1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. shahabuddin closed leader harishankar yadav mla big statement on lalu yadav and tejashwi yadav in bihar politics avh

'लालू-तेजस्वी को नहीं जानता हूं', शहाबुद्दीन के करीबी विधायक हरिशंकर यादव का बड़ा बयान, राजद में हड़कंप!

राजद विधायक हरिशंकर यादव ने कहा है कि वे शहाबुद्दीन और हिना सहाब परिवार के लिए वफादार हैं और उन्हें लालू यादव और तेजस्वी यादव से कोई मतलब नहीं है. बताया जा रहा है कि हरिशंकर यादव के इस बयान से पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तेजस्वी यादव के साथ हरिशंकर यादव
तेजस्वी यादव के साथ हरिशंकर यादव
फेसबुक

बिहार के पूर्व सांसद और बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की निधन के बाद से ही राजद में राजनीतिक सरगर्मी तेज है. राजद के रघुनाथपुर से विधायक हरिशंकर यादव ने आज बड़ा बयान दिया है. हरिशंकर यादव ने कहा है कि वे पार्टी सुप्रीमो लालू यादव और बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को नहीं जानते हैं.

स्थानीय मीडिया से बात करते हुए राजद विधायक हरिशंकर यादव ने कहा है कि वे शहाबुद्दीन और हिना सहाब परिवार के लिए वफादार हैं और उन्हें लालू यादव और तेजस्वी यादव से कोई मतलब नहीं है. बताया जा रहा है कि हरिशंकर यादव के इस बयान से पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है.

क्या कहा हरिशंकर यादव ने

रघुनाथपुर से राजद विधायक हरिशंकर यादव ने कहा है कि वे कभी भी शहाबुद्दीन परिवार के साथ गद्दारी नहीं कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि मुझे पहली बार विधायक 'साहेब' ने ही बनवाया. उन्होंने ही मुझे राजद से टिकट दिलवाया. यह पूछे जाने पर कि क्यि वे तेजस्वी-लालू के साथ जा सकते हैं? इसपर हरिशंकर यादव ने कहा कि मैं किसी लालू और तेजस्वी को नहीं जानता हूं.

हिना सहाब को मनाने की कवायद?

हरिशंकर यादव के इस बयान के पीछे हिना सहाब की नाराजगी को भी देखा जा रहा है. दरअसल, शहाबुद्दीन का अंतिम संस्कार दिल्ली में ही हुआ. बताया जा रहा है कि उनके अंतिम संस्कार में बेटे ओसामा अकेले ही सबकुछ करते रहे. बताया जा रहा है कि हिना सहाब इसी वजह से हरिशंकर यादव से नाराज हैं. पिछले दिनों जब हिना सहाब दिल्ली से आईं तो उन्होंने हरिशंकर यादव से बात भी नहीं की.

शहाबुद्दीन की मौत के बाद से ही जारी है उठापटक

बताते चलें कि शहाबुद्दीन की मौत के बाद से ही राजद में उठापटक जारी है. बताया जा रहा है कि शहाबुद्दीन के परिजन उनके शव को पैतृक गांव में सुपुर्द ए खाक करना चाहते थे, लेकिन दिल्ली सरकार ने इसकी परमिशन नहीं दी. इसको लेकर उनकेबेटे ओसामा ने तेजस्वी पर ट्वीट कर अटैक भी किया था. हालांकि बाद में वो ट्वीट डिलीट कर लिया गया. बता दें कि शहाबुद्दीन का निधन डीडीयू अस्पताल में कोरोना से बीते दिनों हो गया था.

Posted By : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें