1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. benefits of 8 years of narendra modi govt for bihar know views of bihar bjp news skt

Modi Govt 8 Years: नरेंद्र मोदी के आठ साल का कार्यकाल बिहार के लिए कितना फायदेमंद? जानें BJP के नजरिये से

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आठ साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद बिहार के लिए केंद्र की सौगात का लेखा-जोखा अब देखा जा रहा है. बिहार भाजपा उनके कार्यकाल को बिहार के लिए कितना फायदेमंद मानती है, जानिये...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार (File Pic)
पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार (File Pic)
सोशल मीडिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल के आठ वर्ष का सफर गुरुवार को पूरा हो गया. इस दौरान भाजपा की बिहार ईकाई ने बताया कि ये सफर बिहार के लिए कितना महत्वपूर्ण रहा. उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आठ साल के कार्यकाल को बेमिसाल बताया. उन्होंने बिहार में पीएम के विशेष योगदान के साथ ही उनके कार्यकाल को भारत की वैश्विक पहचान और साख मजबूत करने वाला बताया.

केंद्र सरकार की योजनाएं

उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि विगत आठ वर्षों में डिजिटल भारत को लेकर कई योजनाएं शुरू की गयी. इस दौरान डिजिटल रुपया, यूपीआइ, आयुष्मान भारत, किसान सम्मान योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, गरीब कल्याण अन्न योजना, उज्जवला योजना, अटल पेंशन योजना, सुरक्षा बीमा योजना, जैविक कृषि को प्रोत्साहन जैसी कई योजनाओं की शुरुआत करके सर्वस्पर्शी विकास के साथ आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने की दिशा में सुदृढ़ कदम बढ़ाया है. इसके सुखद परिणाम मिल रहे हैं.

रिंग रोड निर्माण व पुलों का काम

तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि इस अवधि में पीएम का बिहार से विशेष लगाव होने की वजह से बिहार में विकास की गति को तेज करने के सुनिश्चित प्रयास हुए. बिहार में देश का सबसे लंबा पुल 2023 तक बनकर तैयार हो जायेगा. सुपौल से मधुबनी की दूरी 30 किलोमीटर तक घट जायेगी. पटना में 2996 करोड़ की लागत से समानांतर पुल का निर्माण तेजी से चल रहा है. साथ ही, पटना में 913 करोड़ रुपये की लागत से रिंग रोड निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

सड़क और पुलों का काम

भारत-नेपाल सीमा पर 1655 करोड़ की लागत से 552 किलोमीटर सड़क निर्माण का काम चल रहा है. पटना में 2926 करोड़ रुपये की लागत से गांधी सेतु के समानांतर नदी पुल का निर्माण किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि 158 साल के बाद सोन नदी पर पुल का निर्माण करा कर संपूर्ण शाहाबाद क्षेत्र को अनूठा तोहफा मिला है.

एक्सप्रेस-वे समेत इन कामों को किया जाएगा याद

बताया कि असम- दरभंगा के बीच बिहार का पहला एक्सप्रेस-वे बन रहा है. इसके अलावा दरभंगा और बिहटा एयरपोर्ट को विकसित किया जा रहा है. साथ ही, पूर्णिया, भागलपुर, रक्सौल, मुंगेर, गोपालगंज में नया एयरपोर्ट बनाने की दिशा में कदम बढ़ाया गया है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें