1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. veterinarians of bihar are teaching the world online animal treatment on you tube skt

बिहार के पशु विज्ञानी दुनिया को ऑनलाइन सिखा रहे पशु उपचार, जटिल ऑपरेशन भी आसानी से सीख रहे डॉक्टर

बिहार के पशु विज्ञानी दुनिया को ऑनलाइन पशु उपचार सिखा रहे हैं. पशु चिकित्सा की ऑनलाइन पढ़ाई में सभी आठ विवि को कुल 1.82 लाख व्यूज मिले हैं. बिहार एनिमल साइंस विवि को 5. 20 लाख लोगों ने पंसद किया. पशु विज्ञानी ऑनलाइन ही बड़े से बड़ा ऑपरेशन करना सिखा रहे हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
सोशल मीडिया.

के सज्जानी श्रीलंका में रहते हैं. पशु चिकित्सा के छात्र हैं. मछलियों पर अध्ययन कर रहे श्रीलंकाई छात्र ने बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (बासु) को मछलियों के उपचार- वृद्धि के उन वीडियो के लिए आभार प्रकट किया है, जिनकी मदद से वह अपने विषय के एक्सपर्ट बन सके. हरियाणा के प्रतिपाल और दक्षिण के नरेश रेड्डी भी बासु के यूट्यूब चैनल से अपनी समस्या का समाधान करने वालों में एक हैं.

खूब लोकप्रियता बटोर रहा बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय

पशु संवर्धन के क्षेत्र में भले ही देश के अन्य राज्य आगे हों, पशु विज्ञान की पढ़ाई और उसके जरिये अधिक- से- अधिक लोगों का हित कराने में बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय खूब लोकप्रियता बटोर रहा है. यहां के पशु विज्ञानी दुनिया को ऑनलाइन ही बड़े से बड़ा ऑपरेशन करना सीखा दे रहे हैं. क्लास रूम, पशु चिकित्सा, ऑपरेशन को वर्चुअल रूप में लोगों को तक पहुंचाया जा रहा है. वेबसाइट- यू ट्यूब चैनल के जरिये पाठ्य- उपचार, सलाह संबंधी सामग्री- वीडियो को भारत ही नहीं, पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, फिलिपिंस और इथियोपिया में भी खूब देखा जा रहा है.

जटिल ऑपरेशन भी आसानी से सीख रहे

पिछले पैर के घुटना की चकरी जाम लॉक होने से गाय भैंस बैठ नहीं पाते. इस महंगे और जटिल ऑपरेशन उपचार को आसान बनाने के लिए डॉ रमेश तिवारी ने वीडियो अपवर्ड फिक्सेशन ऑफ पटेल्ला एंड स्ट्रिंगहाल्ट इन लार्ज एनिमल तैयार किया है. इसे देख कर सामान्य डाॅक्टर भी ऑपरेशन कर सकते हैं. इसे 45,600 व्यूज मिले हैं.

यू ट्यूब - Bihar Animal Sciences University, Patna

वेबसाइट - https://basu.org.in

पश्चिम- दक्षिण के सभी विवि हमसे पीछे : वीसी (डॉ) रामेश्वर सिंह

बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रामेश्वर सिंह बताते हैं कि पशुपालकों, पशु चिकित्सा के प्रैक्टिशनर और छात्र हित में हम ऑनलाइन कंटेट उपलब्ध करा रहे हैं. इसकी लोकप्रियता इतनी है कि देशभर के आठ नामचीन विश्वविद्यालय पाठ्य सामग्री के कुल सब्सक्राइबर 6268 और व्यूज 182096 हैं. अकेले बिहार पशु विज्ञान विवि के 10,308 सब्सक्राइबर और व्यूज 5,20,947 हैं. कंटेट की संख्या की बात की जाये, तो सभी आठ एनिमल यूनिवर्सिटी ने मात्र 322 वीडियो जारी किये हैं. हमारी यह संख्या 1716 है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें