1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. rajgir zoo safari and glass bridge good news for tourist cm nitish inaugurate rajgir zoo safari nature safari and skywalk glass bridge in april 2021 upl

पर्यटकों के लिए खुशखबरी! राजगीर जू सफारी का अप्रैल में लोकार्पण, ग्लास ब्रिज से देख सकेंगे विहंगम दृश्य

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इसी जू सफारी में स्काई वॉक ग्लास ब्रिज बना है जो देश का दूसरा और बिहार का पहला है.
इसी जू सफारी में स्काई वॉक ग्लास ब्रिज बना है जो देश का दूसरा और बिहार का पहला है.
FIle

देश दुनिया में प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में से एक बिहार (Bihar) के राजगीर में जू सफारी (Rajgir Zoo Safari) और नेचर सफारी (Rajgir Nature Safari) का निर्माण अब अंतिम चरण में है. पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री नीरज कुमार सिंह ने कहा है कि राजगीर जू सफारी अप्रैल 2021 में शुरू हो जायेगा. उन्होंने मंगलवार को अपने बजट भाषण में ये जानकारी दी है.

इसी जू सफारी में स्काई वॉक ग्लास ब्रिज (Rajgir Glass Bridge) बना है जो देश का दूसरा और बिहार का पहला है. राजगीर जू सफारी में पांच जोन होंगे. जिसमें बाघ, शेर, तेंदुआ, भालू, हिरण के अलावा चिड़ियों के लिए भी एक एवियरी होगी. तितलियों का भी एक पार्क होगा. इसमें हर जोन का 30 फीट ऊंची ग्रिल का घेरा है. बीते माह से लेकर अब तक इस सफारी में कई जानवरों को पटना जू और दूसरे राज्यों लाया गया है.

बता दें कि जू सफारी का शिलान्यास 27 फरवरी वर्ष 2017 को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया था. तब से लेकर अब तक सीएम नीतीश ने कई मौकों पर वहां जाकर निर्माण कार्य का जायजा लिया है. अब जल्द ही राजगीर के स्वर्णगिरि और वैभवगिरि पर्वत के बीच 480 एकड़ भूमि पर पर्यटक खुले में घूमते शेर, भालू, बाघ और चीता सहित अन्य जानवरों को बंद गाड़ी में बैठकर देख सकेंगे.

Rajgir Glass Bridge: ग्लास स्काई वॉक बना आकर्षण का केंद्र

जू सफारी का लोकार्पण होते ही स्काई वॉक ग्लास ब्रीज प्रयटकों के लिए खोल दिया जाएगा.उद्घायन से पहले ही इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई हैं. प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह स्काई वॉक ब्रीज में लगा ग्लास जर्मनी की कंपनी में बना है. एक बार में 20-25 लोग इस पर घूम सकेंगे. इस पर चलने के बाद ऐसा लगेगा मानो उन्हें हरी-भरी वादियों से भरी घाटी के बीच हवा में टंगे हुए हैं.

ब्रिज से पर्यटक जू सफारी का भी विहंगम दृश्य देख सकेंगे. इसकी लंबाई 85 फीट और चौड़ाई 5 फीट है. इसे पहाड़ों की दो चोटी के बीच गहरी खाई के ऊपर बनाया गया है.राजगीर में नेचर सफारी के साथ-साथ जू सफारी आकर देखने और घूमने से युवा पीढ़ी को प्रकृति के संबंध में काफी जानकारियां मिलेंगी और वे पर्यवारण के प्रति सजग होंगे.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें