1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. indian railways news railway inter college of chakradharpur jharkhand to be developed as a model school many instructions received smj

Indian Railways News : मॉडल स्कूल के रूप विकसित होगा झारखंड के चक्रधरपुर का रेलवे इंटर कॉलेज, मिले कई निर्देश

झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिला अंतर्गत चक्रधरपुर का रेलवे इंटर कॉलेज का कायाकल्प होगा. इसे झारखंड में माॅडल स्कूल के रूप में विकसित किया जायेगा. इसको लेकर चक्रधरपुर डीआरएम विजय कुमार साहू ने निरीक्षण किया. इस दौरान संबंधित अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश भी दिये गये.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इंटर कॉलेज को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित करने को लेकर चक्रधरपुर डीआरएम ने किया निरीक्षण.
इंटर कॉलेज को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित करने को लेकर चक्रधरपुर डीआरएम ने किया निरीक्षण.
प्रभात खबर.

Indian Railways News, Jharkhanad News (चक्रधरपुर, पश्चिमी सिंहभूम) : दक्षिण पूर्व रेलवे इंटर कॉलेज का जीणोद्धार व नवीनीकरण कर झारखंड का सबसे मॉडल स्कूल में विकसित व परिवर्तित होगा. साथ ही इंटर कॉलेज भवन और कमरों में विद्युत व शैक्षणिक व्यवस्था सुधरेगी. सोमवार को दक्षिण पूर्व रेलवे इंटर कॉलेज निरीक्षण के दौरान चक्रधरपुर मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार साहू ने संबंधित अधिकारियों को यह निर्देश दिये. साथ ही विद्यालय प्रबंधन को सभी तरह के सहयोग करने की बात कही, ताकि बच्चे बेहतर व आधुनिक शिक्षा ग्रहण कर सके.

चक्रधरपुर DRM श्री साहू ने इंटर कॉलेज भवन की स्थिति, साफ-सफाई, सुविधा एवं व्यवस्था का जायजा लिये. इस दौरान शिक्षकों व विद्यार्थियों से मिले और उन्हें प्रोत्साहित किये. उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में शिक्षकों की भूमिका को और अधिक महत्वपूर्ण बताया. वहीं, नियंत्रण अधिकारी सह नियंत्रण अधिकारी श्रीरंगम हरितस ने जिला के प्रति रुचि व झारखंड के शैक्षणिक रुप से पिछड़े लोगों का विकास कैसे हो इसपर जोर दिया.

इस मौके पर स्कूल नियंत्रण अधिकारी सह वरीय मंडल कार्मिक अधिकारी श्रीरंगम हरितस, वरीय मंडल अभियंता अनूप पटेल, वरीय मंडल विधुत अभियंता, प्रिंसिपल एसएस लकड़ा, टीचर एसके सरकार, एसके सिंह, अलका श्रीवास्तव व कार्मिक निरीक्षक पंकज कुमार व मंसूर आलम थे.

मालूम हो कि दपू रेलवे इंटर कॉलेज, चक्रधरपुर देश के सबसे पुराने रेलवे विद्यालयों में से एक है. इस स्कूल का गौरवशाली इतिहास रहा है. बीच में स्कूल की स्थिति खराब हुई थी. अब एकबार फिर इसके पुराने गौरव को वापस लाने की कोशिश की जा रही है. साथ ही रेल कर्मचारियों के बच्चे बेहतर व आधुनिक शिक्षा ग्रहण कर सके इसकी पूरी कोशिश की जा रही है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें