1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. thunderstorm likely to storm east singhbhum district of jharkhand

Weather Warning : रांची, लोहरदगा, लातेहार, चतरा और हजारीबाग में थोड़ी देर में शुरू होगी बारिश

By Mithilesh Jha
Updated Date
Rain in Ranchi : रांची में किसानों की फसल हुई बर्बाद.
Rain in Ranchi : रांची में किसानों की फसल हुई बर्बाद.
Prabhat Khabar.

रांची : झारखंड की राजधानी रांची समेत पांच जिलों में अगले-एक दो घंटे में मौसम बदल जायेगा. अचानक तेज हवाओं के झोंके के साथ मेघ गरजेंगे और कुछ जगहों पर वज्रपात हो सकता है. रांची स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने शनिवार (7 मार्च, 2020) को यह जानकारी दी. शुक्रवार की शाम को राजधानी रांची समेत प्रदेश के कई जिलों में जमकर बारिश हुई. रांची में शनिवार सुबह भी हल्की-फुल्की बारिश हुई. दोपहर में मौसम केंद्र से जारी चेतावनी जारी की गयी, जिसमें कहा गया कि इन जिलों में बारिश, आंधी-तूफान एवं वज्रपात की संभावना है.

इसके पहले शुक्रवार को विभाग ने एक पखवाड़े का पूर्वानुमान जारी किया था. इसमें कहा गया था कि 7 और 8 मार्च, 2020 को प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में छिटपुट वर्षा होगी. 6-12 मार्च, 2020 के दौरान झारखंड प्रदेश में सामान्य से अधिक बारिश होने का अनुमान है. वहीं, 13 से 19 मार्च, 2020 के दौरान सामान्य वर्षा हो सकती है.

मौसम केंद्र के पूर्वानुमान में कहा गया है कि 12 मार्च, 2020 तक राज्य के ज्यादातर हिस्से में अधिकतम तापमान सामान्य से कम (26 से 32 डिग्री सेल्सियस) रह सकता है. इसके बाद के सप्ताह (13 से 19 मार्च, 2020) में तापमान सामान्य (30 से 34 डिग्री सेल्सियस) रहेगा. इस दौरान न्यूनतम तापमान 6 से 12 मार्च तक 13 से 18 डिग्री और 13 से 19 मार्च के बीच 14 से 20 डिग्री सेल्सियस रह सकता है.

उल्लेखनीय है कि 1 जनवरी से 29 फरवरी, 2020 के बीच झारखंड में 41.5 मिलीमीटर वर्षा हुई, जो इस दौरान होने वाले सामान्य वर्षापात 28.2 मिमी से करीब 47 फीसदी अधिक है. इस दौरान प्रदेश के 24 में से 7 जिलों में सामान्य से बहुत अधिक बारिश हुई, जबकि 9 जिलों में सामान्य से अधिक बारिश हुई. 6 जिलों में सामान्य वर्षापात हुआ और 2 में सामान्य से कम वर्षा हुई.

यदि राज्य में समग्र वर्षा की बात करें, तो सर्दी के मौसम में इस वर्ष 1 मार्च से 5 मार्च, 2020 के बीच सामान्य वर्षा 2.8 मिमी की तुलना में 9.2 मिमी वर्षा हुई. यह सामान्य से 228 फीसदी अधिक है. मार्च में प्रदेश के 24 में से 15 जिलों में भारी बारिश हुई, दो जिलों में बहुत और 3 जिलों में सामान्य बारिश हुई. 4 जिलों में बिल्कुल वर्षा नहीं हुई. यानी ये जिले पूरी तरह सूखे रहे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें