1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. irctc indian railways vikramshila kataria bridge news as bhagalpur to connect with koshi and simanchal area new railway junction at kahalgaon bateshwar sthan skt

Indian Raiways: रेल से अब सीधा जुड़ जायेगा भागलपुर से कोसी-सीमांचल का इलाका, जानें बटेश्वर स्थान सहित कहां बनेगा नया जंक्शन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
PRABHAT KHABAR GRAPHICS.

ब्रजेश, भागलपुर: बटेश्वरस्थान-नवगछिया के बीच नयी रेल लाइन निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. गंगा के दक्षिण में बटेश्वर स्थान में नया स्टेशन बनेगा. यह भागलपुर स्टेशन की तरह बड़ा जंक्शन होगा. गंगा के उत्तर में भी कालूचक नाम से नया स्टेशन बनेगा और इसको भी जंक्शन का दर्जा मिलेगा. गंगा नदी पर पुल सह सड़क बनेगा. पूर्व मध्य रेलवे के अधीन बनने वाला यह पुल देश के सबसे लंबे पुलों में एक होगा. इसके दोनों तरफ से रेल लाइन 'वाई' आकार की होगी. यह इसलिए कि ट्रेन परिचालन के दौरान लोको बदलना न पड़े. बटेश्वरस्थान से यह लाइन विक्रमशिला और शिवनारायणपुर स्टेशन और कालूचक से नवगछिया व कटरिया की ओर की जुड़ेगी, ताकि ट्रेनों का परिचालन आसानी से कराया जा सके.

विक्रमशिला-कटरिया के बीच नयी रेललाइन का अलाइनमेंट तय

विक्रमशिला-कटरिया के बीच नयी रेललाइन का अलाइनमेंट तय हो गया है. अब जल्द यह तय होगा कि यह लाइन कहां से निकलकर कहां तक जायेगी. किस रास्ते से जायेगी यह तय होगा. इस सिलसिले में इस्ट सेंट्रल रेलवे (इसीआर)के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी सर्वेक्षण के लिए शनिवार को कहलगांव पहुंचे थे. उन्होंने पूरे दिन अलाइनमेंट का सर्वेक्षण किया. इस दौरान यह देखा कि कहीं जमीन अधिग्रहण के वक्त किसी तरह की कोई बाधा तो नहीं आयेगी. महाप्रबंधक के साथ इसीआर के अधिकारियों समेत मालदा रेल डिवीजन के अफसर व अन्य थे.

गंगा नदी पर बनेगा रेल सह सड़क पुल

विक्रमशिला-कटरिया के बीच गंगा नदी पर रेल सह सड़क पुल का निर्माण होगा. अभी केवल रेल पुल का निर्माण कराना तय हुआ. पूरी उम्मीद के साथ अधिकारियों का कहना है कि सड़क का भी साथ में निर्माण हो सकता है. आम बजट में 839 करोड़ की राशि आवंटित हुई है. पूर्व मध्य रेलवे के अधीन बनने वाला यह पुल देश के सबसे लंबे पुलों में एक होगा. पुल पर प्रस्तावित 18 किमी नवगछिया-पीरपैंती नयी रेल लाइन बिछेगी. इसमें आठ अरब 50 लाख रुपये खर्च होंगे. सर्वे के नाम पर अबतक 57 लाख 35 हजार रुपये खर्च हो चुके हैं.

भागलपुर से कोसी-सीमांचल का इलाका रेल से सीधा जुड़ जायेगा

नया पुल बनने और नयी लाइन चालू होने के बाद भागलपुर से कोसी-सीमांचल का इलाका रेल से सीधे जुड़ जायेगा. दोनों समानांतर नयी रेल लाइन एक दूसरे से जुड़ेंगी. नयी लाइन पीरपैंती-जसीडीह रेलखंड के जरिये आसनसोल-किऊल रेलखंड से भी सीधा जुड़ जायेगा. नवगछिया-कटिहार रेल सेक्शन, भागलपुर से हावड़ा, हंसडीहा-भागलपुर-दुमका रेल लाइन और देवघर-दुमका लाइन में मिलेगी.

जंक्शन के रूप में विकसित होगा विक्रमशिला व शिवनारायणपुर स्टेशन

कई रेल रूट का एक साथ मिलन और गंगा नदी पर रेल पुल व नवगछिया-पीरपैंती नयी लाइन चालू होने से विक्रमशिला व शिवनारायणपुर जंक्शन के रूप में विकसित होगा. नयी पीरपैंती-जसीडीह रेल लाइन बिछने के बाद पीरपैंती भी जंक्शन के रूप में न केवल विकसित होगा, बल्कि यह भी बड़ा स्टेशन हो जायेगा. कोसी-सीमांचल झारखंड और पश्चिम बंगाल रूट से इस नयी लाइन का सीधा जुड़ाव हो जायेगा. पीरपैंती से एक लाइन भागलपुर की तरफ तो एक लाइन मालदा-हावड़ा रूट में मिलेगी.

बटेश्वर स्थान-नवगछिया नयी रेल लाइन का आलाइनमेंट तय

बटेश्वर स्थान-नवगछिया नयी रेल लाइन का आलाइनमेंट तय हो गया है. नयी लाइन कहां से निकलकर कहां तक जायेगी, वह जल्द ही तय हो जायेगा. गंगा के दोनों ओर बटेश्वरस्थान व कालूचक में नया स्टेशन का निर्माण होगा. दोनों को जंक्शन का दर्जा मिलेगा. गंगा नदी पर पुल बनेगा. इसके दोनों तरफ से रेल लाइन 'वाई' आकार की होगी. बटेश्वरस्थान से यह लाइन विक्रमशिला और शिवनारायणपुर स्टेशन और कालूचक से नवगछिया व कटरिया की ओर जुड़ेगी. कई रेल रूट का एक साथ मिलने से विक्रमशिला व शिवनारायणपुर एवं कटरिया व नवगछिया जंक्शन के रूप में विकसित होगा.

राजेश कुमार, सीपीआरओ

पूर्व मध्य रेलवे

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें