1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. upsc civil services 2020 results yash jaluka of dhanbad got 4th rank dr apala got success in third attempt smj

UPSC Civil Services 2020 Results: धनबाद के यश जालूका को मिला 4th रैंक, तीसरे प्रयास में डॉ अपाला को मिली सफलता

UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2020 में धनबाद के यश जालूका और डॉ अपाला मिश्रा को सफलता मिली है. झरिया के यश जालुका को चौथा स्थान मिला है. वहीं, धनबाद की डॉ अपाला मिश्रा ने 9वीं रैंक प्राप्त की है. डॉ अपाला को यह सफलता तीसरे प्रयास में मिली है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
स्क्रैप कारोबारी का बेटा यश जालूका बने IAS, धनबाद की डॉ अपाला को तीसरे प्रयास में मिली सफलता.
स्क्रैप कारोबारी का बेटा यश जालूका बने IAS, धनबाद की डॉ अपाला को तीसरे प्रयास में मिली सफलता.
प्रभात खबर.

UPSC Civil Services 2020 Results (धनबाद) : सिविल सेवा परीक्षा 2020 में धनबाद के यश जालूका को पूरे देश में चौथा स्थान मिला है. वहीं, डॉ अपाला मिश्रा ने 9वीं रैंक प्राप्त की है. झरिया के यश जालूका डी-नोबिली स्कूल, डिगवाडीह से पढ़ाई की है. दूसरी ओर, डॉ अपाला ने तीसरे प्रयास में यह सफलता पायी है.

पूरे भारत में झरिया का उत्कृष्ट प्रदर्शन

धनबाद जिला अंतर्गत झरिया के यश जालूका ने पूरे भारत में झरिया का नाम रोशन किया है. यश ने UPSC सिविल सेवा परीक्षा में चौथा स्थान प्राप्त किया है. झरिया के पोद्दारपाड़ा निवासी महावीर जालूका के भतीजे व मनोज जालूका के सुपुत्र यश जालूका ने यह कीर्तिमान स्थापित किया है.

यश के पिता मनोज जालूका लोहा व्यवसायी हैं. बड़े भाई अंकुर झरिया के लक्ष्मीणियां मोड़ में राशन की दुकान चलाते हैं. यश ने डी-नोबिली, डिगवाडीह से 8वीं पास किये. वहीं, जेवियर्स स्कूल 10वीं पास किये. 12वीं की पढाई बोकारो में करने के बाद वे दिल्ली चले गये. वहीं, यश जालूका रहकर पढ़ाई पूरा किये.

दिल्ली से बीकॉम और मास्टर डिग्री की पढ़ाई किये. इसी बीच UPSC की तैयारी में जुट गये और आज इस परीक्षा में चौथा स्थान हासिल किया. फिलहाल यश के पिता मनोज जालूका अभी ओड़िशा के बडबिल में रहकर स्क्रैप का काम करते हैं. इनके पिता मनोज जालूक व मां शोभा जालूका और उसकी दो बहनें हैं.

डॉ अपाला मिश्रा को 9वीं रैंक

धनबाद की बेटी डॉ अपाला मिश्रा ने शुक्रवार को जारी यूपीएससी 2021 के परीक्षा परिणाम में देशभर में 9वां स्थान प्राप्त किया है. डॉ अपाला का परिवार हाउंसिंग कॉलोनी में HIG-7 में रहता है. अभी वह उनके पिता रिटायर कर्णल अमिताभ मिश्रा और मां डॉ अल्पना मिश्रा के साथ नोएडा में रहती है. वह खुद सेना में डेनटिस्ट हैं.

डॉ अपाला की 10वीं तक की स्कूली पढ़ाई देहरादून के एन मैरी स्कूल से हुई है. इसके बाद उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई दिल्ली पब्लिक स्कूल, रोहिनी से की है. इसके बाद उन्होंने डेनटिस्ट की पढ़ाई आर्मी कॉलेज ऑफ डेंटल साइंस हैदराबाद से डेनटिस्ट (बीडीएस) की पढ़ाई की है.

तीसरे प्रयास में निकला UPSC

डॉ अपाला ने तीसरे प्रयास में UPSC परीक्षा में यह सफलता पायी है. उन्होंने बताया कि उनकी इस सफलता में उनके माता-पिता का सबसे अहम योगदान है. उन दोनों ने हमेशा ही जीवन में बेहतर करते रहने के लिए प्रेरित किया है. वे बताती हैं कि इस प्रतिष्ठित परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे अधिक आत्मविश्वास की आवश्यकता है. इसके साथ प्रति दिन 7 से 8 घंटे पढ़ाई करनी चाहिए. पढ़ाई में सेल्फ स्टडी को प्राथमिकता देनी चाहिए.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें