1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. sanjay seth bears education cost of deceased journalist of ranchi gives cheque of rupees one lakh fourteen thousand to daughter mth

सांसद ने रांची के पत्रकार की बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाया, दिया 1.14 लाख रुपये का चेक

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
सांसद संजय सेठ ने दिवंगत पत्रकार सतीश वर्मा की बेटी को सौंपा 1.14 लाख रुपये का चेक.
सांसद संजय सेठ ने दिवंगत पत्रकार सतीश वर्मा की बेटी को सौंपा 1.14 लाख रुपये का चेक.
Prabhat Khabar

रांची : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता और रांची के लोकसभा सांसद संजय सेठ ने राज्य के एक वरिष्ठ पत्रकार की बेटी का खर्च उठाया है. रविवार (30 अगस्त, 2020) को उन्होंने दिवंगत पत्रकार सतीश वर्मा की बेटी को 1.14 लाख (एक लाख 14 हजार रुपये) का चेक प्रदान किया.

सतीश वर्मा की पुत्री प्रगति आनंद आइआइटी मुंबई में पढ़ाई कर रही है. उसके पिता का इसी साल कैंसर से निधन हो गया था. उसी समय रांची के सांसद ने दिवंगत पत्रकार के परिजनों को आश्वासन दिया था कि वह उनके एक बच्चे की पढ़ाई का खर्च वहन करेंगे. अपने वादे के मुताबिक, श्री सेठ ने प्रगति की पढ़ाई का खर्च उठाया है.

रविवार को जब संजय सेठ ने प्रगति आनंद को चेक सौंपा, उस वक्त प्रगति की मां के अलावा रांची के कई पत्रकार भी मौजूद थे. पत्रकारों ने सांसद की इस पहल का स्वागत किया. कहा कि सांसद संजय सेठ हमेशा समाज एवं पत्रकारों के सुख-दुख में उनके साथ खड़े रहते हैं. उन्होंने सतीश वर्मा की बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाकर एक उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया है.

सांसद संजय सेठ और वहां मौजूद पत्रकारों ने प्रगति आनंद के उज्ज्वल भविष्य की कामना की. कहा कि वह पढ़ाई-लिखाई कर आगे बढ़े और ऊंचा मुकाम हासिल करे. अपने पिता के सपनों को पूरा करे. ज्ञात हो कि सतीश वर्मा के निधन के बाद सांसद संजय सेठ जब दिल्ली से लौटे, तो सीधे उनके घर गये थे और शोक संवेदना प्रकट करने के बाद कहा था कि वह उनके एक बच्चे की शिक्षा का पूरा खर्च उठायेंगे.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि सतीश वर्मा झारखंड के वरिष्ठ पत्रकार थे. उन्होंने प्रभात खबर समेत कई समाचार पत्रों में अपनी सेवाएं दीं. युवा पत्रकार के रूप में उन्होंने अपनी अलग छाप छोड़ी थी. कैंसर से जूझ रहे सतीश वर्मा लंबे अरसे तक राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में भर्ती रहे. डॉक्टरों की काफी कोशिशों के बावजूद उन्हें बचाया न जा सका.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें