1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. corona cases in bihar increased as hawan for corona in muzaffarpur news skt

Bihar Corona: हवन से कोरोना को भगाने में जुटे पंडित से लेकर वकील साहेब, शुद्धीकरण का दे रहे ये तर्क...

बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं लेकिन लोगों का अभी प्रयोग थमने का नाम नहीं ले रहा. मुजफ्फरपुर में हवन के जरिये कोरोना को भागने की कोशिश में लगे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हवन करते लोग
हवन करते लोग
सोशल मीडिया

बिहार में कोरोना का प्रकोप पूरी तरह फैल चुका है. सूबे का हर एक जिला कोरोना की तीसरी लहर की चपेट में आ चुका है. एक तरफ स्वास्थ्य विभाग जहां अपनी तैयारी तेज कर चुका है वहीं सरकार ने प्रदेश के लोगों को सतर्क रहने और कोविड गाइडलाइन का पालन करने की सलाह दी है. पटना समेत कई जिलों में संक्रमण दर काफी अधिक हो चुका है. एक दो नहीं बल्कि दर्जनों मरीजों की मौत भी हो चुकी है लेकिन इस बीच मुजफ्फरपुर में कुछ लोगों ने हवन-पूजन का आयोजन किया और दावा किया कि कोरोना इससे ही भागेगा.

मुजफ्फरपुर के सिकंदरपुर कुंडल में कइ लोग हवन-पूजन के लिए जुटे. ये हवन किसी और बात के लिए नहीं बल्कि कोरोना को भगाने के लिए आयोजित किया गया. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक संगठन से जुड़े कुछ लोग हवन के लिए जुटे जिसमें पंडित भी शामिल थे तो अधिवक्ता भी. सभी मिलकर हवन कर रहे हैं. ओमिक्रॉन और डेल्टा को स्वाहा करने के लिए पूरी लगन के साथ हवन कर रहे हैं. उन्हें मेडिकल साइंस पर कोई भरोसा नहीं रहा. अब जो भी उपाय होगा वो हवन से ही होगा, ऐसा उन लोगों को लगता है.

पंडित की सुनें या फिर आयोजकों की, सभी एक ही सुर में कहते नजर आए कि ये कोरोना अब मेडिकल साइंस के बूते की बात नहीं. अगर मेडिकल साइंस से इसका उपाय संभव होता तो क्या देश व विश्व तीसरी लहर के चपेट में पड़ता. दरअसल उनका मानना है कि पूजा और हवन ही इसका उपाय है. हवन से वातावरण में जो भी कीटाणु होते हैं वो मर जाते हैं. इसलिए हवन ही सही उपाय है.

इतना ही नहीं, वो अन्य लोगों से अपील भी करते हैं कि वो भी ऐसा हवन आयोजित करें और कोरोना को भगाएं. हालांकि प्रभात खबर इन अपीलों को केवल अंधविश्वास ही मानता है और कोरोना से लगातार जिस तरह हालात बिगड़ रहे हैं उसे देखते हुए लोगों को सुरक्षित रहने और कोविड गाइडलाइन्स का पालन करने की सलाह देता है.

गौरतलब है कि बिहार में लगाातर हजारों कोरोना मरीज रोज मिल रहे हैं. शुक्रवार को 6,541 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. कोरोना की पहली लहर में सक्रिय मरीजों का जो आंकड़ा था उसे पार कर बिहार में एक दिन में अधिकतम 32,716 एक्टिव मरीज शुक्रवार को हो गये. पटना के बाद मुजफ्फरपुर में ही सबसे अधिक 427 नये कोरोना पॉजिटिव शुक्रवार को मिले हैं.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें