1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. corona in bihar may increase as no checking of kerala passenger corona test at patna junction skt

Patna News: बिना जांच कराये आसानी से निकल रहे केरल से आये यात्री, तैनात कर्मियों की लापरवाही पड़ सकती है भारी

पटना जंक्शन पर महाराष्ट्र से आ रहे यात्रियों की शनिवार को चेकिंग दिखी. लेकिन, इस दौरान न ही हरेक यात्री को रोका जा रहा था और न ही उनसे उनके आरटीपीसीआर या फुल डोज वैक्सीनेशन के बारे में पूछा जा रहा था. जबकि बीते गुरुवार को ऐसा करने का निर्णय लिया गया था.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
तैनात कर्मियों की लापरवाही पड़ सकती है भारी
तैनात कर्मियों की लापरवाही पड़ सकती है भारी
prabhat khabar

अनुपम कुमार: पटना जंक्शन पर महाराष्ट्र से आ रहे यात्रियों की शनिवार को चेकिंग दिखी. लेकिन, इस दौरान न ही हरेक यात्री को रोका जा रहा था और न ही उनसे उनके आरटीपीसीआर या फुल डोज वैक्सीनेशन के बारे में पूछा जा रहा था. जबकि बीते गुरुवार को ऐसा करने का निर्णय लिया गया था.

पटना जंक्शन पर तैनात कर्मियों की लापरवाही

पटना जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर एक के गेट नंबर तीन के सामने बने हॉल के बीच में लैब टेक्निशियन और एएनएम समेत तीन-चार जांचकर्ताओं की टीम कुर्सी लगा कर बैठी थी. सामने रस्सी का एक पार्टीशन लगा कर उन्होंने अपने को सामने से आती जाती यात्रियों की भीड़ से कुछ हद तक दूर कर लिया था.

गेट नंबर तीन के सामने से निकलते रहे यात्री, नहीं हुई जांच

दोपहर 11.05 बजे में लोकमान्य तिलक गुवाहाटी एक्सप्रेस के आने के बाद बड़ी संख्या में यात्री गेट नंबर तीन के सामने से निकलते दिखे. इन्हें गेट पर रोक कर कोई यह पूछने वाला नहीं दिखा कि उन्होंने निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट रखी है या नहीं और न ही यह पूछा जा रहा था कि कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ली है या नहीं. लोग तेजी से गेट से निकलकर बाहर जा रहे थे. इनमें कुछ यात्री अपनी मर्जी से जांच कराने भी आते दिखे, जिनका काउंटर पर रैपिड एंटीजन सैंपल लिया जा रहा था.

गेट नंबर दो पर नहीं दिखी कोई व्यवस्था

गेट नंबर दो पर तो मुंबई या केरल से आये यात्रियों से पूछताछ की कोई व्यवस्था दिखी ही नहीं. वहां से बड़ी संख्या में अन्य यात्रियों के साथ ही मुंबई वाली ट्रेन से आये यात्री भी बाहर निकलते दिखे. जबकि गुरुवार को पटना जंक्शन पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात करने और उनकी मदद से महाराष्ट्र और केरल से आने वाले हर रेलयात्री से पूछताछ और निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट नहीं रखने या दोनों डोज वैक्सीन नहीं लेने वाले हर यात्री की रैपिड एंटीजन टेस्ट करवाने की बात कही गयी थी.

पॉजिटिव रिपोर्टआने पर आइसोलेशन में रखने की व्यवस्था

पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर यात्रियों को पाटलिपुत्रा स्पोर्टस कांप्लेक्स में आइसोलेशन में रखने की व्यवस्था की गयी है. दानापुर स्टेशन और पाटलिपुत्र जंक्शन पर भी ऐसी ही व्यवस्था करने की बात कही गयी है.

दोनों डोज वैक्सीन लेने या निगेटिव आरटीपीसीआर वालों की जांच जरूरी नहीं

सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी से जब इस विषय में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हर यात्री को जांच करवाने की जरूरत नहीं है. केरल या महाराष्ट्र से आने वाले लोगों में भी जिन्होंने दोनों डोज वैक्सीन ले ली है या पिछले 72 घंटे के दौरान जिन्होंने अपना आरटीपीसीआर टेस्ट करवाया है और उसमें कोरोना निगेटिव आये हैं उनको जांच कराने की जरूरत नहीं है.

नहीं मिला इसका जवाब 

इस बात का जवाब नहीं मिला कि बिना यात्रियों से पूछताछ किये जांच टीम के लोग यह कैसे तय कर सकते हैं कि जो लोग बिना जांच करवाये निकल जा रहे हैं, उनमें सभी ने दोनों डोज वैक्सीन ली है या उनके पास आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें