1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news fraud in the name of crpf recruitment rs 4750 lakh was duped from the youth srn

झारखंड में CRPF बहाली के नाम पर युवकों से ठग लिए गए 47.50 लाख रूपये, ऐसे लिया लोगों को अपने झांसे में

गुमला व सिमडेगा के युवकों से सीआरपीएफ बहाली के नाम पर 47 लाख 50 हजार लाख रूपये की ठगी हुई है. इसमें 25 आदिवासी युवकों से डेढ़-डेढ़ लाख रूपये लिए व समान्य वर्ग के युवकों से दो दो लाख रूपये लिए गए. बता दें कि गठ सराकेला का रहने वाला है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीआरपीएफ बहाली के नाम पर गुमला में 47.50 लाख रूपये की ठगी
सीआरपीएफ बहाली के नाम पर गुमला में 47.50 लाख रूपये की ठगी
Prabhat Khabar सांकेतिक तस्वीर

Crime In Gumla, Jharkkhand Crime News गुमला : सीआरपीएफ में बहाली के नाम पर गुमला, खूंटी और सिमडेगा जिले के 30 युवकों से 47 लाख 50 हजार रुपये ठग लिये गये. 25 आदिवासी युवकों से डेढ़-डेढ़ लाख रुपये लिये गये, जबकि सामान्य वर्ग के पांच युवकों से दो-दो लाख रुपये ठगने का आरोप है. ठग सागर वंसिग सरायकेला-खरसावां का रहनेवाला है. ठग ने सभी 30 युवकों के वास्तविक प्रमाण पत्र भी अपने पास रख लिये हैं.

इतना ही नहीं, उसने सबको बाद में सीआरपीएफ में बहाली से संबंधित पत्र भी जारी कर दिया. अब पीड़ित युवकों ने गुमला एसपी से लिखित शिकायत की है. उन्होंने प्राथमिकी दर्ज कर ठग से पैसा और वास्तविक प्रमाण पत्र वापस दिलाने की मांग की है. युवकों ने बताया कि ठगी करनेवाला व्यक्ति खुद सीआरपीएफ का जवान है. जानकारी के अनुसार, ठगी के शिकार युवकों ने जमीन बंधक रखकर, मवेशी बेचकर और लोन लेकर पैसे जुटाये थे.

पूरी योजना बनाकर ठगे गये युवक :

वर्ष 2018 में सभी 30 युवक सीआरपीएफ में जाने की तैयारी कर रहे थे. इसी दौरान ठग ने पहले ओमप्रकाश साहू से संपर्क किया. उसने कहा कि जेनरल युवक को दो लाख और आदिवासी युवक को डेढ़ लाख देना होगा. सिर्फ मेडिकल होगा और बहाली हो जायेगी. सभी 30 युवक एक-दूसरे से संपर्क में आये और ठग को पैसे दिये. ठग ने सबको शारीरिक जांच के लिए चक्रधरपुर भी बुलाया. जहां ज्योति क्लिनिक में कैंप लगा कर सबकी मेडिकल जांच करायी.

मैट्रिक और इंटर का वास्तविक प्रमाण पत्र ले लिया. इसके बाद सभी युवकों को एक पत्र दिया, जिसमें बहाल हुए युवकों का नाम व रैंक था. साथ ही सबको नागपुर में आकर नौकरी में योगदान देने के लिए कहा. जब सभी युवक नागपुर गये, तो उन्हें पता चला कि वह ठगी के शिकार हो गये हैं. बाद में ठग ने पैसा वापस करने की बात कही, लेकिन बार-बार बहाना बनाता रहा. इसके बाद युवकों ने गुमला एसपी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की.

इनसे हुई ठगी :

सिमडेगा के प्रकाश साहू, राउरकेला के दुर्गा साहू, सिमडेगा के पवन साहू, निराल के प्रमोद डुंगडुंग, खूंटी के राजन टोपनो, सिमडेगा के अमन तिर्की, गुमला के विकास साहू, विष्णु बिलुंग, अमित साहू, मुन्ना उरांव, संजू उरांव, विकास उरांव, दिनेश उरांव, शनिशेखर भगत, राशन केरकेट्टा, अनुपम कुजूर, अर्पन केरकेट्टा, विमल सोरेन, विनोद सोरेन, बंधु उरांव, शांति प्रकाश तिर्की, राजेश उरांव, महेश उरांव, अनूप केरकेट्टा, अनमोल टेटे, थदवस कुल्लू, परदेशिया उरांव, अजय डुंग डुंग व अनुरेंग टेटे.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें