31.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Bihar flood News: नेपाल से आया पानी नदियों को कर रहा बेकाबू, उत्तर बिहार में बाढ़ जैसे हालात

Bihar flood News मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया. सीएम के दौरे के बाद बाढ़ प्रबंधन और राहत कार्यों में पहले से अधिक तेजी देखी जा रही है.

Bihar flood News उत्तरी बिहार में विभिन्न स्थानों पर नदियों के उफान पर होने के कारण जन-जीवन पूरी तरह से पटरी से उतर गया है. लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. मवेशियों के लिए चारे का भी संकट पैदा होने लगा है. इसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया. सीएम के दौरे के बाद बाढ़ प्रबंधन और राहत कार्यों में पहले से अधिक तेजी देखी जा रही है. उन्होंने स्थानीय प्रशासन को प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का निर्देश भी दिया. सीएम के निर्देश पर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत शिविर स्थापित किए जा रहे हैं और आवश्यक सहायता पहुंचायी की जा रही है.

बागमती नदी में बढ़ा जल स्तर

कई नये इलाकों में पानी भर जाने से तिरहुत प्रमंडल के विभिन्न जिलों में बीते 24 घंटे में कई नए इलाकों में पानी पहुंच जाने से आवागमन प्रभावित हुआ है. जन-जीवन पटरी से उतर गया है. लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. मवेशियों के लिए चारे का संकट पैदा होने लगा है. सबसे अधिक चिंताजनक हालात पश्चिम चंपारण जिला में हैं. नेपाल से लगातार पानी छोड़े जाने के कारण वाल्मीकिनगर गंडक बराज अपनी क्षमता की अधिकतम सीमा तक भर गया है. गंडक के साथ- साथ सिकरहना नदी भी उफान पर है. भितहा के सेमरवारी पंचायत में करहिया-बसौली मुख्य मार्ग तेज बहाव में टूटने से आवागमन बाधित हो गया है. लौरिया-नरकटियागंज मार्ग पर स्थित ऐतिहासिक अशोक स्तंभ परिसर भी सोमवार की दोपहर जलमग्न हो गया. शिवहर में भी बागमती नदी के उफान पर होने के कारण कई इलाकों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. निचले इलाकों के लोग पलायन कर रहे हैं. पूर्वी चंपारण जिले में बूढ़ी गंडक नदी में पानी बढ़ने के साथ ही ग्रामीणों को आवागमन की चिंता सताने लगती है. भेलवा पंचायत के सबली गांव में करीब 1200 लोग प्रभावित हैं.

नेपाल ने कब कितना पानी आया

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नेपाल ने बीते शनिवार से अब तक करीब 22 लाख क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया गया है. इससे गंडक नदी पर बना वाल्मीकिनगर बराज पर जल स्तर उच्चतम बाढ़ स्तर 112.40 मीटर के मुकाबले 109.667 मीटर पर पहुंच गया है. बैराज से शनिवार की रात 10 बजे 3.32 लाख क्यूसेक और रात 12 बजे 3.50 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया था. रविवार सुबह दो बजे 4.12 लाख, चार बजे 4.24 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया. सोमवार को 2 लाख 70 हज़ार क्यूसेक पानी छोड़े जाने की सूचना है. नेपाल कोसी बराज से चार लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें