1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. lockdown politics news update bihar deputy cm sushil modi tweet and tagrets rjd chief lalu prasad yadav online election campaign for bihar assembly polls

आरजेडी पर सुशील मोदी का निशाना, कहा- लाठी में तेल पिलाने वाले ही ऑनलाइन चुनाव प्रचार के खिलाफ माहौल बनाने में लगे

By Samir Kumar
Updated Date
Bihar Deputy CM Sushil Modi Tweet and tagrets RJD
Bihar Deputy CM Sushil Modi Tweet and tagrets RJD
FILE PIC

पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को ट्वीट कर राष्टीय जनता दल (राजद) पर निशाना साधा है. सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि कोरोना संक्रमण ने दुनिया भर में जब कामकाज का तरीका बदल दिया, तब इस साल बिहार विधानसभा का चुनाव भी डिजिटल तरीके से ऑनलाइन क्यों नहीं हो सकता? चुनाव आयोग अगर ऐसी व्यवस्था करता है, तो वह निष्पक्षता और पारदर्शिता भी सुनिश्चित करेगा. बिहार से जुड़ी हर News in Hindi से अपडेट रहने के लिए बने रहें हमारे साथ.

उपमुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि इसको लेकर केवल वही लोग दुराग्रही हो सकते हैं, जिन्हें ईवीएम आने के बाद से बूथ लूट कर सत्ता हथियाने के मौके मिलने बंद हो गये. गरीबों के वोट लूटकर मतपेटियों से जिन्न निकलने का दावा करने का तिलिस्म टूटने से बौखलाए लोग ऑनलाइन चुनाव प्रचार के विरुद्ध नरेशन गढ़ने में लग गये.

सुशील मोदी ने आगे कहा कि जिन लोगों ने आईटी-वाईटी का मजाक उड़ाया, वे आज इसी आईटी-वाईटी के सहारे किसी अज्ञात स्थान या जेल से सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं. उन्होंने कहा कि इन लोगों ने आधार कार्ड और जन-धन खातों का भी विरोध किया, लेकिन इस कोरोना आपदा के समय आईटी से लैस इन खातों के जरिये करोड़ों गरीबों, महिलाओं और बुजुर्गों के हाथ तक पैसे पहुंचे. चुनाव हो या सरकारी योजना, डिजिटल तरीका भ्रष्टाचार और धांधली रोकने वाला है, इसलिए घोटालेबाज हमेशा इसका विरोध करते हैं.

महागठबंधन को कोरोना की कम अस्तित्व की चिंता अधिक : नंदकिशोर

वहीं, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा है कि बिहार में विपक्षी कुनबे में शामिल दलों को कोरोना जैसी महामारी की नहीं अपने अस्तित्व बचाये रखने के संकट की चिंता सता रही है. उन्होंने कहा कि आज यहां महागठबंधन में शामिल दलों और उनके नेताओं की कथनी और करनी पर प्रहार करते हुए कहा कि यह कैसा गठबंधन है, जिसमें दल और उसके नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने की कोशिश में जुटे हैं. जब पूरा देश कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है. केंद्र और राज्य सरकार कोरोना से जंग लड़ते हुए लोगों को रोजी-रोजगार उपलब्ध कराने को तत्पर हैं. प्रवासी मजदूरों को घर लाने के लिए कृत संकल्पित हैं. वहीं, विपक्षी पार्टियों में सियासी खिचड़ी पक रही है. अजीब विडंबना है इन दलों की.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें