22.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

कर्पूरी ठाकुर के बाद बिहार की इन दो हस्तियों को भी मिले भारत रत्न, जीतन राम मांझी ने की मांग

जीतन राम मांझी ने बिहार की दो महान हस्तियों दशरथ मांझी और डॉ. श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो गारंटी देते हैं उसे पूरा करते हैं. केंद्र सरकार ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की घोषणा कर उनका सम्मान बढ़ाया है.

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की 100वीं जयंती (24 जनवरी) से ठीक एक दिन पहले 23 जनवरी को केंद्र सरकार ने उन्हें भारत रत्न की उपाधि देने की घोषणा की. इस ऐलान के बाद राज्य की सभी पार्टियों में इसका श्रेय लेने की होड़ मच गई है. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिये जाने का स्वागत किया है. इसके साथ ही उन्होंने राज्य की दो अन्य हस्तियों के लिए भी भारत रत्न की मांग की है.

जीतन राम मांझी ने इनके लिए की भारत रत्न की मांग

जीतन राम मांझी ने बिहार की दो महान हस्तियों दशरथ मांझी और डॉ. श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो गारंटी देते हैं उसे पूरा करते हैं. केंद्र सरकार ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की घोषणा कर उनका सम्मान बढ़ाया है. यह सिर्फ जन नेता का सम्मान नहीं बल्कि पिछड़ी जाति और जनजाति का भी सम्मान है.

मांझी ने सोशल मीडिया पर किया पोस्ट

जीतन राम मांझी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि पिछड़ों के लाल को तो भारत रत्न मिल गया अब दशरथ मांझी जी और डॉ श्री कृष्ण सिंह जी की बारी है. ‘मांझी द मांउंटेनमैन से मांझी द भारत रत्न’, एवं ‘श्री बाबू बिहार के शिल्पकार से भारत के रत्न’, मोदी है तो भरोसा है, मोदी है तो गारंटी है.


मांझी ने एक अन्य पोस्ट में लिखा कि लालू जी UPA सरकार में 10 साल थे, उस वक्त वह इतने शक्तिशाली थें कि अगर चाहतें तो खुद भी ‘भारत रत्न’ की उपाधि से सम्मानित करवा सकतें थें, पर कुछ नहीं किया. खैर मोदी हैं ना, सबका सपना पूरा होगा, पर्वत पुरुष दशरथ मांझी एवं डॉ श्रीकृष्ण सिंह भी सम्मानित होंगे क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है.

देश में वंचितों का सम्मान झुकने नहीं दिया जायेगा : मांझी

वहीं, इससे पहले कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने के ऐलान पर खुश जाहिर करते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि पार्टी ने दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन में कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का प्रस्ताव पास किया था. साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री से भी मुलाकात कर कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने की मांग की गई थी. अब केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अति पिछड़ों के मसीहा कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देकर साबित किया है कि देश में वंचितों का सम्मान झुकने नहीं दिया जायेगा.

Also Read: कर्पूरी ठाकुर की जयंती पर पटना में आज होंगे सियासी दलों के कार्यक्रम, राजद-जदयू और भाजपा की जानिए तैयारी..
Also Read: Karpuri Thakur Jayanti: देवीलाल ने एक मित्र से जब कहा- कर्पूरी जब पांच-दस हजार रुपये मांगें तो दे देना…
Also Read: कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न: बाबूलाल मरांडी, सरयू राय व संजय सेठ ने जताई खुशी, पीएम मोदी के प्रति जताया आभार

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

कर्पूरी ठाकुर के बाद बिहार की इन दो हस्तियों को भी मिले भारत रत्न, जीतन राम मांझी ने की मांग

जीतन राम मांझी ने बिहार की दो महान हस्तियों दशरथ मांझी और डॉ. श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो गारंटी देते हैं उसे पूरा करते हैं. केंद्र सरकार ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की घोषणा कर उनका सम्मान बढ़ाया है.

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की 100वीं जयंती (24 जनवरी) से ठीक एक दिन पहले 23 जनवरी को केंद्र सरकार ने उन्हें भारत रत्न की उपाधि देने की घोषणा की. इस ऐलान के बाद राज्य की सभी पार्टियों में इसका श्रेय लेने की होड़ मच गई है. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिये जाने का स्वागत किया है. इसके साथ ही उन्होंने राज्य की दो अन्य हस्तियों के लिए भी भारत रत्न की मांग की है.

जीतन राम मांझी ने इनके लिए की भारत रत्न की मांग

जीतन राम मांझी ने बिहार की दो महान हस्तियों दशरथ मांझी और डॉ. श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो गारंटी देते हैं उसे पूरा करते हैं. केंद्र सरकार ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की घोषणा कर उनका सम्मान बढ़ाया है. यह सिर्फ जन नेता का सम्मान नहीं बल्कि पिछड़ी जाति और जनजाति का भी सम्मान है.

मांझी ने सोशल मीडिया पर किया पोस्ट

जीतन राम मांझी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि पिछड़ों के लाल को तो भारत रत्न मिल गया अब दशरथ मांझी जी और डॉ श्री कृष्ण सिंह जी की बारी है. ‘मांझी द मांउंटेनमैन से मांझी द भारत रत्न’, एवं ‘श्री बाबू बिहार के शिल्पकार से भारत के रत्न’, मोदी है तो भरोसा है, मोदी है तो गारंटी है.


मांझी ने एक अन्य पोस्ट में लिखा कि लालू जी UPA सरकार में 10 साल थे, उस वक्त वह इतने शक्तिशाली थें कि अगर चाहतें तो खुद भी ‘भारत रत्न’ की उपाधि से सम्मानित करवा सकतें थें, पर कुछ नहीं किया. खैर मोदी हैं ना, सबका सपना पूरा होगा, पर्वत पुरुष दशरथ मांझी एवं डॉ श्रीकृष्ण सिंह भी सम्मानित होंगे क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है.

देश में वंचितों का सम्मान झुकने नहीं दिया जायेगा : मांझी

वहीं, इससे पहले कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने के ऐलान पर खुश जाहिर करते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि पार्टी ने दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन में कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का प्रस्ताव पास किया था. साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री से भी मुलाकात कर कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने की मांग की गई थी. अब केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अति पिछड़ों के मसीहा कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देकर साबित किया है कि देश में वंचितों का सम्मान झुकने नहीं दिया जायेगा.

Also Read: कर्पूरी ठाकुर की जयंती पर पटना में आज होंगे सियासी दलों के कार्यक्रम, राजद-जदयू और भाजपा की जानिए तैयारी..
Also Read: Karpuri Thakur Jayanti: देवीलाल ने एक मित्र से जब कहा- कर्पूरी जब पांच-दस हजार रुपये मांगें तो दे देना…
Also Read: कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न: बाबूलाल मरांडी, सरयू राय व संजय सेठ ने जताई खुशी, पीएम मोदी के प्रति जताया आभार

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें