25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पटना में अमित शाह के साथ बैठक के लिए पूरी तैयारी कर रही नीतीश सरकार, जानिए कौन सीएम नहीं होंगे शामिल..

Amit Shah Bihar Visit: गृह मंत्री अमित शाह बिहार आने वाले हैं. पूर्वी परिषद की बैठक रविवार को होगी जिसमें अमित शाह के साथ 4 राज्यों के प्रतिनिधि शामिल होंगे. इनमें तीन राज्यों से खुद मुख्यमंत्री शरीक होंगे जबकि एक मुख्यमंत्री के बदले उनके प्रतिनिधि बैठक में हिस्सा लेंगे.

Amit Shah Bihar Visit: पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक 10 दिसंबर 2023 दिन रविवार को होने जा रही है. पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की 26 वीं बैठक पटना में आयोजित है. इस बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करेंगे. बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को शामिल होना था. हालांकि अभी यह पूरी तरह तय नहीं हो सका है कि इस बैठक में इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों में कौन खुद शिरकत करेंगे और कौन अपनी जगह अपने प्रतिनिधि को भेजेंगे. वहीं सामने आ रही जानकारी के अनुसार, एक मुख्यमंत्री के इस बैठक में शामिल होने की संभावना बेहद कम है.

गृह विभाग (कारा) में 43 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति

बिहार सरकार ने पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक के लिए बिहार प्रशासनिक सेवा के 43 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति गृह विभाग (कारा) में की है. सामान्य प्रशासन विभाग ने हाल में ही इस बाबत आदेश जारी किया था. इनमें 32 अधिकारियों को आगंतुक एवं वरीय पदाधिकारियों के साथ संपर्क पदाधिकारी के रूप में संबद्ध किया गया है. इसके लिए छह दिसंबर को प्रशिक्षण भी दिया गया. इसके अलावा 11 अधिकारियों को बैठक के सफल संचालन में सहयोग के लिए गृह विभाग (कारा) में प्रतिनियुक्त किया गया है. इसके लिए भी प्रशिक्षण आयोजित किया गया. यह पदस्थापन आयोजन की समाप्ति तक होगा.

Also Read: Bihar Weather: बिहार में अब पश्चिमी विक्षोभ से होगी कनकनी वाली ठंड की एंट्री, मौसम विभाग ने बता दी तारीख..
बैठक को लेकर बिहार सरकार की तैयारी

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की 10 दिसंबर को प्रस्तावित बैठक को लेकर पटना में तैयारियां तेज हो गयी हैं. गुरुवार को गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ एस सिद्धार्थ की अध्यक्षता में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक के आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की गयी. मुख्य सचिवालय में आयोजित इस बैठक में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक को लेकर नोडल गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के अतिरिक्त परिवहन, पुलिस, सामान्य प्रशासन सहित विभिन्न विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव एवं सचिव शामिल हुए. इस बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गयी. इनमें पुलिस महकमे के आलाधिकारियों को सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गयी. वहीं, अतिथियों के ठहरने, खाने-पीने और उनके लिए वाहन एवं प्रोटोकॉल को लेकर भी अलग-अलग विभागों के अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गयी है. शुक्रवार को भी समीक्षा की गयी.

मंत्री संजय कुमार झा की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक

जानकारी के अनुसार बैठक में अपर मुख्य सचिव डॉ सिद्धार्थ ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व पूर्वी क्षेत्रीय परिषद के सदस्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं अधिकारियों के स्वागत से लेकर उनके प्रस्थान करने तक की सभी तैयारियों की जानकारी ली. इसमें उनके लिए वाहन की उपलब्धता, सुरक्षा एवं रहने व खाने तक की व्यवस्था पहले से ही किये जाने का निर्देश दिया. सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से बताया गया कि बिहार प्रशासनिक सेवा के 43 पदाधिकारियों को परिषद के बैठक को लेकर पहले ही प्रतिनियुक्त किया जा चुका है. इन पदाधिकारियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया गया है. एजेंडे को लेकर जल संसाधन विभाग ने की समीक्षा पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक को लेकर जल संसाधन विभाग ने अपने विभागीय एजेंडे को तैयार करने के लिए समीक्षा की. विभाग के मंत्री संजय कुमार झा की अध्यक्षता में सिंचाई भवन के विभागीय सभागार में आयोजित बैठक में अधिकारियों और अभियंताओं ने सिंचाई और बाढ़ प्रबंधन योजनाओं की समीक्षा की.

ममता बनर्जी क्यों नहीं हो रहीं शामिल?

इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बैठक में खुद शामिल हो सकते हैं, ऐसी संभावना बनी हुई है. वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस बैठक का हिस्सा नहीं बन सकेंगी. इसकी जानकारी ममता बनर्जी सरकार में वित्त मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य ने दी है. ममता बनर्जी की जगह चंद्रिमा भट्टाचार्य बतौर प्रतिनिधि इस बैठक का हिस्सा बनेंगी. वो शनिवार को ही पटना पहुंचेंगी. बता दें कि ममता बनर्जी इन दिनों उत्तर बंगाल के दौरे पर हैं. उनका कार्यक्रम 12 दिसंबर तक के लिए तय है. उनकी जगह पर पश्चिम बंगाल की वित्त मंत्री इस बैठक में शामिल होंगी. वहीं उड़ीसा के सीएम नवीन पटनायक और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी इस बैठक में शामिल रहेंगे, ऐसी प्रबल संभावना है.

पश्चिम बंगाल में हुई थी पिछली बैठक, तेजस्वी यादव हुए थे शामिल

बताते चलें कि पिछले साल दिसंबर में पश्चिम बंगाल के कोलकाता में 25वीं बैठक आयोजित हुई थी. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई उस बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शामिल नहीं हुए थे. उनकी जगह उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव बतौर प्रतिनिधि गये थे. पटना में सात साल के बाद पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक हो रही है. पूर्वी क्षेत्रीय परिषद में शामिल चार राज्यों में पांच बार इसकी बैठक पटना में हुई है. इसमें 1958, 1963, 1985 और 2015 में पटना ने पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक की मेजबानी की है. क्षेत्रीय परिषद के पदेन अध्यक्ष केंद्रीय गृह मंत्री होते हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

पटना में अमित शाह के साथ बैठक के लिए पूरी तैयारी कर रही नीतीश सरकार, जानिए कौन सीएम नहीं होंगे शामिल..

Amit Shah Bihar Visit: गृह मंत्री अमित शाह बिहार आने वाले हैं. पूर्वी परिषद की बैठक रविवार को होगी जिसमें अमित शाह के साथ 4 राज्यों के प्रतिनिधि शामिल होंगे. इनमें तीन राज्यों से खुद मुख्यमंत्री शरीक होंगे जबकि एक मुख्यमंत्री के बदले उनके प्रतिनिधि बैठक में हिस्सा लेंगे.

Amit Shah Bihar Visit: पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक 10 दिसंबर 2023 दिन रविवार को होने जा रही है. पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की 26 वीं बैठक पटना में आयोजित है. इस बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करेंगे. बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को शामिल होना था. हालांकि अभी यह पूरी तरह तय नहीं हो सका है कि इस बैठक में इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों में कौन खुद शिरकत करेंगे और कौन अपनी जगह अपने प्रतिनिधि को भेजेंगे. वहीं सामने आ रही जानकारी के अनुसार, एक मुख्यमंत्री के इस बैठक में शामिल होने की संभावना बेहद कम है.

गृह विभाग (कारा) में 43 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति

बिहार सरकार ने पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक के लिए बिहार प्रशासनिक सेवा के 43 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति गृह विभाग (कारा) में की है. सामान्य प्रशासन विभाग ने हाल में ही इस बाबत आदेश जारी किया था. इनमें 32 अधिकारियों को आगंतुक एवं वरीय पदाधिकारियों के साथ संपर्क पदाधिकारी के रूप में संबद्ध किया गया है. इसके लिए छह दिसंबर को प्रशिक्षण भी दिया गया. इसके अलावा 11 अधिकारियों को बैठक के सफल संचालन में सहयोग के लिए गृह विभाग (कारा) में प्रतिनियुक्त किया गया है. इसके लिए भी प्रशिक्षण आयोजित किया गया. यह पदस्थापन आयोजन की समाप्ति तक होगा.

Also Read: Bihar Weather: बिहार में अब पश्चिमी विक्षोभ से होगी कनकनी वाली ठंड की एंट्री, मौसम विभाग ने बता दी तारीख..
बैठक को लेकर बिहार सरकार की तैयारी

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की 10 दिसंबर को प्रस्तावित बैठक को लेकर पटना में तैयारियां तेज हो गयी हैं. गुरुवार को गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ एस सिद्धार्थ की अध्यक्षता में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक के आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की गयी. मुख्य सचिवालय में आयोजित इस बैठक में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक को लेकर नोडल गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के अतिरिक्त परिवहन, पुलिस, सामान्य प्रशासन सहित विभिन्न विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव एवं सचिव शामिल हुए. इस बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गयी. इनमें पुलिस महकमे के आलाधिकारियों को सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गयी. वहीं, अतिथियों के ठहरने, खाने-पीने और उनके लिए वाहन एवं प्रोटोकॉल को लेकर भी अलग-अलग विभागों के अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गयी है. शुक्रवार को भी समीक्षा की गयी.

मंत्री संजय कुमार झा की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक

जानकारी के अनुसार बैठक में अपर मुख्य सचिव डॉ सिद्धार्थ ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व पूर्वी क्षेत्रीय परिषद के सदस्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं अधिकारियों के स्वागत से लेकर उनके प्रस्थान करने तक की सभी तैयारियों की जानकारी ली. इसमें उनके लिए वाहन की उपलब्धता, सुरक्षा एवं रहने व खाने तक की व्यवस्था पहले से ही किये जाने का निर्देश दिया. सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से बताया गया कि बिहार प्रशासनिक सेवा के 43 पदाधिकारियों को परिषद के बैठक को लेकर पहले ही प्रतिनियुक्त किया जा चुका है. इन पदाधिकारियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया गया है. एजेंडे को लेकर जल संसाधन विभाग ने की समीक्षा पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक को लेकर जल संसाधन विभाग ने अपने विभागीय एजेंडे को तैयार करने के लिए समीक्षा की. विभाग के मंत्री संजय कुमार झा की अध्यक्षता में सिंचाई भवन के विभागीय सभागार में आयोजित बैठक में अधिकारियों और अभियंताओं ने सिंचाई और बाढ़ प्रबंधन योजनाओं की समीक्षा की.

ममता बनर्जी क्यों नहीं हो रहीं शामिल?

इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बैठक में खुद शामिल हो सकते हैं, ऐसी संभावना बनी हुई है. वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस बैठक का हिस्सा नहीं बन सकेंगी. इसकी जानकारी ममता बनर्जी सरकार में वित्त मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य ने दी है. ममता बनर्जी की जगह चंद्रिमा भट्टाचार्य बतौर प्रतिनिधि इस बैठक का हिस्सा बनेंगी. वो शनिवार को ही पटना पहुंचेंगी. बता दें कि ममता बनर्जी इन दिनों उत्तर बंगाल के दौरे पर हैं. उनका कार्यक्रम 12 दिसंबर तक के लिए तय है. उनकी जगह पर पश्चिम बंगाल की वित्त मंत्री इस बैठक में शामिल होंगी. वहीं उड़ीसा के सीएम नवीन पटनायक और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी इस बैठक में शामिल रहेंगे, ऐसी प्रबल संभावना है.

पश्चिम बंगाल में हुई थी पिछली बैठक, तेजस्वी यादव हुए थे शामिल

बताते चलें कि पिछले साल दिसंबर में पश्चिम बंगाल के कोलकाता में 25वीं बैठक आयोजित हुई थी. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई उस बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शामिल नहीं हुए थे. उनकी जगह उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव बतौर प्रतिनिधि गये थे. पटना में सात साल के बाद पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक हो रही है. पूर्वी क्षेत्रीय परिषद में शामिल चार राज्यों में पांच बार इसकी बैठक पटना में हुई है. इसमें 1958, 1963, 1985 और 2015 में पटना ने पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक की मेजबानी की है. क्षेत्रीय परिषद के पदेन अध्यक्ष केंद्रीय गृह मंत्री होते हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें