36.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

झारखंड में तीन साल से एक जगह पर जमे हैं IG से लेकर DSP स्तर के अधिकारी, जानें चुनाव आयोग के निर्देश

सरायकेला एसपी डॉ बिमल हैं. वह बुंडू के निवासी है. यानी, उनका गृह जिला रांची है. आयोग के निर्देशानुसार, गृह जिला व अपने संसदीय क्षेत्र में अधिकारी का पदस्थापन नहीं किया जा सकता है.

प्रणव, रांची : चुनाव आयोग के निर्देश के बावजूद आइजी, डीआइजी, एसपी और डीएसपी स्तर के अधिकारी एक ही जिला व रेंज में तीन साल से ज्यादा समय से पोस्टेड हैं. आइपीएस राजकुमार लकड़ा जुलाई 2020 में पलामू डीआइजी के रूप में पदस्थापित किये गये थे. वर्ष 2023 में आइजी के पद पर प्रोन्नति मिलने के बाद वह पलामू के ही आइजी बनाये गये. पलामू में उनके पदस्थापन के तीन वर्ष गुजर जाने के बाद भी अब तक उनका तबादला नहीं हुआ है. आइपीएस अजय लिंडा डेढ़ वर्षों तक चाईबासा में एसपी रहे. फिर प्रोन्नति के बाद अप्रैल 2022 से वह कोल्हान रेंज (इसी रेंज में चाईबासा आता है) के डीआइजी हैं. वह भी तीन साल से ज्यादा समय से एक ही रेंज में पदस्थापित हैं.

सरायकेला एसपी डॉ बिमल हैं. वह बुंडू के निवासी है. यानी, उनका गृह जिला रांची है. आयोग के निर्देशानुसार, गृह जिला व अपने संसदीय क्षेत्र में अधिकारी का पदस्थापन नहीं किया जा सकता है. सरायकेला का हिस्सा ईचागढ़ रांची संसदीय क्षेत्र में है. ऐसे में डॉ कुमार के पदस्थापन को लेकर भी सवाल उठाया जा रहा है. इसके अलावा सरायकेला में ही पदस्थापित डीएसपी चंदन कुमार वत्स लगभग पांच वर्षों से डीएसपी हेडक्वार्टर के रूप में काम कर रहे हैं. जमशेदपुर के सिटी डीएसपी सुधीर कुमार के पदस्थापन को लेकर भी विवाद हो रहा है. श्री कुमार पूर्व में जमशेदपुर में पदस्थापित रहे हैं. बाद में उनका तबादला चाईबासा हो गया था. वहां पदस्थापित रहने के बाद वह लौट कर दोबारा जमशेदपुर में ही पदस्थापित किये गये हैं.

एक ही जगह पर तीन वर्षों से अधिक समय तक चुनाव कार्य से जुड़े किसी अधिकारी का पदस्थापन नियम विरुद्ध है. तीन वर्ष पूरा होने के बाद एक ही संसदीय क्षेत्र में भी अधिकारी का तबादला नहीं किया जा सकता है. चुनाव कार्य से जुड़े अफसर अपने गृह जिला में भी पदस्थापित नहीं रह सकते हैं. आयोग की अर्हता पूरा नहीं करने के बावजूद चार पुलिस अधिकारियों के पद पर बने रहने की जानकारी आयोग को है. उन सभी के तबादले की प्रक्रिया पूरी की जा रही है.
के रविकुमार, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

अपने ही संसदीय क्षेत्र में पुलिस पदाधिकारियों का नहीं करें पदस्थापन

रांची. लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर चुनाव आयोग के निर्देश पर तीन साल से एक ही जगह पर जमे पुलिस अफसरों का एक जिला से दूसरे जिला में तबादला किया गया है. उनको उनके ही संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में तैनात नहीं किया जाये. इस संबंध में डीजीपी के निर्देश पर डीआइजी कार्मिक नौशाद आलम ने रांची, जमशेदपुर और धनबाद के एसएसपी के अलावा अन्य जिलों के एसपी को पत्र लिखकर आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने को कहा है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें