1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. construction of new fourlane bridge over ganga in patna from october construction of kosi bridge will start in two months

''पटना में गंगा पर नये फोरलेन पुल का निर्माण अक्तूबर से, दो महीने में शुरू होगा कोसी पुल का निर्माण''

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री
नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री
सोशल मीडिया

पटना : केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को गांधी सेतु के पश्चिमी लेन के वर्चुअल लोकार्पण समारोह में घोषणा की कि पटना जिले में गंगा नदी पर करीब तीन हजार करोड़ की लागत से करीब पांच किमी लंबे फोरलेन पुल का निर्माण कराया जायेगा. इसका टेंडर इसी अगस्त में निकाला जायेगा और अक्तूबर से इसका निर्माण शुरू हो जायेगा, जिसका का मार्च, 2024 तक पूरा कर लिया जायेगा.

केंद्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से राज्य में गरीबी भुखमरी और बेरोजगारी खत्म करने के लिए मिलकर काम करने की इच्छा जतायी. साथ ही इसके लिए बिहार सरकार से प्रस्ताव मांगा. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गांधी सेतु की मरम्मत में पहली बार नयी तकनीक और इंजीनियरिंग का इस्तेमाल किया गया. इसके पिलर को बिना तोड़े इसका सुपर स्ट्रक्चर तैयार कर लिया गया. इसमें 66 हजार टन स्टील का इस्तेमाल किया गया है.

दो महीने में शुरू हो जायेगा कोसी पुल का निर्माण

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि कोसी नदी पर 1478 करोड़ रुपये की लागत से सात किमी लंबे पुल का निर्माण कार्य करीब दो महीने में शुरू हो जायेगा. इससे भागलपुर और मधेपुरा आने-जाने वालों को फायदा होगा. साथ ही नेपाल, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों से भी संपर्क जुड़ सकेगा. साथ ही विक्रमशिला सेतु के समानांतर करीब 1110 करोड़ रुपये की लागत से करीब साढ़े चार किमी लंबे पुल का निर्माण भी अगले दो महीने में शुरू हो जायेगा. उन्होंने बताया कि भोजपुर से बक्सर के बीच गंगा नदी पर बननेवाले पुल का निर्माण भी 2021 से पहले पूरा हो जायेगा. वहीं, साहेबगंज में करीब 1900 करोड़ रुपये से बनने वाले पुल का टेंडर भी अगले दो महीने में हो जायेगा. इससे कटिहार का झारखंड से सीधा संपर्क हो सकेगा.

बिहार में विकास के लिए पैसे उपलब्ध

गडकरी ने कहा कि बिहार में विकास के लिए पैसे की कमी नहीं होने दी जायेगी. उन्होंने बिहार में ग्रामीण उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार से प्रस्ताव मांगा. उन्होंने कहा कि मधुबनी पेंटिंग और लीची को विदेश भेजना चाहते हैं. गंगा में जलमार्ग का विकास पर उन्होंने जोर दिया. उन्होंने कहा कि वाराणसी से हल्दिया तक जलमार्ग विकसित कर दिया गया है. अब इसे दिल्ली से जोड़ा जायेगा. इससे लॉजिस्टिक्स पर होनेवाले खर्च में बहुत कमी आयेगी. यह खर्च सड़क मार्ग से यदि 10 रुपये पड़ता है, तो रेलमार्ग से यह खर्च छह रुपये पड़ता है. वहीं, जलमार्ग से परिवहन खर्च केवल एक रुपये पड़ता है.

गांधी सेतु का पश्चिमी लेन शुरू, पूर्वी लेन का जीर्णोद्धार अगले साल तक

महात्मा गांधी सेतु का नवनिर्मित पश्चिमी लेन शुक्रवार को जनता के लिए खोल दिया गया. इसके साथ ही केंद्र सरकार ने पुल के पूर्वी लेन की भी मरम्मत शुरू करने की घोषणा की. पूर्वी लेन को अगले साल तक तैयार कर लिया जायेगा. इसका लोकार्पण केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने नयी दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया. गंगा नदी पर 5575 मीटर की लंबाई में 1742 करोड़ की लागत से गांधी सेतु के सुपरस्ट्रक्चर का नये सिरे से निर्माण हुआ है, जो पूरी तरह स्टील का है. पुल के लोकार्पण कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना में एक अणे मार्ग स्थित नेक संवाद से वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से की.

समारोह को केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी और सीएम नीतीश कुमार के अलावा केंद्रीय मंत्री उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण रामविलास पासवान, केंद्रीय मंत्री विधि एवं न्याय, संचार, इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रोद्यौगिकी रविशंकर प्रसाद, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय राज्यमंत्री जनरल (डॉ) विजय कुमार सिंह, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, डीजी सह विशेष सचिव सड़क, परिवहन और राज मार्ग, आइके पांडेय, अपर मुख्य सचिव पथ निर्माण विभाग अमृत लाल मीणा ने भी संबोधित किया.

कार्यक्रम के दौरान मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह मौजूद थे. वहीं, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सांसद राजीव प्रताप रूडी, सांसद रामकृपाल यादव, सांसद वीणा देवी, सांसद पशुपति कुमार पारस अन्य सांसद, विधायक सहित अन्य वरीय पदाधिकारी भी उपस्थित थे.

Posted By : Kaushal Kishor

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें