ट्रेन को चालू किया गया है. करीब नौ माह ट्वाय ट्रेन बंद होने के बाद शुरू हुई है.

पहले दिन ट्वाय ट्रेन में 43 सैलानियों ने सवारी की. दार्जीलिंग रेलवे स्टेशन से धूम जोरबंगला रेलवे स्टेशन तक का सफर सैलानियों ने किया. प्रबंधक श्री प्रधान के अनुसार, अभी दो ट्वाय ट्रेन चालू हुए हैं. दार्जीलिंग से एनजेपी तक ट्रेन कब से चलेगी, इस बारे में उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया.

प्रभात दास की खुशी का नहीं रहा ठिकाना

कोलकाता से आये प्रभात दास ने कहा कि हर साल क्रिसमस के समय दार्जीलिंग घूमने आते थे. इस बार कोरोना संक्रमण के कारण दार्जीलिंग आने की उम्मीद काफी कम थी. लॉकडाउन खत्म हुआ, तो यहां आया. दार्जीलिंग जब भी आता हूं, ट्वाय ट्रेन की सवारी करता हूं. कोलकाता में सुना था कि ट्वाय ट्रेन बंद है. यहां आने पर पता चला कि यह शुरू होने वाला है. मेरी खुशी का ठिकाना न रहा.

ट्वाय ट्रेन की सवारी की थी सरिता की इच्छा

दिल्ली से घूमने आयी सरिता बसाक ने बताया कि दार्जीलिंग की हरी वादियां देखने और यहां के विश्व प्रसिद्ध ट्वाय ट्रेन को देखने और इसकी सवारी करने की काफी इच्छा थी. मेरे बेटे और बहू ने दार्जीलिंग का कार्यक्रम बनाया था. हमलोग दो दिन पहले यहां आये हैं. दार्जीलिंग सच में काफी सुंदर है. यहां का ट्वाय ट्रेन भी काफी अच्छा है. दार्जीलिंग की ट्वाय ट्रेन चालू होने से यहां के दुकानदार से लेकर होटल वाले, गाड़ी वाले सभी खुश हैं.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें