1. home Home
  2. state
  3. rajasthan
  4. rajasthan cabinet expansion latest news updates new cabinet to be formed on sunday smb

राजस्थान में अकेले पड़ गए गहलोत, सभी मंत्रियों ने दे दिया इस्तीफा, आज शपथ ग्रहण में होगा फैसला

Rajasthan Cabinet राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल के पुनर्गठन से पहले सभी मंत्रियों ने आज इस्तीफा दे दिया है. जानकारी के मुताबिक, मंत्रिपरिषद की बैठक में सभी गहलोत सरकार के मंत्रियों ने इस्तीफे दिया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राजस्थान कैबिनेट के सभी मंत्रियों ने दिया इस्तीफा
राजस्थान कैबिनेट के सभी मंत्रियों ने दिया इस्तीफा
फाइल

Rajasthan Cabinet राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल के पुनर्गठन से पहले सभी मंत्रियों ने आज इस्तीफा दे दिया है. जानकारी के मुताबिक, मंत्रिपरिषद की बैठक में सभी गहलोत सरकार के मंत्रियों ने इस्तीफे दिया. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सभी मंत्रियों के इस्तीफे राज्यपाल कलराज मिश्र को सौंप दिए गए है. सभी विधायकों को कल दो बजे पार्टी प्रदेश के कार्यालय में बुलाया गया है.

सूत्रों की मानें तो रविवार को शपथ ग्रहण समारोह होगा. बता दें कि गहलोत मंत्रिमंडल में वर्तमान में बारह सीटें खाली हैं. मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से आगे बताया जा रहा है कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मंत्री पद के बंटवारे का फॉर्मूला तय हो चुका है. अशोक गहलोत कोटे से छह और सचिन पायलट कोटे से चार मंत्री बन सकते हैं. इसके बाद भी मंत्रिमंडल में दो सीट खाली रहेंगी. बताया जा रहा है कि करीब पंद्रह संसदीय सचिव बनाए जा सकते हैं. गहलोत मंत्रिमंडल में अधिकतम तीस मंत्री हो सकते हैं.

इन सबके बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि इस बारे में सारे निर्णय हाईकमान तय करेगा. सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को एक झटका ये भी लग सकता है कि बीएसपी से कांग्रेस में शमिल हुए विधायकों को मंत्रिमंडल में मौका नहीं मिलेगा. इसी तरह सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों को भी मंत्री नहीं बनाया जाएगा. सचिन पायलट की मांग के बाद कांग्रेस हाईकमान तय कर चुका है कि फिलहाल निर्दलीय और बीएपी से कांग्रेस में शामिल हुए छह विधायकों को मंत्री न बनाया जाए. हालांकि, गहलोत मंत्री बनाना चाहते हैं.

इधर, आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, नए मंत्रिमंडल के लिए सचिन पायलट खेमे से मंत्री पद के लिए जो संभावित नाम सामने आ रहे हैं. वह हेमाराम चौधरी ,बृजेन्द्र ओला, दिपेंद्र सिंह शेखावत, रमेश मीणा और मुरारीलाल मीणा हैं. वहीं, गहलोत खेमे से संभावित नाम बसपा से राजेन्द्र गुढा, निर्दलीय महादेव खंडेला, संयम लोढ़ा, कांग्रेस विधायक महेन्द्र जीता सिंह मालवीय, रामलाल जाट, मंजू मेघवाल, जाहिदा खान और शंकुतला रावत है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें