1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. allopathy vs ayurveda baba ramdev conflict bjp mla surendra singh support swami ramdev patanjali imc doctors prt

अब बाबा के समर्थन में उतरे बीजेपी के ये विधायक, स्वस्थ भारत, समर्थ भारत अभियान की जमकर की तारीफ, बाबा के बचाव में कही ये बात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
BJP MLA Surendra Singh
BJP MLA Surendra Singh
Twitter
  • बाबा के बचाव में उतरे बीजेपी विधायक

  • देश में आयुर्वेदिक पद्धति का किया पूरजोर समर्थन

  • कहा- मृतक को आईसीयू में रखकर पैसा वसूलते हैं डॉक्टर

योग गुरू स्वामी रामदेव के विवादित बयान मामले में अब बीजेपी के विधायक सुरेन्द्र सिंह भी कूद गए हैं. उन्होंने योग गुरू स्वामी रामदेव का पक्ष लेते हुए कहा है कि बाबा रामदेव ने आयुर्वेद के जरिए स्वस्थ भारत, समर्थ भारत अभियान की शुरुआत की है जो उनकी सराहनीय कदम है. उन्होंने देश में आयुर्वेदिक पद्धति पूरजोर वकालत की है.

डॉक्टरों पर कसा तंजः विधायक सुरेंद्र सिंह ने डॉक्टरों पर तंज कसते हुए कहा है कि, ऐलोपैथी में महज 10 रुपये की गोली के लिए सौ रुपये वसूला जाता है. ऐसे में ये सफेद वस्त्रधारी समाज के हितौशी नहीं हो सकते हैं. वहीं उन्होंने कहा कि अस्पतालों में एलोपैथिक डॉक्टर मृतक को आईसीयू (ICU) में रखकर भी पैसा वसूलते है. अपने फेसबुक में विधायक ने खुलकर स्वामी रामदेव के समर्थन में पोस्ट किया है.

आयुर्वेद पद्धति की सराहनाः बीजेपी विधायक ने अपने दो फेसबुक पोस्ट में बाबा रामदेव का खुलकर समर्थन किया है. और डॉक्टरों की निंदा की है. उन्होंने आयुर्वेद को एलोपैथी के समकक्ष बताया है. साथ को लोगों से आयुर्वैदिक इलाज अपनाने की अपील भी की है. वहीं, उन्होंने स्वामी रामदेव के स्वस्थ भारत, समर्थ भारत अभियान की जमकर तारीफ की है.

आयुर्वेद एलोपैथी के समकक्षः अपने फेसबुक वॉल पर बीजेपी विधायक ने दो पोस्ट किए हैं. पहले पोस्ट में उन्होंने योग गुरू स्वामी रामदेव का खुलकर समर्थन किया है. उन्होंने कहा है बाबा के स्वस्थ भारत, समर्थ भारत अभियान से कई लोगों को योग का लाभ मिला है. और आयुर्वेद के माध्यम से कई लोग स्वस्थ हुए हैं. वहीं दूसरे पोस्ट में उन्होंने विवाद प्रकरण में स्वामी रामदेक का खुलकर बचाव किया है.

आईएमए ने भेजा था हजार करोड़ का नोटिसः गौरतलब है कि, स्मामी रामदेव के बयान के बाद पूरे देश में ऐलौपैथी और आयुर्वैदिक विवाद ने जोर पकड़ लिया है. वहीं, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने स्वामी रामदेव को लीगल नोटिस भेजा था. वहीं, मेडिकल एसोसिएशन ने कहा था कि बाबा रामदेव एलोपैथी का ए तक नहीं पता. एसोसिएशन ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर बाबा 15 दिनों के भीतर माफी नहीं मांगेंगे तो उनके खिलाफ एक हजार करोड़ रुपये का मानहानि का दावा किया जाएगा.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें