25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बंगाल में कोई ‘इंडिया’ गठबंधन नहीं : ममता

मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने शुक्रवार को मुर्शिदाबाद एवं जंगीपुर लोकसभा सीटों से पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार किया.

कोलकाता. मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने शुक्रवार को मुर्शिदाबाद एवं जंगीपुर लोकसभा सीटों से पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार किया. मुर्शिदाबाद के हरिहरपाड़ा में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने भाजपा, माकपा एवं कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा, “ मैं सुन रही हूं कि कुछ लोग यहां कह रहे हैं कि हम (माकपा व कांग्रेस) भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों का गठबंधन ‘इंडिया’ में शामिल हैं, हमें वोट दें. मैं बता दूं कि गठबंधन दिल्ली में है, बंगाल में कोई ‘इंडिया’ गठबंधन नहीं है. यहां कांग्रेस और माकपा उक्त गठबंधन की बात ना करें. एक भी वोट कांग्रेस व माकपा को देना, मतलब भाजपा को वोट देना है. यहां तृणमूल के अलावा और किसी पार्टी को वोट देना मतलब भाजपा को और शक्तिशाली करना है. बंगाल में भाजपा की सहयोगी माकपा और कांग्रेस है. यही वजह है कि बंगाल में भाजपा के खिलाफ केवल तृणमूल ही लड़ाई लड़ रही है. भाजपा को कोई हरा सकता है, तो वह तृणमूल है. पूरे देश की बात करें, तो भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों दलों का गठबंधन ‘इंडिया’ का नेतृत्व तृणमूल ही करेगी. अब देश में भाजपा के ज्यादा दिन नहीं हैं. इस बार लोकसभा चुनाव के बाद पूरे देश में भगवा दल का अस्तित्व खत्म हो जायेगा.” भाजपा पर निशाना साधते हुए ममता ने कहा, “अगर आप आने वाले दिनों में मतदान नहीं करेंगे, तो वे आपका आधार कार्ड और आपकी नागरिकता छीन लेंगे. अगर जरूरत पड़ी तो मैं बिना खाना खाये रहूंगी, लेकिन बंगाल में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की अनुमति नहीं दूंगी. मैं अपनी जान की बाजी लगा दूंगी और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को अपनी जिंदगी रहते लागू होने नहीं दूंगी. न ही समान नागरिक संहिता (यूसीसी) ही बंगाल में लागू करने दूंगी. अगर विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ सत्ता में आता है, तो देश में सीएए और एनआरसी को खत्म कर दिया जायेगा. यूसीसी भी देश में लागू नहीं होगा. हम सभी भेदभावपूर्ण कानूनों को रद्द कर देंगे.” तृणमूल सुप्रीमो ने आगे कहा कि भाजपा ने 10 सालों में बंगाल की जनता ही नहीं, पूरे देशवासियों के लिए एक भी काम नहीं किया. रमजान के दौरान जो प्रवासी मजदूर बंगाल में अपने घर आये हैं, वे वोट दिये बिना कहीं न जायें. भाजपा नेता को तनिक भी शर्म नहीं है और घोषणा कर चुके हैं कि अगर वे सत्ता में आते हैं, तो राज्य में ‘लक्खी भंडार’ योजना को रोक देंगे. राज्य की महिलाओं को मिलने वाला मासिक भत्ता रोक देने की धमकी दे रहे हैं. उनकी ऐसी हिम्मत कैसे हो सकती है कि बंगाल की महिलाओं के हित की योजना को बंद करने की बात कह रहे हैं. भाजपा नीत केंद्र सरकार ने 100 दिनों की कार्य योजना के तहत राज्य का बकाया रोक लिया, जबकि राज्य में तृणमूल की सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि जॉब कार्ड धारकों को राज्य के खजाने से 50 दिनों का कार्य का पारिश्रमिक मिले. ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा, “वह (प्रधानमंत्री) लोकसभा चुनाव को लेकर कह रहे हैं -अबकी बार 400 पार. मैं दावा करती हूं कि – अबकी बार 200 भी नहीं पार. सर्वेक्षण रिपोर्ट पर भरोसा न करें. वो सर्वे भाजपा के पैसे से हुआ था.”

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें