1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. cm nitish kumar again said that he not wish to chief minister of bihar after bihar election 2020 cm nitish said why he leave from jdu chief rcp singh upl

CM नीतीश ने दोहराया- नहीं बनना चाहते थे मुख्यमंत्री, बताया- क्यों छोड़ा JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
Prabhat khabar

बिहार विधानसभा चुनाव के बाद दो दिनों तक चली जदयू राष्ट्रीय संगठन की बैठकों में जदयू (JDU) नये तेवर में नजर आया. सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक में रविवार को कहा है कि उनका कोई व्यक्तिगत स्वार्थ नहीं है. वे केवल आम लोगों की सेवा करना चाहते हैं.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने स्वयं को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से मुक्त करते हुए आरसीपी सिंह को तीन साल के लिए जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा. साथ ही कहा कि उन्हें संगठन संभालने का बेहतर अनुभव है. उनके प्रस्ताव को कार्यकारिणी ने सर्वसम्मति से पास कर दिया. साथ ही राष्ट्रीय परिषद की बैठक में मुहर लगा दी गयी.

इससे पहले शनिवार को राष्ट्रीय परिषद की बैठक में देश में संगठन विस्तार सहित पश्चिम बंगाल और अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने संबंधी राजनीतिक प्रस्ताव तैयार किये गये. उन प्रस्तावों पर रविवार की बैठक में चर्चा के बाद मुहर लगी. इन बैठकों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस बार बिहार विधानसभा चुनाव परिणामों के बाद वे मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते थे, लेकिन मित्र दलों और पार्टी नेताओं के कहने पर पद स्वीकार किया.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अरुणाचल प्रदेश में ताजा राजनीतिक घटनाक्रम पर आश्चर्य व्यक्त किया. साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी अब देश भर में अपना संगठन विस्तार करेगी. अब वे सभी राज्यों में पार्टी संगठन को मजबूत करने पर ध्यान देंगे. इसके लिए अधिक समय भी देंगे. उन्होंने राज्य में सभी वर्गों के हित में समान भाव से काम किया. कई जनकल्याणकारी योजनाएं चलायी गयीं.

साथ ही सामाजिक कल्याण के लिए शराबबंदी, दहेज प्रथा और बाल विवाह विरोधी कानून बनाये गये. इन सबका सकारात्मक असर दिख रहा है. मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में बिहार विधानसभा चुनाव कुशलता पूर्वक होने सहित कोरोना संकट से लोगों को बचाने का भी जिक्र किया.

पद संभालते ही क्या बोले जदयू के नये अध्यक्ष

जदयू के नये राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी में अनुशासन महत्वपूर्ण है. पार्टी सिद्धांतों पर चलती है. ऐसे में अनुशासन तोड़ने वाले और पीठ में छुरा घोंपने वाले कतई बर्दाश्त नहीं किये जायेंगे. उन्होंने अरुणाचल प्रदेश की राजनीतिक घटनाक्रम पर भी क्षोभ व्यक्त किया. इससे पहले राष्ट्रीय परिषद की बैठक में अरुणाचल प्रदेश में जदयू विधायकों को भाजपा में जगह दिए जाने को लेकर खुलकर विरोध किया गया.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें