1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. sitamarhi news bajrang dal leader rakesh jha murder in sitamarhi news angry villagers chaos and rift with police market closed bihar news upl

Sitamarhi News: बजरंग दल नेता की हत्या के बाद ग्रामीणों में उबाल, बाजार बंद और भारी बवाल, दंगा निरोधी दस्ता तैनात

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बंद रहा बैरगनिया बाजार, सड़क पर शव रख कर किया जाम
बंद रहा बैरगनिया बाजार, सड़क पर शव रख कर किया जाम
Prabhat khabar

Sitamarhi News: बजरंग दल (Bajrang Dal) के जिला सह संयोजक राकेश झा की हत्या के खिलाफ रविवार की सुबह लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. हत्या से गुस्साये समर्थकों, भाजपा और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने सीतामढ़ी के बैरगनिया बाजार को बंद कराया. नगर के व्यस्ततम पटेल चौक पर शव रख आगजनी कर लगभग तीन घंटों तक सड़क जाम रखी. इस दौरान पुलिस व प्रशासन के विरोध में जम कर नारेबाजी भी की.

समर्थक व भाजपा कार्यकर्ता राकेश झा की हत्या को राजनीतिक हत्या बता कर गहन जांच कराने और अपराधियों को अविलंब गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे. सुबह पौ फटने के साथ ही समर्थकों व कार्यकर्ताओं का हुजूम बैरगनिया बाजार स्थित पटेल चौक पर जुटने लगा था. पोस्टमार्टम के बाद जैसे ही शव पहुंचा, लोग आक्रोशित हो उठे. हालांकि, शनिवार की शाम की घटना को लेकर बाजार और आसपास क्षेत्र के लोग पहले से डरे-सहमे थे. इसका प्रभाव सुबह से ही बाजार में भी देखा जा रहा था.

बाजार के मेन रोड से लेकर पटेल चौक, गुदरी बाजार, काली मंदिर चौक, अस्पताल रोड, घी-पट्टी, आबकारी चौक, डुमरवाना रोड, दुर्गा पथ, स्टेशन चौक, भास्कर सिनेमा रोड, बाबा लालदास मठ रोड समेत अन्य जगहों की दुकानें दोपहर तक बंद रहीं. सड़क जाम की वजह से बैरगनिया-सीतामढ़ी-मोतिहारी और गौर रोड (नेपाल) में वाहनों का परिचालन प्रभावित रहा.

सूचना मिलने पर सदर एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय, रीगा सर्किल इंस्पेक्टर दयाशंकर प्रसाद, बीडीओ विजय कुमार मिश्रा, सीओ, नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी शशिभूषण मिश्र, थानाध्यक्ष अमिता सिंह ने पुलिस बल के साथ पहुंच कर आक्रोशितों को समझाने-बुझाने का प्रयास किया. कुछ लोग थानाध्यक्ष को निलंबित की भी मांग कर रहे थे.

सड़क जाम व विरोध-प्रदर्शन में शामिल लोगों की ओर से एसडीपीओ को चार सूत्री मांगपत्र सौंपा गया. एसडीपीओ ने उपरोक्त मांगों पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया, जिसके बाद सड़क से जाम समाप्त किया जा सका. फिलहाल, कई थानों की पुलिस के साथ दंगा निरोधी दस्ता तैनात किया गया है.

तीन वर्ष पूर्व ही जरायम की दुनिया को कर चुका था सलाम

तीन वर्ष पूर्व ही राकेश झा जरायम की दुनिया को सलाम करते हुए खुद को इससे अलग कर चुका था. उसके विरुद्ध बैरगनिया नगर पंचायत के पूर्व वार्ड पार्षद सह ठेकेदार राजीव गौतम उर्फ राजा बाबू की हत्या का भी आरोप लगा था. इसके अलावा राकेश रंगदारी, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम समेत कई मामलों में भी आरोपित था. हालांकि, उक्त सभी मामलों में कोर्ट से वह जमानत पा चुका था. राकेश की चर्चा कभी गैंगस्टर संतोष झा के खास शागिर्द में होती थी.

बताया जा रहा है कि इधर के दिनों में राकेश का अपराध से कोई नाता-रिश्ता नहीं था. बजरंग दल में शामिल होकर वह खुद को समाज व राजनीति की मुख्यधारा में जोड़ चुका था. बीते विधानसभा चुनाव में उसने सक्रिय कार्यकर्ता के तौर पर काम किया था. पुलिस व प्रशासन द्वारा उस पर सीसीए भी लगाया गया था. इधर, पंचायत चुनाव लड़ने की वह पूरी तैयारी चुका था. चर्चा है कि पंचायत समिति सदस्य के तौर पर चुनाव जीत कर प्रमुख पद हासिल करना चाहता था.

विधायक ने कहा-राकेश की हत्या पूरी तरह राजनीतिक

विधायक मोतीलाल प्रसाद ने राकेश झा की हत्या को राजनीतिक साजिश बताया है. रविवार को पत्रकारों से बातचीत करते श्री प्रसाद ने कहा कि राकेश झा का अपराध की दुनिया से कुछ भी लेना-देना नहीं था. वह भाजपा के अनुसांगिक संगठन बजरंग दल से जुड़ कर समाज व पार्टी की सेवा में तत्पर रहता था. वह पंचायत चुनाव लड़ना चाहता था.

उन्होंने हत्या की पूरी जांच कर अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की. जदयू नेता विमल शुक्ला ने कहा कि राकेश पिछले 10 वर्षों से सामाजिक क्षेत्र में अपनी मजबूत पैठ बनायी थी. एनडीए के सक्रिय कार्यकर्ता के तौर पर उसने विगत विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभायी थी. यह राजनीतिक हत्या है, जो पुलिस की विफलता के कारण हुई है. उन्होंने थानाध्यक्ष को अविलंब निलंबित करने की मांग की है.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें