14.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबिहारपटनाइंजीनियरिंग में एडमिशन के लिए NIT पटना में बनाया गया हेल्पडेस्क, कल जारी होगा फर्स्ट मेरिट लिस्ट

इंजीनियरिंग में एडमिशन के लिए NIT पटना में बनाया गया हेल्पडेस्क, कल जारी होगा फर्स्ट मेरिट लिस्ट

एनआइटी पटना और आइआइटी पटना में बीटेक नामांकन की सीटें इस बार बढ़ गयी हैं. एनआइटी पटना में 137 और आइआइटी पटना में बढ़ी हुई 33 सीटों पर एडमिशन होगा.

पटना. आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपलआइटी और जीएफटीआइ के कुल 114 इंजीनियरिंग संस्थानों के 620 से ज्यादा प्रोग्राम्स में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया बुधवार को समाप्त हो गयी है. ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (जोसा) की ओर से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही थी.

इस वर्ष एनआइटी, राउरकेला की ओर से केंद्रीयकृत सीट एलोकेशन की प्रक्रिया करायी जा रही है. सभी संस्थानों में बीटेक में सबसे ज्यादा पसंदीदा सब्जेक्ट कंप्यूटर साइंस बना रहा. स्टूडेंट्स च्वाइस फिलिंग में पहली वरीयता कंप्यूटर साइंस को दे रहे हैं. इसके बाद मेकैनिकल इंजीनियरिंग और तीसरे नंबर पर इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग है.

फर्स्ट राउंड के तहत 23 से शुरू होगा एडमिशन

एनआइटी पटना के निदेशक प्रो पीके जैन ने बताया कि जोसा से निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार को पहले राउंड की सूची प्रकाशित कर दी जायेगी. इसके बाद स्टूडेंट्स को ऑनलाइन कागजात वेरिफिकेशन करवाना होगा. फर्स्ट राउंड के तहत एडमिशन 23-26 सितंबर तक चलेगा. इसके साथ 16 अक्तूबर तक छठे राउंड के तहत एडमिशन होगा. सभी राउंड के बाद खाली सीटों का प्रकाशन 24 अक्तूबर को किया जायेगा. स्पेशल राउंड के जरिये खाली सीटों के लिए रजिस्ट्रेशन 24 अक्तूबर से शुरू कर दिया जायेगा. विशेष राउंड का आयोजन 29 अक्तूबर से छह नवंबर तक होगा. कक्षा आरंभ होने की संभावित तिथि सात नवंबर है.

देशभर भर में बनाये गये 44 सहायता केंद्र

आइआइटी, एनआइटी में एडमिशन के लिए नोडल केंद्र एनआइटी, राउरकेला की ओर से देशभर में 44 सहायता केंद्र बनाये गये हैं. इनमें एनआइटी पटना को भी केंद्र बनाया गया है. इसके अतिरिक्त अभ्यर्थी बहुभाषी हेल्प डेस्क 09124121003 पर काॅल कर सहायता प्राप्त कर सकते हैं.

पटना में 170 अधिक सीटों पर एडमिशन

एनआइटी पटना और आइआइटी पटना में बीटेक नामांकन की सीटें इस बार बढ़ गयी हैं. एनआइटी पटना में 137 और आइआइटी पटना में बढ़ी हुई 33 सीटों पर एडमिशन होगा. एनआइटी पटना में 806 से बढ़कर 944 और आइआइटी पटना में 549 से बढ़ाकर 582 सीटों पर एडमिशन होगा. एनआइटी पटना में ड्यूल डिग्री कोर्स आरंभ होने से 137 सीटें बढ़ गयी हैं.

Also Read: बिहार में जमीन के दस्तावेजों की रजिस्ट्री अब होगी आसान, खोले जाएंगे 11 नए कार्यालय
एक अप्रैल या उसके बाद का बना प्रमाणपत्र होगा मान्य

सीट आवंटन के बाद प्रमाणपत्र पीडीएफ मोड में अपलोड करने के लिए तैयार रखें. पीडीएफ का साइज 10-500 केबी के बीच होनी चाहिए. आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को एक अप्रैल, 2022 या उसके बाद का प्रमाणपत्र होना चाहिए. ऑनलाइन डाक्यूमेंट वेरिफिकेशन व फीस पेमेंट विकल्प जरूर भरें.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें