1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. 300 seats is going to be increased in bihar medical colleges

बिहार के मेडिकल कॉलेजों में बढ़ेंगी 300 सीटें, जानें कहां बन रहे नए मेडिकल कॉलेज

बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने सोमवार को राज्य के दो जिलों मुंगेर एवं पूर्वी चम्पारण में दो नए मेडिकल कॉलेज का प्रस्ताव पारित किया है. एक मेडिकल कॉलेज में लगभग 603.68 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. 2022-23 सत्र में इनका निर्माण किया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
social media

बिहार में मेडिकल के छात्रों के लिए खुशखबरी है. बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने सोमवार को राज्य के दो जिलों मुंगेर एवं पूर्वी चम्पारण में दो नए मेडिकल कॉलेज का प्रस्ताव पारित किया है. दोनों कॉलेज में MBBS की 150-150 सीटें होंगी. एक मेडिकल कॉलेज में लगभग 603.68 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. 2022-23 सत्र में इनका निर्माण किया जाएगा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने नालन्दा जिला के पावापुरी में स्थित सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय एवं इसके संबद्ध अस्पताल का नामकरण वर्द्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान, पावापुरी के स्थान पर भगवान महावीर आयुर्विज्ञान संस्थान, पावापुरी एवं वर्द्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान अस्पताल, पावापुरी के स्थान पर भगवान महावीर आयुर्विज्ञान संस्थान अस्पताल, पावापुरी करने की भी मंजूरी दी.

583.43 करोड़ बिहार आकस्मिकता निधि से जारी किये जाने की स्वीकृति

उन्होंने बताया कि मंत्रिपरिषद ने 18 से 59 वर्ष तक के राज्य के निवासियों (60 वर्ष एवं उससे अधिक के निवासियों को पहले से ही मान्य) को कोविड 19 के निःशुल्क एहतियाती खुराक दिये जाने के लिए कुल अनुमानित व्यय 1314.15 करोड़ रुपये की स्वीकृति के साथ 583.43 करोड़ रुपये की राशि बिहार आकस्मिकता निधि से जारी किये जाने की स्वीकृति दी है.

बूस्टर डोज के लिए कोई भी पैसा नहीं देना होगा

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार 18 से 59 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को प्राइवेट अस्पताल में पैसे दे कर कोविड वैक्सीन का तीसरा डोज लेना था. सरकारी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन के दो डोज फ्री में दी जा रही है. लेकिन अब बिहार में अब तीसरी डोज यानी बूस्टर डोज के लिए कोई भी पैसा नहीं देना होगा. उन्होंने बताया कि मंत्रिपरिषद ने सम्राट अशोक की जयंती चैत्र शुक्ल अष्टमी तिथि को सम्राट अशोक कन्वेंशन केन्द्र, पटना में राजकीय समारोह के रूप में मनाये जाने की स्वीकृति दी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें