1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dumka
  5. dumka sp revealed rajoun banka murder case nurse having illicit relation planned with lover to kill unemployed husband bihar banka rajoun crime news mtj

नर्स ने प्रेमी के साथ मिलकर करायी बेरोजगार पति की हत्या, दुमका के एसपी ने किया खुलासा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नर्स पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर करायी बेरोजगार पति की हत्या, दुमका के एसपी ने किया खुलासा.
नर्स पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर करायी बेरोजगार पति की हत्या, दुमका के एसपी ने किया खुलासा.
Prabhat Khabar

दुमका (आनंद जायसवाल) : बिहार के बांका जिले के रजौन के विजयहाट स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित नर्स ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर बेरोजगार पति की हत्या की साजिश रची थी. दुमका पुलिस ने हत्या के आठवें दिन इस मर्डर मिस्ट्री का खुलासा किया और मर्डर की साजिश रचने वालों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

पुलिस ने बताया कि नर्स के अपने ही पति के दोस्त के साथ नाजायज संबंध थे. इसलिए उसने अपने पति को रास्ते हटाने की साजिश रची और प्रेमी के जरिये उसकी हत्या करवा दी. प्रेमिका के इशारे पर अपने दोस्त की हत्या करने वाले शख्स को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

दुमका के एसपी अंबर लकड़ा ने बताया कि मृतक सुनील दास की हत्या के मामले में उसकी पत्नी लीलू भारती उर्फ खुशबू (30) और उसके प्रेमी योगेश दास (30) को गिरफ्तार कर लिया गया है. हत्या में प्रयुक्त देशी हथियार, दो मैगजीन के साथ 8 जिंदा कारतूस, तीन मोबाइल फोन व रेनो क्विड कार (JH 01 CT 6508) बरामद कर ली गयी है.

एसपी ने कहा है कि लीलू भारती उर्फ खुशबू के अपने पति सुनील दास के दोस्त बांका-बाराहाट निवासी योगेश दास के साथ नाजायज संबंध थे. वहीं, सुनील भी अपनी पत्नी को परेशान करता था. ऐसे में लीलू ने प्रेमी के साथ मिलकर साजिश रची और पति की हत्या की योजना बनायी.

इसी क्रम में 12 नवंबर की रात उसे रजौन से तालझारी थाना क्षेत्र में लेकर गये और शराब पिलाकर नशे की हालत में उसे गोली मार दी. एक गोली मारने के बाद दूसरी गोली नहीं चली, तो योगेश ने चाकू भी घोंप डाला. सुनील की पहचान छिपाने के लिए पिस्तौल की बट सेउसके चेहरे को क्षत-विक्षत कर दिया.

सरैयाहाट के बरमनिया का रहने वाला था सुनील

सुनील सरैयाहाट के बरमनिया गांव का निवासी था. पत्नी की जॉब की वजह से रजौन में पूरा परिवार रहता था. वह खुद बेरोजगार था. वर्ष 2017-18 में सुनील ने भी ड्रेसर का प्रशिक्षण लिया था. सुनील-लीलू के दो बच्चे हैं. योगेश भी शादीशुदा था. उसके तीन बच्चे हैं. वह वहां अनुबंध पर शिक्षक के तौर पर कार्यरत था. योगेश-लीलू दूर के रिश्तेदार भी हैं.

अपनी कार से सुनील को ले गया योगेश

लीलू और उसके प्रेमी योगेश ने जो प्लान बनाया था, उसी प्लान के तहत योगेश अपनी कार से सुनील को लेकर निकला था. उसे रास्ते में पहले शराब पिलायी. सुनील जब पूरी तरह से नशे में धुत हो गया, तो उसकी हत्या कर दी. सुनील की मोबाइल को दूसरी जगह जोरिया में पुलिया के नीचे फेंक दिया.

एसपी ने बताया कि इस मामले की जांच के लिए जो एसआइटी गठित की गयी थी, उसमें जरमुंडी एसडीपीओ अनिमेष नैथानी, हंसडीहा के सर्किल इंस्पेक्टर प्रभुनाथ प्रसाद, तालझारी थाना प्रभारी दिनेश कुमार सिंह, हंसडीहा थाना प्रभारी अमित लकड़ा एवं एसआइ मनोज करमाली शामिल थे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें