1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur ssp babu ram action on police station incharge in murder case skt

Bihar: हत्या मामले में थानेदार ही बन गये संदिग्ध, SSP को करने लगे गुमराह पर धरी गयी चालाकी, जानें मामला

भागलपुर के एसएसपी बाबुराम ने एक हत्यकांड मामले में थानेदार की होशियारी पकड़ ली और थानेदार की सारी चालाकी धरी रह गयी. तमाम सबूत होने के बाद भी थानेदार ने मामले में एसएसपी को गुमराह करने की कोशिश की लेकिन थानेदार की चालाकी धरी गयी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
भागलपुर के एसएसपी बाबू राम
भागलपुर के एसएसपी बाबू राम
फाइल

भागलपुर: नाथनगर के चर्चित शबनम हत्याकांड में सूचना के बावजूद 18 घंटे विलंब से पहुंचने मामले में सस्पेंड हो चुके मधुसूदनपुर के पूर्व थानेदार व वर्तमान प्रभारी थानेदार संतोष कुमार शर्मा एकबार फिर लापरवाही को लेकर चर्चा में आ गये हैं. मधुसूदनपुर के नूरपुर राजपूत टोला में मंगलवार रात पांच लाख रंगदारी नहीं देने पर आभूषण व्यवसाई कारू साह को जहां कुख्यात अपराधी मन्नुआ व उसके साथियों ने घर पर गोलीबारी की. वहीं थानेदार ने अपराधियों को पकड़ने में कोई रुचि नहीं दिखायी.

जब थानेदार ही बन गये संदिग्ध

थानेदार संतोष ने एसएसपी को घटना ही संदिग्ध करार दे दिया. मगर एसएसपी ने थानेदार की चालाकी पकड़ ली और उन्हें ही संदिग्ध मान लिया तथा मामले की जांच नाथनगर इंस्पेक्टर को करने कहा. इंस्पेक्टर जब जांच में घटनास्थल पहुंचे, तो उन्होंने मामले को सही पाया और थानेदार की बात को गलत करार दे दिया. इसके बाद एसएसपी नाराज हो गये. उन्होंने पुलिस -प्रेस के नाम से बने वाट्सअप ग्रुप में पूरे मामले की जानकारी दी.

अपराधियों की गिरफ्तारी का आदेश

एसएसपी ने ग्रुप मे लिखा है कि थानेदार ने घटना को संदिग्ध बताया था, जिसके बाद इंस्पेक्टर नाथनगर से घटनास्थल की जांच करायी गयी. इंस्पेक्टर ने घटना को सही पाया. अपराधियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है. प्रभारी एसएचओ पर आपराधिक घटना को गंभीरता से नही लेने पर पहले भी अनुशासनिक कारवाई हो चुकी है. इनका ट्रांसफर जल्द ही अन्यत्र किया जायेगा.

व्यापारियों में खौफ

उधर, व्यापारी कारू साह पर रंगदारी नहीं देने के चलते गोलीबारी करने के बाद से नाथनगर के व्यापारियों में खौफ है. व्यापारियों का कहना है कि मनुआ काफी खतरनाक अपराधी है. उसने अपनी भाई तक की हत्या कर दी थी. जब तक वो फिर से जेल नहीं चला जाता है, तब तक व्यापारी सहमे रहेंगे.

सिटी एएसपी शुभम आर्य को जांच का जिम्मा

वहीं घटना के बाद पीड़ित व्यवसायी ने थाने पहुंच कर दो नामजद मन्नू यादव व प्रिंस सिंह सहित दो अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया है. इसके बाद एसएसपी बाबूराम ने इस वारदात की जांच का जिम्मा सिटी एएसपी शुभम आर्य को सौंपा था. बुधवार को एएसपी सिटी ने घटनास्थल पहुंच कर जांच की.

सीसीटीवी में गोली चलाते दिख रहा मनुआ, फिर थानेदार को कैसे लगा मामला संदिग्ध

रंगदारी नहीं देने पर घर चढ़कर गोली मारने जैसे गंभीर अपराध को थानेदार ने बिल्कुल गंभीरता से नहीं लिया, इसका खुलासा परत दर परत हो गया. एएसपी की जांच में सीसीटीवी कैमरे में भी कुख्यात गोली चलाते दिखा है. एएसपी व नाथनगर इंस्पेक्टर ने आभूषण व्यवसायी के घर पर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की. इसमें कुख्यात मन्नू यादव गोली चलाते दिख रहा है. एएसपी सिटी की जांच में भी घटना बिल्कुल स्पष्ट हो गया. इसको लेकर एसएसपी ने मधुसूदनपुर के प्रभारी थानेदार संतोष कुमार शर्मा की कार्यशैली पर गहरा असंतोष जाहिर किया है.

Published By: Thakur Shaktilochan

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें