1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. allahabad
  5. in the murder case of 5 people of same family police interrogated members of chhemar gang in naini jail acy

एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या मामले में छेमर गिरोह के सदस्यों से पूछताछ, संदिग्धों का होगा DNA टेस्ट

थरवई हत्याकांड मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस संदिग्धों का डीएनए टेस्ट कराएगी. इसके लिए पुलिस एफएसएल टीम द्वारा जल्द सैंपल लिया जा सकता है. वहीं पुलिस सूत्रों का कहना है कि अभी तक घटना के संबंध में कुछ खास सबूत नहीं मिला है. न ही हत्या में प्रयुक्त हथियार ही बरामद किया जा सका है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Prayagraj
Updated Date
छेमर गिरोह के सदस्यों से पूछताछ
छेमर गिरोह के सदस्यों से पूछताछ
सोशल मीडिया

Prayagraj News: प्रयागराज जिले के थरवई थाना क्षेत्र अंतर्गत खेवराजपुर गांव में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या मामले में कई बिंदुओं पर जांच कर रही पुलिस ने नैनी जेल में बंद छेमर गिरोह के सदस्यों से भी पूछताछ की है. पुलिस ने गिरोह के उन सदस्यों के बारे में भी जानकारी जुटाई, जो पिछले साल नवंबर में पुलिस मुठभेड़ में फरार हो गए थे. इनके बारे में अधिक जानकारी जुटाने के लिए पुलिस टीम मिर्जापुर और रोहतास भेजी गई है.

संदिग्धों का पुलिस कराएगी डीएनए टेस्ट

थरवई हत्याकांड मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस संदिग्धों का डीएनए टेस्ट कराएगी. इसके लिए पुलिस एफएसएल टीम द्वारा जल्द सैंपल लिया जा सकता है. वहीं पुलिस सूत्रों का कहना है कि अभी तक घटना के संबंध में कुछ खास सबूत नहीं मिला है. न ही हत्या में प्रयुक्त हथियार ही बरामद किया जा सका है. इसके साथ ही पुलिस का यह भी मानना है कि आरोपियों के बारे में कोई भी जानकारी लीक होने से मामले के खुलासे में समय लग सकता है. फिलहाल मामले के खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच एसटीएफ समेत कुल सात टीम लगाई गई है.

पट्टीदारों से भी होगी पूछताछ

थरवई हत्याकांड में सोमवार को एक और विवाद सामने आया है. मऊआइमा निवासी मृतक सविता के पिता ने घटना के पीछे समधी के पट्टीदारों पर आरोप लगाते हुए तहरीर दी है. उन्होंने पुलिस को बताया कि साल 2016 में उसने अपनी बेटी सविता की शादी सुनील पुत्र राजकुमार के साथ की थी. राजकुमार के नाम खेवराजपुर में बेशकीमती जमीन है. कुछ दिन पहले कुछ जमीन बेच दी गई थी, जिसे लेकर उनके बीच मतभेद भी हुआ था. इसके साथ ही उन लोगों ने मारने की धमकी भी दी थी.

वहीं, इस संबंध में एसपी गंगापार अभिषेक अग्रवाल का कहना है कि मामले के संबंध में दी गई तहरीर को भी एफआईआर में शामिल कर लिया गया है. जांच के बाद पुख्ता साक्ष्य मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

रिपोर्ट- एस के इलाहाबादी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें