27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Muzaffarpur News: शहर में बढ़ा बाइकर्स गैंग का आतंक, सीसीटीवी में हो रहे कैद, फिर भी नहीं हो रही पहचान

मुजफ्फरपुर शहर में इन दिनों बाइकर्स गैंग का आतंक बढ़ा हुआ है. आए दिन वारदात को अंजाम देकर फरार हो जा रहे हैं. इतना ही नहीं सीसीटीवी में कैद होने के बाद भी इनकी पहचान नहीं हो पा रही है.

Muzaffarpur News: मुजफ्फरपुर के सदर थाना क्षेत्र के रेवा रोड स्थित बाटा शोरूम के समीप बाइकर्स गैंग के अपराधियों ने मॉर्निंग वॉक करके लौट रही कांति देवी के गले से सोने की चेन व मंगलसूत्र छीन लिया. वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी पताही एयरपोर्ट की ओर फरार हो गए. उनकी तस्वीर सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गयी है. मामले को लेकर पीड़ित महिला का भतीजा देवेंद्र कुमार ने सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस इसके आधार पर मामले की छानबीन में जुट गयी है. सीसीटीवी में कैद अपराधियों को चिह्नित किया जा रहा है.

थाने में दर्ज प्राथमिकी में देवेंद्र कुमार ने बताया है कि वह रेवा रोड स्थित बाटा शो रूम के पीछे वाले मोहल्ले के रहने वाले हैं. उनकी बुआ बीते 13 जून की सुबह छह बजे मॉर्निंग वॉक करके वापस घर लौट रही थी. इस बीच बाइक सवार उनके पीछे से आया और बाइक आगे लेकर चला गया. उसकी बुआ अपने घर की ओर पैदल ही चलते हुए जा रही थी.

कुछ दूर जाने के बाद बाइक सवार दोनों अपराधी अपनी गाड़ी घुमा कर आया और चरण पादुका दुकान के समीप उसकी बुआ के गले से सोने की चेन व मंगलसूत्र झपट्टा मारकर छीन लिया . जब तक उसकी बुआ शोर मचाती तब तक दोनों अपराधी बाइक को तेजी से भागकर पताही एयरपोर्ट की ओर भाग निकले.

10 दिनों में चेन व ब्रेसलेट लूट की तीन वारदात

शहर में बाइकर्स गैंग का आतंक बढ़ गया है. पिछले 10 दिनों में सोने की चेन व ब्रासलेट लूट की तीन घटनाएं हुई. तीनों वारदात में अपराधियों की तस्वीर सीसीटीवी फुटेज में कैद हुयी. लेकिन पुलिस को अपराधियों का सुराग नहीं मिल पा रहा है. पुलिस का तर्क है कि फुटेज में अपराधियों का चेहरा स्पष्ट नहीं होने,मास्क, टोपी व हेलमेट पहनने के कारण बदमाशों को चिन्हित करने में परेशानी हो रही है. पुलिस का खुफिया तंत्र पूरी तरह से फेल नजर आ रही है. बाइकर्स गैंग के अपराधी आसानी से आते हैं, सोने की चेन व ब्रासलेट लूट व छीनकर फरार हो जाते हैं. विरोध करने पर पिस्टल निकाल कर गोली मारकर धमकी देता है.

दो महीने में एक दर्जन वारदात

अगर पिछले दो माह की बात करें तो अहियापुर, सदर, मिठनपुरा, काजीमोहम्मदपुर व नगर में चेन स्नेचिंग की करीब एक दर्जन वारदात हुए हैं. लेकिन, एक भी मामले में पुलिस चेन स्नैचर्स को गिरफ्तार नहीं कर पायी है. पूर्व में चेन छिनतई करने में जेल भेजे गए अपराधियों के नेटवर्क को भी पुलिस खंगालने में दिलचस्पी नहीं दिखा रही है. इस वजह से अपराधियों का हौसला बुलंद होता जा रहा है. वह एक के बाद एक चेन छिनतई की वारदात को अंजाम दे रहा है.

  • वारदात एक : मरीन ड्राइव पर अपराधियों ने ब्रिज इंजीनियर से बीते सात जून की सुबह चार लाख रुपये की कीमत की ब्रासलेट लूट लिया था. घटना के समय इंजीनियर न्यू एरिया सिकंदरपुर स्थित आवास से स्कूटी पर सवार होकर मछली लाने के लिए लक्ष्मी चौक जा रहे थे. इस घटना में सीसीटीवी में सफेद रंग की अपाचे बाइक सवार दो अपराधियों की तस्वीर कैद मिली थी. पुलिस की जांच में दोनों अपराधी अहियापुर से आये थे. लेकिन, अब तक उनको चिन्हित नहीं किया जा सका है.
  • वारदात दो : मिठनपुरा थाना क्षेत्र के क्लब रोड में बाइकर्स गैंग के अपराधियों ने शिक्षिका अर्पणा सिंह के गले से सोने की चेन छीन ली. इसमें पल्सर टी – 20 सवार दो अपराधियों की तस्वीर सीसीटीवी फुटेज में कैद हुई. लेकिन, तस्वीर धुंधला होने के कारण पुलिस अपराधियों को चिन्हित नहीं कर पायी है. इससे पहले सात जून को अपराधियों ने क्लब रोड में ही चलती स्कूटी पर छात्र के गले से सोने की चेन झपट ली थी. उस घटना में भी अपराधी नहीं पकड़े गए
  • वारदात तीन : सदर थाना क्षेत्र के रेवा रोड में अपराधियों ने बीते 13 जून की सुबह मॉर्निंग वॉक से लौट रही महिला के गले से सोने की चेन व मंगलसूत्र छीन लिया. इस घटना में दोनों अपराधियों की तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो गयी. मगर अपराधी दो दिन बाद भी चिन्हित नहीं हो पाए

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें