22.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यगुजरातनौवीं क्लास की लड़की की कार्डियक अरेस्ट से मौत, जानें हार्ट अटैक से कितना अलग है यह

नौवीं क्लास की लड़की की कार्डियक अरेस्ट से मौत, जानें हार्ट अटैक से कितना अलग है यह

कार्डियक अरेस्ट की बात करें तो जब इंसान के दिल की धड़कन रुक जाती है और यह शरीर के बाकी हिस्सों तक खून की सप्लाई करने में सक्षम नहीं होता है. इससे गुजरात में नौवीं क्लास की लड़की की मौत हुई है.

गुजरात से एक ऐसी खबर सामने आ रही है जो चर्चा का केंद्र बन गई है. दरअसल, गुजरात के अमरेली शहर में शुक्रवार को कक्षा 9 में पढ़ने वाली एक 15 वर्षीय लड़की की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि स्कूल के परीक्षा हॉल में प्रवेश करते समय कार्डियक अरेस्ट की वजह से लड़की की मौत हो गई. मृतक की पहचान राजकोट के जसदान तालुका की मूल निवासी साक्षी राजोसरा के रूप में की गई, जो सुबह शांताबा गजेरा स्कूल की कक्षा में गिर गईं. बेहोशी की हालत में साक्षी को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. मौत की सही वजह का पता लगाने के लिए लड़की के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है. आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में गुजरात में, विशेषकर राजकोट में युवाओं में कार्डियक अरेस्ट की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताई गई है.

क्या होता है कार्डियक अरेस्ट?

कार्डियक अरेस्ट की बात करें तो जब इंसान के दिल की धड़कन रुक जाती है और यह शरीर के बाकी हिस्सों तक खून की सप्लाई करने में सक्षम नहीं होता है तो, उस स्थिति को कार्डियक अरेस्ट कहा जाता है. जब किसी इंसान को कार्डियक अरेस्ट होता है तो वह मिनटों में ही बेसुध या बेहोश हो जाता है. इस वक्त मरीज के आसपास मौजूद लोगों को सचेत हो जाने की जरूरत होती है. ऐसा इसलिए क्योंकि इलाज तुरंत नहीं मिलने से मरीज की मौत तक हो जाती है.

कार्डियक अरेस्ट आने की वजह जानें

कार्डियक अरेस्ट को लेकर जो बात कही जाती है उसके अनुसार, यह किसी को कभी भी हो सकता है. कई बार हार्ट अटैक भी इसकी एक वजह हो सकती है. इसके अलावा यदि किसी इंसान की दिल की मांसपेशियां कमजोर हैं तो उसको भी कार्डियक अरेस्ट का खतरा रहता है. आपको बता दें कि हार्ट अटैक कार्डियक अरेस्ट से बहुत अलग है होता है. यह कार्डियक अरेस्ट से कम खतरनाक बताया जाता है. जब इंसान के दिल तक खून पहुंचाने वाली धमनियों में दिक्कत आती है. या यूं कहें कि धमनियां 100 फीसदी ब्लॉक हो जाती हैं, उस स्थिति में इंसान को हार्ट अटैक की समस्या होती है.

Also Read: Kanpur: हार्ट अटैक और स्ट्रोक के इंजेक्शन पर जल्द होगा शोध, एलपीएस कार्डियोलॉजी को मिला रिसर्च का जिम्मा

हार्ट अटैक के क्या हैं लक्षण?

हार्ट अटैक की बात करें तो इसके आने से ठीक पहले कई तरह के लक्षण इंसान में देखने को मिलते हैं. इनमें इंसान को सीने में दर्द होता है या सीने में भारीपन महसूस होता है. इसके अलावा सांस फूलना, पसीना आना या उल्टी होना भी इसके कुछ अन्य लक्षण है. हार्ट अटैक आने की वजह पर गौर करें तो इंसान की खराब लाइफस्टाइल इसमें से एक है. आजकल लोगों का गलत खानपान या नींद ठीक से ना लेना भी हार्ट अटैक की वजह होती है. यही नहीं एक्सरसाइज न करना हार्ट अटैक की सामान्य वजह हो सकती है.

Also Read: हार्ट अटैक के बाद कैसी चल रही है Sushmita Sen की लाइफ, एक्ट्रेस बोलीं- एक दौर था जो…

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें