33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

केके पाठक पर शिक्षा मंत्री ने कसा तंज, बोले- हम उनके मन में नहीं बैठे, काम में मन नहीं लगा तो दे दिया इस्तीफा

बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो चंद्रशेखर ने केके पाठक द्वारा पद से परित्याग किए जाने के बाद कहा कि हम उनके मन में हम थोड़े ही बैठे हैं. उनके मन में काम करने का मन नहीं हुआ तो वो इस्तीफा दे दिया हम क्या करें?

बिहार के चर्चित आईएएस अधिकारी के के पाठक ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव पद के कार्यभार का परित्याग कर दिया. इस संदर्भ में शिक्षा मंत्री प्रो चंद्रशेखर ने कहा कि हम उनके मन में हम थोड़े ही बैठे हैं. उनके मन में काम करने का मन नहीं हुआ तो वो इस्तीफा दे दिया हम क्या करें? उन्होंने यह बात बेगूसराय में पत्रकारों से चर्चा के दौरान गुरुवार को कही. यहां वो राजद के कार्यकर्ता संवाद सम्मेलन में भाग लेने के लिए पहुंचे थे. हालांकि यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एक आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल भी किया.

केंद्र सरकार और बीजेपी पर भी बोला हमला

इस दौरान शिक्षा मंत्री प्रो चंद्रशेखर ने केंद्र सरकार और बीजेपी पर भी जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि भगवान में सब आस्था रखते हैं. बीजेपी वाले आस्था को बेच कर भाई-भाई को लड़ाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि लालू यादव ने गरीबों को ताकत दी. पढ़ना-लिखना सिखाया. लालू यादव को परेशान किया जा रहा है.

15 से 20 लाख रुपए के झांसे में आ गए लोग : शिक्षा मंत्री

शिक्षा मंत्री ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आज किसानों, नौजवानों सभी को ठगा जा रहा है. नमक से लेकर कफन तक जीएसटी लगा दिया गया. कहा गया था कि एक माह में सभी के खाते में 15 से 20 लाख रुपया आ जायेगा, जिसके चलते लोग झांसे में आ गये.

इस मौके पर बिहार सरकार और तेजस्वी यादव की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ने 10 लाख नौकरी देने का वादा किया था. डिप्टी सीएम बनने के बाद एक साल में पांच लाख लोगों को नौकरी दी गई. 13 जनवरी को नवनियुक्त शिक्षकों को नियुूक्ति पत्र बांटा जायेगा. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में भी नौकरी की बहार आयेगी. उन्होंने कहा कि बिहार के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है.

चुनाव की तैयारियों में जुटने की शिक्षा मंत्री ने की अपील

शिक्षा मंत्री ने कार्यकर्ताओं से पार्टी संगठन को मजबूत बनाते हुए आगामी चुनाव की तैयारियों में जुटने की अपील की. उन्होंने कार्यकर्ताओं से घर-घर जाकर बिहार सरकार की उपलब्धियों को भी बताने की अपील कार्यकर्ताओं से की. इस मौके पर पार्टी के जिलाध्यक्ष मोहित यादव, प्रदेश महासचिव प्रो अशोक कुमार यादव, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष रितु जायसवाल, पूर्व विधायक उपेंद्र पासवान समेत पार्टी के अन्य नेता उपस्थित थे.

Also Read: Bihar Politics: FIR के बाद शिक्षा मंत्री के बदले बोल, खुद को बताया शबरी के जूठे बेर खाने वाले श्रीराम का भक्त

केके पाठक ने किया अपने पद का परित्याग

बता दें कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने अपने पद के प्रभार से स्वत: परित्याग कर दिया है. 1990 बैच के आइएएस अधिकारी पाठक ने इसे बात की सूचना राज्य के मुख्य सचिव, विकास आयुक्त, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव और अन्य संबंधित पदाधिकारी को अवगत करा दिया है.

पाठक ने अपनी तरफ से दिये प्रभार प्रतिवेदन में साफ कर दिया है कि उन्होंने अपने पद के प्रभार का परित्याग नौ जनवरी को सामान्य प्रशासन विभाग की तरफ से जारी अधिसूचना के आलोक किया है. खास बात है कि केके पाठक ने अपने प्रभार प्रतिवेदन में अपने को भारमुक्त पदाधिकारी के रूप में दर्ज किया है.

Also Read: केके पाठक ने न इस्तीफा दिया, न ट्रांसफर हुआ, फिर भी क्यों मचा है हंगामा? जानिए वायरल लेटर का सच
Also Read: नवादा में सर्व शिक्षा की बर्बाद हो रही किताबों पर भड़के केके पाठक, तीन प्रिंसिपल व BEO का रोका वेतन

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें