28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

ग्लोबल वार्मिंग से फसल उगाने में हो रही है समस्या

खरीफ फसल 2024-25 को लेकर कर्मशाला का किया गया आयोजन, डीएम ने किया प्रशिक्षण का उद्घाटन

लखीसराय. समाहरणालय स्थित मंत्रणा कक्ष में खरीफ फसल 2024-25 को लेकर एक दिवसीय कर्मशाला का आयोजन किया गया. कर्मशाला का उद्घाटन डीएम रजनीकांत, डीडीसी कुंदन कुमार, डीएओ राजीव कुमार, उपनिदेशक वामेती पटना डॉ संजय कुमार, आत्मा उपनिदेशक संजीव कुमार ने संयुक्त रूप से किया. कर्मशाला में डीएम ने ग्लोबल वार्मिंग पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि 90 प्रतिशत आबादी किसी न किसी तरह से कृषि से जुड़ी हुई है, लेकिन ग्लोबल वार्मिंग के चलते फसल उगाने में समस्या हो रही है. उन्होंने कहा ग्लोबल वार्मिंग से लड़ने के लिए पोखर का निर्माण कार्य, आहर पईन की मरम्मत आदि करा ग्लोबल वार्मिंग का सामना कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि जल-जीवन-हरियाली के तहत अधिक से अधिक पौधे लगाकर इसे दूर किया जा सकता है.

पराली जलाने पर जतायी चिंता :

एक दिवसीय कर्मशाला में डीएम ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि किसानों द्वारा पराली जलायी जा रही है. कृषि कर्मी पराली जलाने वाले जगह को चिन्हित करते हुए वहां के किसानों को जागरूक कर विशेष कार्रवाई करें, जिससे कि पराली जलाने की घटना की समाप्ति हो जाये.

मोटे अनाज उत्पादन पर दिया गया जोर:

एकदिवसीय कर्मशाला में डीडीसी कुंदन कुमार ने मोटे अनाज के उत्पादन पर जोर देते हुए कहा कि समाज में मोटा अनाज आने से लोगों का स्वास्थ्य सही रहेगा. उन्होंने कहा कि मोटे अनाज के उत्पादन से किसानों के साथ-साथ इसका उपयोग करने वाले लोगों को अधिक से अधिक फायदा होता है. उन्होंने कहा कि मोटा अनाज उत्पादन के लिए अधिक से अधिक क्लस्टर का निर्माण कर लक्ष्य की प्राप्ति की जाये.

डीएओ ने दी कृषि योजना की विस्तृत जानकारी:

डीएओ

ने जिला कृषि विभाग में चल रहे योजनाओं की विस्तृत रूप से सभी को जानकारी दी. उन्होंने मोटा अनाज से लेकर मिट्टी जांच संबंधित कई योजनाओं के बारे में उपस्थित लोगों को विस्तृत रूप से बताया. इसके साथ ही उनके द्वारा किसानों को अनुदान की राशि पर बीज उपलब्ध कराने को लेकर भी जानकारी दी गयी.

कर्मशाला में इन्होंने भी दी जानकारी:

कर्मशाला में उपस्थित उपनिदेशक वामेती पटना डॉ संजय कुमार केवीके हलसी के डॉ सुनील कुमार, डॉ सुधीरचंद चौधरी ने खरीफ फसल के बारे में जानकारी दी गयी. इसके साथ ही उपनिदेशक परियोजना के संजीव कुमार ने कृषि यंत्रीकरण का विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी. कर्मशाला में सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी कृषि समन्वयक किसान सलाहकार एवं अन्य कृषि कर्मी मौजूद थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें