1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. rohit sharma passed in his first test how many numbers out of 10 did sunil gavaskar give to captaincy aml

रोहित शर्मा अपने पहले टेस्ट में पास, महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने कप्तान को दिये 10 में से इतने नंबर

भारत ने मोहली में श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शानदार जीत दर्ज की है. पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने इस जीत के बाद रोहित शर्मा की कप्तानी की रेटिंग की है. उन्होंने रोहित शर्मा की जमकर तारीफ की और कहा कि किसी भी टेस्ट मैच को दो दिन पहले जीतना बहुत बड़ा होता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जडेजा और अश्विन के साथ कप्तान रोहित शर्मा.
जडेजा और अश्विन के साथ कप्तान रोहित शर्मा.
PTI

रोहित शर्मा रेड बॉल क्रिकेट में अपने कप्तानी करियर की इससे बेहतर शुरुआत नहीं कर सकते थे. टेस्ट कप्तान के रूप में रोहित के पहले मैच में भारत ने न केवल जीत हासिल की, बल्कि शानदार जीत हासिल की. टीम इंडिया ने मोहाली में श्रीलंका को एक पारी और 222 रनों के जोरदार अंतर से हराकर घर में 1-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली. इस बड़ी जीत के बाद, भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भारत के कप्तान के रूप में अपने पहले खेल में रोहित की कप्तानी का मूल्यांकन किया.

कप्तानी की जमकर की तारीफ

भारत की बड़ी जीत के बाद स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए सुनील गावस्कर ने रोहित शर्मा की कप्तानी को 10 में से रेटिंग देने से पहले रोहित द्वारा किये गये फील्ड प्लेसमेंट और गेंदबाजी में बदलाव की प्रशंसा करते हुए इसे स्पॉट ऑन करार दिया. उन्होंने कहा कि जिस तरह से उन्होंने टीम का नेतृत्व किया है, गेंदबाजी में बदलाव, क्षेत्ररक्षण में बदलाव किया मुझे लगता है यह बिल्कुल तुरंत किया गया था.

रोहित शर्मा की कप्तानी को 10 में से 9.5 नंबर

सुनील गावस्कर ने कहा कि मुझे लगता है कि सबसे उदासीन पर्यवेक्षक भी रोहित शर्मा को 10 में से 9.5 अंक देंगे. आधा वह है जिसे आप हमेशा अलग रखते हैं. लेकिन टेस्ट मैच में रोहित शर्मा की कप्तानी के लिए 10 में से 9.5 नंबर. महान बल्लेबाज ने आगे कहा कि यह भारतीय टीम द्वारा क्रिकेट का एक बेहतर प्रदर्शन था, जिसने दो दिनों पहले ही जीत हासिल की. महान क्रिकेटर ने रोहित की एक छोटी सी गलती की ओर भी इशारा किया और इसे नगण्य भी बताया.

तीन दिन में जीतना बड़ी बात

गावस्कर ने कहा कि उत्कृष्ट पदार्पण. क्योंकि जब आप तीन दिन के अंदर जीत जाते हैं तो यह बताता है कि आपकी टीम बेहतर कर रही है. लेकिन इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि जब आपकी टीम क्षेत्ररक्षण कर रही थी, तो गेंदबाजी में परिवर्तन होता है, क्षेत्ररक्षण में परिवर्तन होता है जो बहुत प्रभावशाली होता है. कैच ठीक वहीं जा रहे थे जहां फील्डर थे, उन्हें ज्यादा हिलना-डुलना नहीं पड़ा. इसलिए फील्ड प्लेसमेंट शानदार था.

भारत की शानदार गेंदबाजी

गावस्कर ने कहा कि गेंदबाजी भी शानदार रही. आप तर्क दे सकते हैं कि जडेजा को पहली पारी में थोड़ी देर बाद लाया गया था, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि टीम दो दिन शेष रहते जीत गयी. इसलिए वे छोटी-छोटी बातें हैं जिन्हें लोग सामने लायेंगे. दूसरा टेस्ट मैच बेंगलुरु में डे-नाइट मैच होगा और 12 मार्च से शुरू होगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें