1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. gumla becomes the 1st district of jharkhand in digital beat policing steps towards smart policing smj

डिजिटल बीट पुलिसिंग में झारखंड का पहला जिला बना गुमला, स्मार्ट पुलिसिंग की ओर बढ़े कदम

गुमला जिला व पुलिस प्रशासन द्वारा डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम की शुरुआत की गयी. इसके तहत पुलिस अपने बीट में जाकर अटेंडेंस बनायेंगे. वहीं, क्षेत्र में पुलिस पुलिस गश्ती भी और तेज होगी. इसके लॉन्च के साथ ही यह राज्य का पहला जिला बन गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: गुमला में स्मार्ट पुलिसिंग की जानकारी देते डीसी व एसपी.
Jharkhand news: गुमला में स्मार्ट पुलिसिंग की जानकारी देते डीसी व एसपी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: गुमला जिला अब स्मार्ट पुलिसिंग की ओर बढ़ रहा है. जिले में डिजिटिलाइजेशन को बढ़ावा देने, पुलिस की सक्रियता बढ़ाने, शांति व्यवस्था बनाये रखने एवं क्राइम पर लगाम लगाने के लिए पुलिस विभाग की ओर से डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम लॉन्च किया गया है. पूरे झारखंड राज्य में डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम नहीं है. इस सिस्टम को शुरू करने वाला गुमला झारखंड राज्य का पहला जिला बन गया है.

डिजिटल बीट पुलिसिंग की खासियत

इस सिस्टम की खासियत यह है कि अब बीट पुलिस अपने बीट में जाकर क्यूआर से अपना अटेंडेंस बनायेगी. बिना बीट में पहुंचे अटेंडेंस बनाना संभव नहीं होगा. इससे क्षेत्र की पुलिस गश्ती भी होगी. बता दें कि गुमला शहरी क्षेत्र में 22 जगहों पर पुलिस बीट है. अब डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम शुरू होने से संबंधित पुलिस बीट के पुलिस को अपने बीट पर पहुंचना ही पड़ेगा. इससे न केवल डिजिटिलाइजेशन को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि पुलिस की सक्रियता भी बढ़ेगी. जिससे क्राइम पर भी लगाम लगेगी और पुलिस के प्रति लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा. इसका संचालन जिला नियंत्रण कक्ष गुमला से किया जायेगा.

डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम लॉन्च

इधर, डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम को सोमवार को लॉन्च किया गया. डीसी शिशिर कुमार सिन्हा एवं एसपी डॉ एहतेशाम वकारीब ने संयुक्त रूप से लॉन्च किया. इस मौके पर डीसी ने कहा कि पूरे राज्य में गुमला पहला जिला है, जहां डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम लॉन्च किया गया है.

जिले के 22 जगहों पर सिस्टम को किया लागू

मुख्य सचिव एवं डीजीपी द्वारा इंस्ट्रक्शन दिया गया था कि टेक्नोलॉजी बेस्ड की शुरूआत की जाये. जिसे ध्यान में रखते हुए डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम लॉन्च किया गया है. अभी पूरे गुमला शहर में 22 जगहों इस सिस्टम को लागू किया गया है. इसके अतिरिक्त गुमला शहर में ही और 50 जगहों पर इस सिस्टम को लगाया जायेगा. स्कूल, कॉलेज, ज्वेलरी दुकानों, पेट्रोल आदि जगहों पर लगाया जायेगा. मौके पर एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल, इंस्पेक्टर श्यामानंद मंडल, थाना प्रभारी मनोज कुमार, थाना प्रभारी कुंदन कुमार, जिला योजना पदाधिकारी विभूति नारायण सिंह सहित अन्य उपस्थित थे.

ग्रामीण क्षेत्रों में भी शुरू होगा बीट पुलिसिंग : डीसी

डीसी श्री सिन्हा ने बताया कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में भी बीट पुलिसिंग शुरू किया जायेगा. जिले में 12 प्रखंड हैं. ग्रामीण क्षेत्रों में नेटवर्क की समस्या है. इसके लिए 39 टावर कंपनियों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में टावर लगाया जायेगा. इसके बाद वहां भी बीट पुलिसिंग का कार्य होगा. इसका उद्देश्य है कि पुलिस लगातार पेट्रोलिंग करें. कार्य में किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाये. इससे विधि-व्यवस्था की समस्या दूर होगी. उग्रवाद पर नियंत्रण लगेगा और पुलिस के प्रति लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा.

स्वच्छ और शांति का सपना साकार होगा : एसपी

वहीं, एसपी डॉ वकारीब ने कहा कि जिला एवं पुलिस प्रशासन के सहयोग से पुलिस बीट में डिजिटल बीट पुलिस क्यूआर बेस्ड अटेंडेंस सिस्टम शुरू करने का उद्देश्य है कि पुलिस अपनी जिम्मेवारी को समझे और काम करें. पुलिस की अच्छी छवि बनें. इससे पुलिस पर लोगों का विश्वास बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि एक तरह से हम टेक्नोलॉली को अपना रहे हैं. यहां की जनता हमेशा से ही स्वच्छ और शांतिपूर्ण माहौल चाहती रही है. इससे जनता का सपना साकार होगा. इसके माध्यम से उग्रवाद पर भी लगाम लगेगा. उन्होंने बताया कि पूर्व में पुलिस बीट का ट्रायल किया गया है. जो सफल रहा. इसके बाद इसे शुरू किया गया है. इस जिले के लिए यह पहल काफी सार्थक साबित होगा. उन्होंने बताया कि संबंधित बीट की पुलिस रोजाना पांच बार अपने बीट में जाकर क्यूआर से अपना अटेंडेंस बनायेंगे. इसमें कोताही बरतने वाले पुलिस बीट के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें