40.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

वर्षा प्रभावित किसानों से मिले राजनाथ सिंह, उप्र सरकार से 506 करोड रुपए बांटने को कहा

सहारनपुर-बदायूं : फसलों को हुए नुकसान की वजह से 103 किसानों के आत्महत्या के मामलों पर चिंता जताते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज उत्तर प्रदेश सरकार से केंद्र द्वारा आपदा राहत कोष के तहत दिए गए 506 करोड रुपये को बेमौसम बारिश एवं ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों के बीच तत्काल बांटने को कहा. […]

सहारनपुर-बदायूं : फसलों को हुए नुकसान की वजह से 103 किसानों के आत्महत्या के मामलों पर चिंता जताते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज उत्तर प्रदेश सरकार से केंद्र द्वारा आपदा राहत कोष के तहत दिए गए 506 करोड रुपये को बेमौसम बारिश एवं ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों के बीच तत्काल बांटने को कहा. सिंह ने बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित कुछ क्षेत्रों का दौरा करने के बाद कहा कि इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए तथा किसानों को मुसीबत की इस घडी में मदद पहुंचाने के राज्य सरकार के प्रयास में केंद्र सरकार पूरी तरह उसके साथ है.
उन्होंने दो अलग अलग किसान रैलियों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं मुख्यमंत्री से अपील करना चाहता हूं कि राज्य आपदा राहत कोष के तहत दिये गये 506 करोड रपये किसानों में बांटे जाएं.’’ उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वह केवल राजनीति करने के लिए वर्षा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा नहीं कर रहे बल्कि किसानों की समस्याओं से वाकई चिंतित हैं. उन्होंने सभी राजनीतिक दलों से कहा कि बर्बाद हो गये किसानों को राहत पहुंचाने के लिए सभी हाथ मिलाएं.
उन्होंने कहा, ‘‘मैं यहां किसी पर आरोप लगाने या राज्य सरकार की आलोचना करने नहीं आया हूं. मैं सभी से, राजनीतिक दलों से अनुरोध करता हूं, जिस तरह से भी संभव हो, किसानों को राहत देने के मामले में एकजुट हो जाएं.’’ गृहमंत्री ने कहा कि किसान का बेटा होने के नाते वह किसानों की समस्याओं को भलीभांति समझते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री किसानों के समक्ष मौजूद समस्याओं से बहुत चिंतित हैं. हमने पहले ही तय किया है कि जिन किसानों की 33 फीसदी फसल नष्ट हो गयी है, उन्हें पूरा मुआवजा दिया जाएगा.’’ सिंह ने कहा, ‘‘हमने इस संबंध में स्पष्ट निर्देश दिया है. ’’

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें